खेती-बाड़ी की खबर, घग्गर नदी में घट रहा जलस्तर, अब पांच दिन का ही बचा पानी

जागरणसंवाददाता,सिरसा।सिरसाकीचारलाखएकड़भूमिकोसिंचितकरनेवालीघग्गरनदीसेकिसानोंकोपांचदिनहीपानीउपलब्धहोपाएगा।इसकीवजहघग्गरसेजुड़ेपहाड़ीक्षेत्रमेंबारिशकानहोनाहै।सिरसामेंहालांकिअभी16हजारक्यूसेकसेअधिकपानीबहरहाहैलेकिनएकदिनपहलेतकनदीमें18हजारक्यूसेकपानीथा।

मंगलवारसेपानीऔरअधिकघटेगाऔरउसकेबादघटताजाएगा।सिंचाईविभागकेअनुसारघग्गरसेजुड़ेक्षेत्रमेंपीछेबारिशनहींहैऔरपानीकाबहावधीरे-धीरेकमहोनेलगाहै।गुहलाचीकापरतीनहजारक्यूसेकपानीरहगयाहैजबकिपहलेयहां18हजारक्यूसेकसेअधिकपानीथा।इसकाप्रभावसिरसामेंतीसरेदिनपड़ताहै।

डेढ़दिनहीचलपाएगास्टोरेजपानी

घग्गरसेसिरसाजिलामेंदसनहरेंनिकालीगईहैंऔरओटूमेंझीलबनाईगईहै।लेकिनइसझीलकीक्षमतादोदिनपानीकेस्टोरेजकीहै।यहांएकहजारएकड़भूमिमेंछहफीटतकपानीकाभरावहोसकताहै।इससेज्यादापानीहोनेपरइसेराजस्थानकीतरफखोलनापड़ताहै।फिलहालअधिकपानीनदीमेंहोनेकेकारणराजस्थानकेसभीफाटकखोलेहुएहैं।जैसेपानीनदीमेंकमहोगातोफाटकभीबंदकिएजानेलगेंगे।प्रशासनकीप्राथमिकतासिरसाकोपानीउपलब्धकरानेकीहै।

जलकुंभीनेकियापरेशान

नदीमेंबरसातपानीकेसाथबड़ीमात्रामेंजलकुंभीआरहीहैऔरयहएकजगहएकत्रितहोकरपानीमेंरुकावटबनरहीहै।नहरविभागमैनघग्घरकीबजायउसेछोटीनहरोंकीओरशिफ्टकररहाहै।हारनीपुलकेपासप्रशासननेजेसीबीलगाईहुईहैजहांजलकुंभीकोनिकालकरबाहरफेंकाजारहाहै।यहांदिन-रातमशीनेंचलरहीहैं।यदिजलकुंभीकोननिकालाजाएगातोयहरुकावटबनकरनदीकोतोड़सकतीहै।

दोदिनमेंजलस्तरघटेगा

नहरीविभागकेअधीक्षणअभियंताएआरभांभूनेकहाकिपीछेबारिशनहोनेकेकारणघग्गरनदीकाजलस्तरकमहोनाशुरूहोगयाहै।दोदिनमेंजलस्तरघटेगा।यदिपीछेबारिशनहींहुईतोघग्गरनदीसेकेवलपांचदिनहीसिंचाईकेलिएपानीमिलपाएगा।हालांकिइसदौरानबारिशहोनेकेआसारहैं।

हिसारकीताजाखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें