केबिलों के जंजाल से पटा पड़ा इस्लाम नगर

संवादसहयोगी,अजीतमल:नगरपंचायतबाबरपुरअजीतमलकेमोहल्लाइस्लामनगरमेंसमस्याओंकाअंबारहै।नतोगंदेपानीकेनिकासकीव्यवस्थाहै,नहीगलियोंमेंसफाईहीहै।सबसेअहमसमस्यागंदगीऔरविद्युतकेबिलोंकाबिछाजालहै।विद्युतपोलोंकेअभावमेंलोगबांसबल्लियांगाड़करकेबिलअपनेघरोंतकघरोंतकलेगएहैं।वहींमोहल्लेमेंस्थितपेड़ोंकोहीविद्युतपोलकारूपदेरखाहै।जोबरसातकेसमयकभीभीकरंटसेहादसेकासबबबनसकतेहैं।

वहींइसमोहल्लेकीगलियांकीचड़सेबजबजारहींहैं।लोगोंकानिकलनादूभरहोरहाहै।गन्देपानीसेसड़ांधमाररहींगलियांसंक्रमितबीमारियोंकोआमंत्रणदेतीनजरआरहीहैं।मोहल्लेकेघरोंसेनिकलनेवालेगन्देपानीकेनिकासकेलियेनगरपंचायतद्वाराकोईव्यवस्थानहींकीगईहै।बरसातकेसमययहसमस्याविकरालरूपधारणकरलेतीहै।मोहल्लेकेलोगोंनेकईबारनगरपंचायतप्रशासनवआलाअधिकारियोंसेसमस्याओंसेनिजातदिलानेकीगुहारकी।लेकिनसिर्फआश्वासनकेसिवायकुछनहंीमिला।

क्याकहतेहैंलोग-

-पूरेमोहल्लेमेंकहींकहींहीविद्युतपोलखड़ेनजरआतेहैं।मोहल्लेकेलोगोंकोपेड़ोंऔरबल्लियोंकेसहारेअपनेघरोंतकविद्युतकेबिलखींचकरलेजानीपड़तीहै।कभीभीकोईहादसाहोसकताहै।

-दुर्वेशअलीउर्फपप्पू

-सप्लाईद्वाराछोड़ाजानेवालापीनेकापानीसुबहचारबजेआताहै।वहभीसिर्फआधेघण्टेकेलिए।नहींजागपाएतोबसदूर-दूरलगेहैंडपंपोंकाहीआसरारहजाताहै।

-उलाजुद्दीनउर्फसोल्जर

-मोहल्लेमेंएकसफाईकर्मचारीनियुक्तहै।जोकभीकभीदिखाईपड़जाताहै।नालियांखुदहीसाफकरनीपड़तीहैं।नहंीतोगलियोंमेंभरापानीघरोंमेंघुसनेलगताहै।शिकायतभीकरोतोकोईसुननेवालानहींहै।

-लगताहीनहींहैकिगलीहैयाफिरनाली।कभीसाफहीनहींहोती।गन्देपानीकेगलियोंमेंभरेहोनेसेबीमारियांफैलनेकाडरलगारहताहै।पानीकानिकाससहीनहींहै।

-कीचड़भरीगलियोंसेहोकरनिकलनेमेंबच्चोंऔरबुजुर्गोंकोगिरनेकाखतरारहताहै।नगरपंचायतकेलेागआकरदेखजातेहैं।लेकिनसमस्यासमाधानकरनेवालाकोईनहींहै।

-कल्लो-एकसमस्याहोतोबताऊं।नपीनेकापानीसमयसेमिलताहै,नसफाई।सड़ांधमारतीकीचड़भरीगलियां,मच्छरोंऔरदूषितबीमारियोंसेकबघेरलेंकहानहींजासकता।

-नाजिमाक्याकहतेहैंजिम्मेदार-

मोहल्लेमेंजोभीसमस्याएंहैं।उनकोदिखवाताहू।समस्याओंकाअतिशीघ्रनिस्तारणकियाजायेगा।सफाईपरविशेषध्यानदियाजारहाहै।मोहल्लेकोस्वच्छरखनेकापूराप्रयासकियाजाएगा।

-विजयप्रताप¨सह,उपजिलाधिकारीबिधूना/ईओनगरपंचायतबाबरपुरअजीतमल