खाद की किल्लत व सूखी नहरों से किसानों पर दोहरी मार

जासं,औरैया:एकओरजहांसरकारकिसानोंकोदिलखोलकरराहतदेनेकीकवायदमेंजुटीहै,वहींदूसरीओरसरकारीतंत्रइसप्रयासपरपानीफेरनेकाकामकररहाहै।समितियोंवखादबिक्रीकेकेंद्रोंपरकिसानपरेशाननजरआरहे।निजीदुकानदारोंकेहाथोंऔने-पौनेदामोंपरडीएपीखादखरीदनेकोमजबूरहै।उनकीपरेशानीकोनहरविभागऔरबढ़ारहा।नहरसूखीपड़ीहैं।किसानपंपसेटवसबमर्सिबलकेसहारेहैं।

जिलेमेंअछल्दासेप्रवेशकरतेहुएदिबियापुरसेकंचौसीहोतेहुएकानपुरदेहातकोजानेवालीनिचलीरामगंगानहरमेंनकेबराबरपानीहोनेसेइनदिनोंरजबहावमाइनरसूखेपड़ेहुएहैं।जबकिनहरसेसटेजिलेमेंसैकड़ोंगांवहै,जोकेवलसिचाईकेलिएनहरपरआश्रितहै।पानीकेअभावकेचलतेआलू,गेहूंसमेतकईअन्यफसलोंकीसिचाईकेलिएदूसरेसंसाधनोंकाप्रयोगकरनेपरवहमजबूरहोरहे।इससेलागतकीमारपड़रहीहै।दूसरीओरशहरकेदिबियापुरबाइपाससेनिकलनेवालीभोगनीपुरडिवीजनगंगानहरभीसूखीहै।

किसानोंकीपीड़ा..

नहरबंबाकोलेकरसरकारनिश्शुल्कसिचाईमुहैयाकरानेकादावाकरतीहै।लेकिनविभागीयअधिकारियोंकीमनमानीकेचलतेसमयसेपानीनहींछोड़जाताहै।

-रामसिंह,किसान

सिचाईकेसंसाधनोंपरग्रहणलगाहुआहै।सबजानतेहुएभीसिचाईविभागकेअधिकारीइसओरध्याननहींदेरहेहैं।

-सोनूशर्मा,किसान

पहलेडीएपीकीकमीथी,अबयूरियानहींमिलरहीहै।गेहूंकाअंकुरणहोचुकाहै,ऐसेमेंयूरियाकीडिमांडहै।निजीदुकानदारदामोंकोलेकरमनमानीकररहेहैं।

-सत्यप्रकाश,किसान