काली के लिए अमृत बना लॉकडाउन

बुलंदशहर,जेएनएन।कोरोनासंक्रमणकेखौफकेबीचकालीनदीमेंप्रदूषणकमहोनेकीएकअच्छीखबरआईहै।कोरोनावायरसकेप्रसारकोनियंत्रितकरनेकेलिए24मार्चसेचलरहेलॉकडाउननेकालीनदीकोनयाजीवनप्रदानकियाहै।बीतेकुछदिनोंमेंबुलंदशहरमेंकालीनदीकेजलकीगुणवत्तामेंजबर्दस्तसुधारदेखागयाहै।कालीकेजलसेबदबूनहींआरहीहै।औद्योगिकउत्प्रवाहकेकालीनदीमेंनहींगिरनेकाअसरसीधेतौरपरकालीकीसेहतपरदिखनेलगाहै।

कोरोनासंक्रमणकीरोकथामऔरबचावकेलिएचलरहेलॉकडाउनमेंअधिकांशऔद्योगिकइकाइयोंकासंचालनबंदहोगयाहै।लॉकडाउनकेचलतेलोगघरोंमेंभलेहीकैदहोगएहैं,लेकिनलॉकडाउनसेकालीनदीकेजलकेशुद्धहोनेकीएकसुखदतस्वीरसामनेआईहै।कालीनदीकाजलमें35फीसदसेअधिकसाफहुआहै।औद्योगिकइकाइयोंकेबंदहोनेसेकालीनदीकाजलकाफीसाफहुआहै।पहलेइसकेजलमेंआक्सीजनकीमात्राशून्यआतीथी।हालांकि,लॉकडाउनकेचलतेप्रदूषणविभागपानीकीजांचनहींकरपारहाहै।

पहलेकालीमेंप्रदूषण

पानीमेंजैविकऔररासायनिकप्रदूषणबढ़नेपरइसेखत्मकरनेमेंपानीकीआक्सीजनघटजातीहै,जिसेबीओडीकहतेहैं।इसकीअधिकतममात्रातीनमिलीप्रतिलीटरहोनीचाहिए,लेकिनकालीमें68मिलीग्रामप्रतिलीटरमिलाथा,जोमानकसे22गुनाअधिकथा।इसकेपानीमेंआक्सीजनकीमात्राशून्यआतीरहीहै।वहीं,इसमेंकार्बनिकरसायनकेगिरनेसेपानीकारंगकालाआतारहाहै।लॉकडाउनमेंनदीकेपानीकाकालारंगसाफहोगयाहै।

लॉकडाउनकेचलतेकालीनदीकेपानीकीजांचनहींहोपारहीहै।लॉकडाउनसेपहलेकालीनदीकेपानीकीजांचप्रतिदिनकराईजातीहै।नदीकेपानीमेंआक्सीजनकीमात्राशून्यआतीथी।लॉकडाउनकेचलतेकारखानोंकेबंदहोनेसेइसमेंप्रदूषणकमहुआहोगा।कालीनदीमेंआक्सीजनकीमात्राबढ़ीहोगी।

-जीएसश्रीवास्तव,क्षेत्रीयप्रदूषणअधिकारी