कार्रवाई के डर से दुकानदारों ने छिपाए नोटों के हार

जागरणसंवाददाता,गुरदासपुर:

शादीसमारोहसीजनकेदौरानलोगोंकोअक्सरनएनोटोंकीजरूरतरहतीहै,ऐसेमेंबैंकप्रबंधनतोआमजनताको10केनएनोटदेनेमेंआनाकानीकरताहीहै,जबकिमार्केटमेंजिनदुकानदारोंकीओरसेनएनोटोंकीकालाबाजारीकीजारहीहै।उसपरविभागकोईकार्रवाईनाकरेंइसकेलिएदुकानदारोंनेअपनीदुकानोंमेंहीनोटकेहारछिपालिएहैं।दुकानदारोंकोडरहैकिकहींविभागउनकीदुकानपरछापेमारीनाकरेंऔरअगरकोईव्यक्तिउनसेनोटकीमांगकरताहै,तोवहजानपहचानवालेव्यक्तिकोही10केनएनोटोंकीगड्डीअधिकपैसेलेकरदेतेहैं।

बतादेंकिगुरदासपुरजिलेमेंअधिकतरनिजीवसरकारीबैंकोंमेंजैसेहीदसकेनोटकीगड्डीकीमांगकीजाएतोबैंकप्रबंधनसाफमनाकरदेतेहैं।जबकिदूसरीतरफशहरकीमनिहारीकीदुकानोंपरनएनोटोंकीब्लैकजोरोंपरकीजारहीहै।इसमामलेकोलेकरगुरदासपुरकेएकबैंकमेंआएउपभोक्ताअशोककुमारनेआरबीआइकोशिकायतभीदर्जकरवाईहै।इसमेंअशोककुमारनेकहाहैकिनएनोटविभागबैंककिसव्यक्तिकोदेरहाहैउसकापूराविवरणबैंकप्रबंधनकोरखनाचाहिए।नएनोटकिसमात्रामेंआएहैंकिसलोगोंकोदिएगएहैंनोटकास्टाकखत्महैयापेंडिगहैइसकेबारेमेंजरूरलिखाजानाचाहिए,ताकिलोगोंकोआसानीसेनएकरेंसीमिलसके।अमृतसर-चंडीगढ़सेहोरहीकालाबाजारी

शहरकेकुछदुकानदारोंनेअपनानामनाछापनेकीशर्तपरबतायाकिवहअमृतसरसेनएनोटअधिकपैसेदेकरलातेहैंऔरइन्हेंगुरदासपुरमेंविवाहशादीसमारोहकेदौरानजिनलोगोंकोयहनोटचाहिएहोतेहैंउन्हेंतीनचारसौरुपयेअतिरिक्तलेकरदेतेहैं।नएनोटोंकीधरपकड़केलिएअधिकारियोंद्वारागुरदासपुरजिलेमेंअभीतककिसीभीटीमकागठननहींकियागयाहै,जिसकेचलतेऐसेदुकानदारोंकेहौसलेबुलंदहैं,वहीविभागयहभीजांचनहींकररहाहैकिआखिरबैंकोंसेबाहरदुकानोंमेंबिकनेकेलिएनोटकहांसेआरहेहैं।

नएनोटकिसकोदिएबैंकोंकेपासनहींडिटेल

बैंककेपासनएनोटोंकीकिसीसिरीजकीकौनसीगड्डीकितनीहैऔरयहनोटकिसव्यक्तिकोकितनेदिएगएहैं।इसकेबारेमेंअधिकतरबैंकोंकेपासकोईभीजानकारीनहींहै।यहांतककिबैंकप्रबंधननेइसकेलिएस्पेशलतौरपरकोईरजिस्टरमेंटेननहींकियाहुआहै,ताकियहपताचलसकेकिबार-बारबैंकसेकौनसाव्यक्तिनएनोटोंकीमांगकररहाहै।कालाबाजारीजैसीकोईबातनहींहै:जिलालीडबैंकमैनेजर

इससंबंधमेंलेकरलीडबैंककेमैनेजरराजनमल्होत्राकाकहनाहैकिगुरदासपुरमेंनएनोटोंकीकालाबाजारीजैसीकोईबातनहींहैं।होसकताहैदुकानदारदूसरेजिलोंसेनोटलाकरउसेअतिरिक्तरुपयेलेकरलोगोंकोदेतेहों।