केंद्र सरकार ने बिना किसानों की सलाह लिए बनाए कृषि कानून : सुखविंदर सिंह

जागरणसंवाददाता,बठिडा:सीपीआइएमकेराज्यसचिवकामरेडसुखविदरसिंहसेकहाकिकेंद्रसरकारकीनीतियोंकेकारणदेशकासंविधानखतरेमेंहै।जिसकेखिलाफअबहरएकवर्गकोएकजुटहोकरसंघर्षकरनेकीजरूरतहै।वहशुक्रवारकोअपनेदफ्तरमेंमीडियासेबातचीतकररहेथे।

उन्होंनेकहाकिभारतकीन्यायपालिकाभीकेंद्रसरकारकेअनुकूलहीकामकररहीहै।यहांतककिपिछलेसालोंमेंजोभीफैसलेहुएवहलोगविरोधीहैं।उन्होंनेआरोपलगायाकिखेतीकानूनोंकोलेकरकिसीकीभीरायनहींलीगई,जबकिइसकाविरोधकरनेवालेकीआवाजकोदबायाजारहाहै।उन्होंनेयहभीभीस्पष्टकियाकिकांग्रेसभीकेंद्रसरकारकेसाथमिलकरकामकररहीहै।उन्होंनेऐलानकियाकि26जनवरीकोसंविधानदिवसकेतौरपरगणतंत्रदिवसकोमनायाजाएगा।इसमौकेपरजिलासचिवएडवोकेटगुरुदेवसिंहबांडी,सीनियरनेतामेघनाथ,इंद्रजीतसिंह,कुलजीतपालसिंह,गुरचरणसिंहआदिउपस्थितथे।रामपुराफूल:जंगलातवर्कजयूनियनपंजाबकीबठिंडाइकाईकीओरसेमांगोकोलेकरगुरुवारसुबहवनरेंजअफसररामपुराफूलकेकार्यालयकेसमक्षरोषधरनालगायागया।जिलाध्यक्षजसपालसिंहजस्सीकीअगुआईमेंआयोजितइसधरनेमेंयूनियनकेमहासचिवजसवीरसिंहगोराविशेषतौरपरशामिलहुए।

इसदौरानजिलाध्यक्षजसपालसिंहनेकहाकिवर्कजकोसमयपरवेतननमिलनेकेकारणउनकेलिएअपनेपरिवारकापेटपालतामुश्किलहोरहाहै।इसकेअलावाउन्होंनेवर्कजकोवर्दी,बूटवकामकेलिएऔजारदेनेकेअलावाबीटतथानर्सरीमेंतुरंतनएकामचलानेकीमांगकी।धरनेमेंयूनियनकेजिलामहासचिवअमृतपालसिंह,जिलाकोषाध्यक्षजसविदरसिंहबीड़तलाब,चेयरमैनमेजरसिंहसलाबतपुरा,कर्मजीतसिंहदयोण,जसविदरसिंहगोविंदपुरा,मंगलदासमंडीकलां,गुरमीतसिंहभोरा,पप्पूसिंहनहियांवाला,सुखपालसिंह,शहणाब्लाककेअध्यक्षदर्शनसिंहखालसा,महासचिवकुलवंतसिंह,गुरमेलसिंहसिधाना,तलवंडीरेजकेअध्यक्षजसवीरसिंहजग्गा,प्रेमसिंहबीड़तलाबभीउपस्थितथे।