जम्मू : करेला, कड़म, लौकी समेत अन्य सब्जियों के दाम चालीस रुपये से ज्यादा, दाल-रोटी खाना भी हुआ मुश्किल

जम्मू, जागरणसंवाददाता:सेब,केला,मौसमीजैसेफलोंकेअलावानीबूकेदामपरआसमानपरपहुंचगएहैं।हालतयहहैकिइससमयकेलाऔरसेबकिसीतरहआमआदमीखरीदसकताहै,लेकिननीबूखरीदनाउसकेबसकीबातनहींरही।इसकीवजहयहहैकिइससमयनीबूदो-ढाईसौरुपयेमेंबिकरहाहै।वहीं,सब्जियोंकेदामभीआसमानछूरहेहैं।इससमयगोभी,कड़मआदिसब्जियोंकेदामचालीसरुपयेपारकरगएहैं।नवरात्रमेंफलोंकेमहंगाहोनेसेव्रतरखनेवालीगरीबघरोंकीमहिलाएंआलूसेकामचलारहीहैं।

इससमयतरबूजबाजारमेंआगयाहैजो50रुपयेकिलोबिकरहाहै।पपीताकाभीयहीदामहै।कश्मीरऔरहिमाचलकासेब140-180रुपयेकिलोबिकरहाहै,जिसेखरीदनाआमघरोंकीमहिलाओंकेलिएसंभवनहींहै।अंगूरऔरसंतरा100रुपयेकिलोबिकरहाहै।वहीं,इससमयइनमीठेफलोंकेमुकाबलेखट्टानीबूसबसेमहंगाहै।यह250रुपयेकिलोबिकरहाहै।

सब्जियोंमेंआलू,प्याज,बंदगोभीकोछोड़करसभीसब्जियां50रुपयेपारहैं।बैंगनजोअक्सर20-30रुपयेमेंमिलजायाकरताथा,अब50-60रुपयेकिलोमेंबिकरहाहै।टमाटर40-50रुपयेकिलोहै,तोभिंडीवफलियां100रुपयेकिलोबिकरहीहैं।सतवारीनिवासीसुदेशकुमारीकाकहनाहैकिएकदिहाड़ीलगानेवालेकेलिएअबसब्जियांखरीदनासंभवनहींहै।आलूबीसरुपयेकिलोहै।ऐसेमेंइसीकीसब्जीखाईजारहीहै।तेलबहुतमहंगाहोनेसेकईबारइसकोउबालकरमिर्चप्याजकेसाथलोगचोखेकेरूपमेंखारहेहैं।

चोखेमेंअबबैगनभीनहींमिलासकते,क्योंकिवहपचासरुपयेसेज्यादादामपरमिलरहाहै।वहीं,जानीपुरकेसंजीवसिंहकाकहनाहैकिआमआदमीकेलिएसंकटभरासमयहै।सरकारकोचाहिएकिफलोंवसब्जियोंकेदामपरअंकुशलगाए।मैंतोकहताहूंकिवाजिबदामपरसब्जियांदिलानेकेलिएसरकारीसेंटरहोनेचाहिए।पहलेआदमीदाल-रोटीखालेताथा,लेकिनअबदालभीबहुतमहंगीहै।

ऐसेमेंएकमजदूरकापरिवारकैसेगुजरबसरकरपाएगा।सरकारकोतुरंतमहंगाईपरलगामलगानीचाहिए।वहीं,नरवालफलवसब्जीमंडीकेव्यापारीराजकुमारराजाकाकहनाहैकिचीजोंकेदाममेंहल्कीगिरावटशुरूहोचुकीहै।आम,अंगूरआनेवालेदिनोंमेंबहुतायतमेंआएगा।ऐसेमेंदामकमहोंगे।अगले10दिनमेंदाममेंगिरावटआनीशुरूहोजाएगी।

प्रतिकिलोफलकेदाम(रुपयेमें)

प्रतिकिलोसब्जीकेदाम(रुपयेमें)