जन सहभागिता से ही जल संरक्षण का अभियान होगा सफल

जागरणसंवाददाता,गुमला:गुमलाजिलाभूमिसंरक्षणपदाधिकारीआरकेकनौजियानेकहाहैकिजलसंरक्षणकोसफलबनानेकेलिएजनसहभागिताकोबढ़ावादेनाजरूरीहै।शुक्रवारकोअपनेकार्यालयमेंदैनिकजागरणसेबातचीतकरतेहुएचलरहेजलशक्तिअभियानकीचर्चाकरतेहुएकहाकिवाटरशेडसिद्धांतपरजलसंरक्षणकोबढ़ावादेनाव्यवहारिकएवंउपयोगीहोगा।कहाकिमेढ़बंदीपानीकेरोकनेमेंकारगरसाबितहोगा।बनाएगएमेढ़कीसुरक्षाकेलिएसिदवारयाथेथरकापौधरोपणकरनाजरूरीहै।उसकेपतेझड़नेसेखेतमेंखादभीबनेंगे।उन्होंनेकहाकिजमीनकेढलानकेअनुसारक्रमवारमेढ़बंदीजरूरीहोनाजरूरीहै।इसीतरहजमीनकासमतलीकरणहोनाभीजरूरीहै।पानीकोरोकनेकेलिएमिट्टीकीदीवारयापत्थरकेबड़े-बड़ेटुकड़ेडालनेकीआवश्यकताहै।उन्होंनेकहाकिजबहमगड्ढाखोदेंगेतेपानीअपनेआपजमाहोगा।यहीसिद्धांततालाबमेंहोताहै।वर्षाकेपानीकोरोकरजमीनमेंरिचार्जकरानाहीजलसंरक्षणकामुख्यउद्देश्यहै।पानीकोबहनेसेरोकनेकेलिएकामकरनापड़ेगा।इसीतरहपहाड़सेउतरनेवालेपानीकीधारामेंवेगअधिकहोताहै।इसलिएकुछदूरीपरऊंचाबांधबनानेकीजरूरतहै।साथहीबांधपरजैविकपौधरोपणआवश्यकहै।उन्होंनेचेतावनीदेतेहुएकहाकियदिअभीसेहमवाटरहार्वेस्टिगकरनाआरंभनहींकरेंगेतोझारखंडकीस्थितिराजस्थानवालीहोजाएगी।इसलिएजलकासंचयनआवश्यकहै।उन्होंनेकहाकिहमेंकिसानोंकीजमीनपरजलसंरक्षणकोबढ़ावादेनाजरूरीहैइसलिएइसअभियानमेंउन्हेंसहभागीबनानाभीजरूरीहै।