केतार-चटनियां जंगल में लगा है भीषण आग

केतार:परसोडीहपंचायतकेकेतार-चटनियाडैमतकफैलीजंगलमेंइनदिनोंभीषणआगलगीहुईहै।आगकीलपटसेनीम,बबूल,खैर,तेन, धवरा,सीधाआदिपेड़जलकरराखहोगए।इसजंगल मेंकभीशेरभीरहाकरतेथे।लेकिनआजसियारभीभागचुकेहैं।पहलेनारायणवनकेसमीपहिरणकोग्रामीणोंदेदेखाथा।लेकिनआगलगनेकेबादसेमाहकेअंदरछोटे-बड़ेजानवरभीभागखड़ेहुएहैं।वनविभागद्वारापंचायतस्तर परवनोंकीदेखभालकीजिम्मेदारीलोगोंकोसौंपीगईहै।लेकिनऐसेलोगभीठीकसेजंगलोंकीदेखभालनहींकरतेहैं।बतायाजारहाहैकिपत्थरतोड़नेवालेऔरमहुआचुननेवालोंनेजंगलमेंआगलगाईथी।वहआगअबविकरालहोगईहै।अगरसमयरहतेवनकोनहीबचायागयातोजंगलोंकेसाथपर्यावरणकाकाफीनुकसानपहुंचेगा।इससंबंधमेंडीएफओअशोककुमारदुबेनेबतायाकिमामलेकीजानकारीहै।परउचितसंसाधननहींरहनेकेकारणहमलोगआगपरकाबूनहीपासकेहैं।आगलगनेकेकारणोंकोपतालगायाजारहाहै।अगरकिसीखासव्यक्तिद्वाराआगलगाईतोयहबहुतबड़ाअपराधहै।ऐसेव्यक्तिकोचिन्हितकरकरवाईकीजाएगी।