कार्तिक पूर्णिमा स्नान को हरि व हर की पावन भूमि पर आस्था का सैलाब

जागरणसंवाददाता,हाजीपुर:

कोरोनाकेसंक्रमणकेबीचहरिऔरहरकीपावनभूमिहरिहरक्षेत्रमेंश्रद्धालुओंकार्तिकपूर्णिमापरस्नानकोश्रद्धालुओंकाजुटानशुरूहोगयाहै।हालांकि,कोरोनाकेसंक्रमणकोलेकरपूर्वकेवर्षोंकीतुलनामेंइसवर्षकाफीकमसंख्यामेंश्रद्धालुआएहैं।वैसेरविवारकीसुबहसेलोगोंकाआनाशुरूहोगया।इधर,हाजीपुरएवंसोनपुरकेतमाममठ-मंदिरोंएवंनदीघाटोंपरसाधु-संतोंनेडेराडाललियाहै।भजन-कीर्तनसेपूराहरिहरक्षेत्रभक्तिमयहोगयाहै।गंगाऔरगंडकनदीकेविभिन्नघाटोंपरदेररातसेहीपवित्रस्नानशुरूहोगयाहै।लोगस्नानकरपूजा-अर्चनाकेलियेसोनपुरकेप्रसिद्धहरिहरनाथमंदिर,हाजीपुरकेपातालेश्वरनाथमंदिरसमेततमाममठ-मंदिरोंकीओरबढ़नेलगेहैं।मंदिरोंमेंभक्तोंकीअपारभीड़कोलेकरसुरक्षाकेखासइंतजामकिएगएहैं।घाटोंपरशुभसंस्कारहोरहेहैं।जिलाप्रशासननेभीसुरक्षाकोलेकरमोर्चासंभाललियाहै।कार्तिकपूर्णिमापरपहुंचनेवालेश्रद्धालुपवित्रस्नानएवंपूजा-अर्चनाकेबादसोनपुरमेलाकाभ्रमणकरतेहैं।हालांकि,इसबारसोनपुरमेलानहींलगाहै।श्रद्धालुबाबाहरिहरनाथमंदिरमेंपूजा-अर्चनाकररहेहैं।भक्तकीपुकारपरयहांपधारेथेप्रभुहरिहरक्षेत्रकाधार्मिकआख्यानहैकियहांकोनहाराघाटकेसमीपगंगा-गंडकसंगममेंगजऔरग्राहकेबीचयुद्धहुआथा।काफीबलवानहोनेकेबावजूदपानीमेंगजकमजोरपड़गया,तभीगंगानदीमेंउसेएककमलकाफूलदिखाईपड़ा।गजनेअपनेसूंढ़मेंकमलकाफूलऔरगंगाजललेकरहरिकीअराधनाकी।भक्तकीपुकारपरस्वयंहरिपधारेंऔरग्राहकावधकरगजकीप्राणरक्षाकी।प्रभुकेहाथोंमरकरजहांग्राहकोमोक्षकीप्राप्तिहोगईवहींगजकोनयाजीवनमिला।मोक्षएवंनयेजीवनकीप्राप्तिकीकामनाकोलेकरहरवर्षकार्तिकपूर्णिमापरलाखोंकीसंख्यामेंलोगहरिहरक्षेत्रसोनपुरवहाजीपुरकेतमामघाटोंपरस्नानकरतेहैं।घाटोंपरभूतझाड़नेकाभीचलरहाखेलआस्थासेजुड़ेइसपवित्रमौकपरकईऐसे²श्यघाटोंपरदिखरहेहैंजोआजकेयुगमेंलोगोंकोअचंभितकररहाहै।घाटोंपरभूतझाड़नेकाखेलचलरहाहै।शामढलतेहीघाटोंपरसार्वजनिकरूपसेयहखेलशुरूहोगयाजोअनवरतजारीहै।गांवोंसेओझाबड़ीतादादमेंयहांपहुंचेहैंऔरगंगा-गंडकसंगममेंभूतझाड़रहेहैं।अधिकतरअशिक्षितमहिलाएंओझा-गुणीकेचक्करमेंदेखीजारहीहैं।

कोरोनाकेसंक्रमणकेबीचप्रशासनमुस्तैद

कार्तिकपूर्णिमास्नानकेदौरानप्रत्येकवर्षकीभांतिइसवर्षभीश्रद्धालुओंकाभारीजुटानकीसंभावनाकोलेकरवैशालीजिलाप्रशासनमुस्तैदहै।कोरोनाकेबढ़तेसंक्रमणकोलेकरखासतौरपरइसबारप्रशासनिकइंतजामकिएगएहैं।कोरोनाकेसंक्रमणसेबचावकोलेकरप्रशासनिकस्तरपरश्रद्धालुओंसेअपीलकीजारहीहैकिघाटोंपरनहींआएं।चिताकाकारणयहहैकिडुबकीलगानेकेदौरानसंक्रमणकाखतराऔरबढ़जाताहै।मास्ककाप्रयोगकरनेएवंफिजिकलडिस्टेसिगकापालनकरनेकीअपीलकीजारहीहै।

मजिस्ट्रेटकेनेतृत्वमेंपुलिसअफसरोंकीतैनाती

कार्तिकपूर्णिमास्नानकोलेकरश्रद्धालुओंकेआनेकोलेकरवैशालीजिलाप्रशासननेमोर्चासंभाललियाहै।डीएमउदितासिंहएवंपुलिसकप्तानमनीषकेनेतृत्वमेंप्रशासनिकएवंपुलिसअधिकारीमुस्तैदहैं।पूरेशहरमेंदर्जनोंजगहोंपरवैरिकेडिगकीगईहै।वहींघाटोंपरसुरक्षाकेखासइंतजामकिएगएहैं।सभीघाटोंपरमजिस्ट्रेटएवंबलकीतैनातीकेसाथमेडिकलटीमकीतैनातीकीगईहै।प्रत्येकगतिविधिपरपैनीनजररखीजारहीहै।गंगाएवंगंडकनदीमेंनिजीनावोंकेपरिचालनपरप्रतिबंध

हाजीपुर:कार्तिकपूर्णिमास्नानकेदौरानदुर्घटनाकीआशंकाकोदेखतेहुएजिलाप्रशासननेहाजीपुरमेंगंगाएवंगंडकनदीमेंनिजीनावकेपरिचालनपररोकलगादीहै।डीएमउदितासिंहएवंएसपीमनीषकेनिर्देशकेआलोकमेंहाजीपुरसदरअनुमंडलदंडाधिकारीसंदीपशेखरप्रियदर्शीने29नवंबरकीसंध्या6बजेसे1दिसंबरकोसुबहतकसभीघाटोंपरनिजीनावकेपरिचालनपरप्रतिबंधलगादियाहै।हाजीपुरअनुमंडलन्यायालयसेजारीधारा144केतहतनिषेधाज्ञाआदेशमेंकहागयाहैकिइसवर्षकार्तिकपूर्णिमामेलाकाशुभमुहूर्त29नवंबररविवारको12.33बजेसे30नवंबरसोमवारको2.26बजेतकहै।स्नान-दानकासोमवारकोपूरेदिनशुभमुहूर्तहै।कार्तिकपूर्णिमामेलाकेअवसरपरलाखोंकीसंख्यामेंश्रद्धालुस्नानकरतेहैं।इसदौरानप्रचार-प्रसारकेबहानेनिजीनावकाइस्तेमालकियाजाताहै।इससेश्रद्धालुओंकेस्नानकरनेएवंविधि-व्यवस्थासंधारणमेंकठिनाईहोतीहै।इतनाहीनहींइंजनचालितनावोंसेभाड़ाकेउद्देश्यसेफेरीलगाकरलोगोंकोइसपारसेउसपारकरायाजाताहै।वहींभाड़ाकमानेकीहोड़मेंनावोंपरक्षमतासेअधिकलोगोंकोबैठालियाजाताहैऔरअनियंत्रितगतिसेनावोंकापरिचालनकियाजाताहै।जिससेदुर्घटनाकीआशंकाबनीरहतीहै।जीवनसुरक्षाकेमद्देनजरसभीघाटोंपरसभीतरहकेनिजीनावकापरिचालन29नवंबरकीसंध्या6बजेसे1दिसंबरकीसुबहतकसभीघाटोंपरनिजीनावोंकापरिचालनप्रतिबंधितरहेगा।