जम्‍मूू कश्‍मीर में बढ़ती सैलानियों की संख्‍या, केंद्र पर सवाल उठाने वालों पर है तमाचा

नईदिल्‍लीजागरणस्‍पेशल।जम्‍मूकश्‍मीरमेंहालातलगातारसामान्‍यहोरहेहैं।इसबातकोपाकिस्‍तानछोड़करसभीमानरहेहैं।पाकिस्‍तानकेराजनीतिकहालातऔरवहांकीसियासतभलेहीइसकोमाननेकेलिएतैयारनहोलेकिनअबइसकीसच्‍चाईसामनेआरहीहै।इसबातकीगवाहीयहांपरपहुंचनेवालेविदेशीसैला‍नीभीदीरहेहैं।दरअसल5अगस्‍तसेलेकर30सितंबरतककरीब928विदेशीसैलानीश्रीनगरअंतरराष्‍ट्रीयहवाईअड्डेपरउतरेहैं।इनलोगोंकेलिएमौजूदासमययहांआनेकेलिएसबसेअच्‍छाहै।यहआंकड़ेऔरसैलानियोंकाबयानउनलोगोंपरजबरदस्‍ततमाचाहैजोबार-बारजम्‍मूकश्‍मीरकेहालातोंकीगलतजानकारीदेकरभारतकीछविखराबकरनेकीकोशिशोंमेंलगेहुएहैं।पाकिस्‍ताननेतो अमेरिकातकमेंभीइसझूठका प्रचार-प्रसारकरनेमेंकोईकोरकसरनहींछोड़ीहै। वहींराज्‍यमेंहोरहीसेनाकीभर्तीभीइनलोगोंकोकराराजवाबहै।सेनाद्वाराकीजारहीभर्तियोंमेंराज्‍यकेसैकड़ोंयुवाबढ़-चढ़करहिस्‍सालेरहेहैं।

बढ़रहीपयर्टकोंकीसंख्‍या

पिछलेसालइसीमाहकीबातकरेंतोयहांपरआनेवालेसैलानियोंकीगिनतीकरीब9589थी।मौजूदासमयसैलानियोंकीगिनतीभलेहीकमहो,लेकिनयहबेहदखासहै। जम्‍मूकश्‍मीरसेअनुच्‍छेद370केहटानेकेबादकीबातकरेंतोआपकोयादहोगाकिकेंद्रसरकारनेइसफैसलेकोलेनेसेपहलेहीसभीसैलानियोंकोयहांसेचलेजानेकीअपीलकीथी।इसीवजहसेअगस्‍तकेशुरुआतीदसदिनोंमेंश्रीनगरमें75विदेशीसैलानीथे।लेकिनअबवक्‍तबदलरहाहै।जाहिरतौरपरइसकीवजहकेंद्रसरकारकेवोकदमहैंजोयहांपरउठाएगएहैं।इसकेबादयहांपरधीरे-धीरेसैलानियोंकीसंख्‍याबढ़तीगईहै।देसीपयर्टकोंकीसंख्‍याकीबातकरेंतो5अगस्‍तसे30सितंबरकेबीचश्रीनगरएयरपोर्टपरउतरनेवालोंकीसंख्‍या4167थी।हालांकिपिछलेवर्षसेइसकीतुलनाकरेंतोयहभलेहीकमथी,लेकिनइनकीसंख्‍याबतातीहैराज्‍यकेहालातलगातारसुधररहेहैं।पिछलेवर्षइसीअवधिमेंकरीबडेढ़लाखपयर्टकयहांपरआएथे।

बहरहाल,जम्‍मूकश्‍मीरसेअनुच्‍छेद370खत्‍मकरनेकेबादउठाएगएसभीकदमोंकाअसरअबदिखाईदेनेलगाहै।यहीवजहहैकियहांपरआनेवालेसैलानियोंकीतादादलगातारबढ़रहीहै।वहींकेंद्रसरकारनेभी BacktoValleyप्रोग्रामशुरूकियाहै।इसकेतहतकश्‍मीरकोवापसपटरीपरलानेकेअलावायहांपरपयर्टनकाऔरअधिकविकासकरनाभीशामिलहै।सरकारकीइसपहलकाअसरजम्‍मूसेलेकरलेहतकमेंदिखाईदेरहाहै।लद्दाखमेंभविष्‍यमेंबढ़नेवालेपयर्टनकेमद्देनजरइसकाढांचा तैयारकरनेकीकवायदमेंलेहकेइंजीनियरसोनमवांगचुकभीलगेहुएहैं।उन्‍हेंउम्‍मीदहैकिजम्‍मूकश्‍मीरकीसंवैधानिकस्थितिमेंहुएबदलावकेबादलेहपयर्टनकेंद्रकेतौरपरविकसितहोगा।वहलेहकोईकोट्यूरिज्‍मकेरूपमेंभीदेखरहेहैं।

पाकिस्‍तानकोजवाब

येपाकिस्‍तानकेउननेताओंकोएकजवाबभीहैजोलगातारभारतकेबारेमेंझूठफैलानेमेंलगेहैं।श्रीनगरकीहीबातकरेंतोयहांपरमाहौलजितनाशांतअबहैइतनापहलेकभीनहींरहाहै।मीडियारिपोर्ट्समेंकुछविदेशीसैलानियोंकेहवालेसेलिखाहैकिजम्‍मूकश्‍मीरआनेकेलिएयेसबसेसहीवक्‍तहै।डललेककीहाउसबोटमेंजम्‍मूकश्‍मीरकीखुशनुमावादियोंकोनिहारते51वर्षीयस्‍टीवनबैलनटीनपेशेसेटीचरहैं।वहस्‍कॉटलैंडसेयहांपरघूमनेआएहैं।

पहलेसेबेहतरहोंगेहालात

इनदिनोंजोदेसी-विदेशीसैलानीराज्‍यमेंहैंउनकामाननाहैकिकेंद्रकेसीधेनियंत्रणमेंआनेकेबादराज्‍यकेहालातपहलेसेकहींबेहतरहोजाएंगे।इनकायेभीमाननाहैकियहकदमसैलानियोंऔरयहांकेस्‍थानीयलोगोंकीसुरक्षाऔरसुविधाकेलिहाजसेभीबेहतरहोगा।यहवक्‍तसैलानियोंकेलिएइसलिएभीबेहतरहैक्‍योंकिइससमयपयर्टकोंकोसस्‍तीदरमेंअच्‍छीसुविधामिलरहीहै।पीकटाइममेंजहांहाउसबोटकाकिरायादसहजारहोताहैवहींअबयहढाईसेचारहजारकेबीचमेंआसानीसेउपलब्‍धहै।

शांतिपूर्णमाहौलऔरखेतमेंकामकरतेकिसान

बारबरास्‍ट्रॉसभीऐसेहीदूसरेविदेशीसैलानीहैंजोजर्मनीसेयहांपरआएहैं।वहयूंतोलाइब्रेरियनहैं।वहजिसहाउसबोटमेंठहरेहैंउसकानामहैस्‍वीटजरलैंड।उनकेमुताबिकयहांपरआनेकेलिएयहसमयसबसेअच्‍छाहै।इसवक्‍तनतोपयर्टकोंकीमारामारीहैऔरहीरुकनेकेलिएहोटलकीतंगी।सस्‍तीदरमेंअच्‍छीजगहरुकनेकामौकाभीहै।नतोयहांपरअबकोईहिंसाहैऔरनहीकिसीतरहकीरोकटोक।पहलेजोपत्‍थरबाजऔरसुरक्षाबलोंकेबीचसंघर्षकीखबरेंआतीथींवहभीअबखत्‍महोचुकीहैं।खेतोंमेंकिसानोंकोफसलकाटतेआसानीसेदेखाजासकताहै।सड़कोंपरघूमनेमेंअबनतोकोईडरहैऔरनहीकोईदिक्‍कत।यहकेवलदोनामनहींहैंजोविदेशसेयहांपरघूमनेआएहों,बल्किफ्रांसकेलूईसएलेक्‍सी,अमेरिकाकेरॉबिन,मलेशियाकीबिंटीशॉनबेलजियमकेहेग्‍यूबेनभीइसीफहरिस्‍तकाहिस्‍साहैं।इनकाभीमाननाहैकियहांपरपूर्वमेंहुईहिंसाऔरप्रदर्शनोंकीवजहसेराज्‍यकाविकासरुकगयाथाजोअबआगेबढ़सकेगा।

Brexitमेंजाचुकीहैदोपीएमकीकुर्सी,अबजॉनसनपरभीलटकीहैतलवार!

जानेंआखिरक्‍याहैपाकिस्‍तानकेआतंकियोंकाMoonMissionऔरक्‍याहैउनकीप्‍लानिंग

बेवजहनहींहैरक्षामंत्रीराजनाथकीचिंता,पश्चिमीतटहरलिहाजसेहैभारतकेलिएबेहदखास