कांवड़ पटरी से बेपटरी हुई व्यवस्थाएं

जागरणसंवाददाता,हरिद्वार:हरसालश्रावणमहीनेमेंधर्मनगरीमेंभोलेनाथकागंगाजलसेअभिषेककरनेकेलिएकईप्रदेशोंसेलाखोंकीसंख्यामेंकांवडि़एधर्मनगरीआतेहैं।17जुलाईसेप्रारंभहोरहेश्रावणमहीनेकीतेरसकोजलाभिषेककेलिएआनेवालेकांवड़ियोंकोकांवड़पटरीपरअव्यवस्थाओंसेगुजरनापड़ेगा।पिछलेसालकांवड़पटरीपरबनेदर्जनोंवाटरपोस्टसेटोटियांगायबहोगईहैं।कईस्थानोंपरपथप्रकाशकोलगाईगईट्यूबलाइटगायबहैंतोकईखराबहोचुकीहैं।वहींपथप्रकाशकेलिएलगेबिजलीकेतारभीजगह-जगहटूटकरझूलरहेहैं।वहींपटरीकेदोनोंओरझांड़ियांउगगईहैं।जिससेकांवडियोंकोआवागमनमेंपरेशानियोंकासामनाकरनापड़ेगा।

हरसालश्रावणमहीनेकीतेरसकोजलाभिषेककेलिएराजस्थान,उत्तरप्रदेश,दिल्ली,हरियाणाआदिप्रांतोंसेलाखोंकीसंख्यामेंकांवड़िएपहुंचतेहैं।इनकांवड़ियोंकीसहूलियतकेलिएपुलजटवाड़ासेलेकरशंकराचार्यचौकतकजगह-जगहवाटरपोस्टबनवाकरपेयजलकेलिएटोटियांलगवाईगईथीं।कांवड़पटरीपरप्रकाशकेलिएकईकिलोमीटरतकपोलपरतारडालेगएथे।हरसौदोसौमीटरकीदूरीपरटयूबलाइटऔरबीचबीचमेंसोडियमलाइटलगवाईगईथी।लेकिनइससमयनवाटरपोस्टमेंटोटियांहैंऔरनहीपोलपरएकभीट्यूबलाइटऔरसोडियमलाइटहै।हाईवेसेकांवड़पटरीपरवाहनोंकोरोकनेकेलिएतारबाड़लगाईगईथी।जोअबकहींनजरनहींआरहीहै।साथहीशौचालयोंकेहालातभीकिसीसेछिपेनहींहैं।पटरीकिनारेजगह-जगहगढ्डेबननेसेदुर्घटनाबननेकीसंभावनाबनीरहतीहै।पिछलेसालहुएकार्योकारखरखावनहोनेसेफिरलाखोंरूपयेकासरकारीधनबर्बादहोगा।

कांवड़पटरीपरहुएकामकीदेखरेखकार्यदायीसंस्थाओंकोकरनाहै।व्यवस्थाओंकोदेखनेकेलिएकांवड़पटरीकानिरीक्षणकियाजाएगा।यदिकांवड़पटरीपरअव्यवस्थाएंमिलतीहैंतोसंबंधितविभागकेखिलाफआवश्यककार्रवाईकीजाएगी।

दीपकरावत,जिलाधिकारी,हरिद्वार