जलकर विवाद: खूनी संघर्ष की सुगबुगाहट

खगड़िया।जिलेकेकोसी-बागमतीनदीकीगोदमेंबसेबेलदौरप्रखंडकेहजारोंएकड़जमीनमेंजलकरबनाहै।इसेलेकरविवादगहरागयाहै।किसानोंऔरमछुआरोंकेबीचखूनीसंघर्षकेआसारहैं।मछुआरोंकेअनुसारजलकरोंकीबंदोबस्तीमत्स्यजीवीसहयोगसमितिकेनामसेअथवाइससेजुड़ेलोगोंकेनामसेहोतीहै।परंतु,मछलीकिसानमाररहेहैं।वर्ष2012सेहीयहस्थितिहै।इनजलकरोंमें50एकड़काश्मसानीजलकर,पांचकिलोमीटरलंबापीरनगराड्रेनेजनालाआदिशामिलहैं।

बतातेचलेंकिबेलदौरप्रखंडमेंप्रत्येकवर्षकोसीबाढ़लेकरआतीहै।बाढ़केसमाप्तहोतेहीजमीनएवंजलकरपरआधिपत्यजमानेकोलेकरबंदूकेंगरजनेलगतीहै।इसवर्षभीप्रखंडक्षेत्रमेंभीषणबाढ़आई।बाढ़कापानीनिकलतेहीजलकरोंपरआधिपत्यजमानेकेलिएखूनीसंघर्षकीसुगबुगाहटशुरूहोगईहै।एकओरमछुआजातिकेउत्थानकोलेकरसरकारविभिन्नतरहकीकल्याणकारीयोजनाएंचलारहीहै,दूसरीओरमत्स्यजीवीसहयोगसमितिसेजलकरोंकेलिएप्रत्येकवर्षराजस्वकीमोटीवसूलीकीजातीहै।वहीं,जलकरोंपररैयतोंएवंदबंगोंद्वाराकब्जाजमानेसेमछुआरेवहांजानेसेपरहेजकरतेहैं।ऐसेमेंजलकरविवादकेनिदानकोलेकरप्रशासनजल्दसेजल्दकदमनहींउठातीहैतोएकबारफिरजलकरोंकोलेकरखूनीसंघर्षसेइनकारनहींकियाजासकता।इसेलेकरबेलदौरप्रखंडमत्स्यजीवीसहयोगसमितिकेमंत्रीराजेशकुमारनेअंचलाधिकारीऔरथानाध्यक्षकोआवेदनदेकरबेदखलजलकरोंपरदखलदिलानेकीगुहारलगाईहै।

जरामत्स्यजीवीसहयोगसमितिकेमंत्रीराजेशकुमारकीसुनें

बेदखलकईजलकरोंकाकरीबदसवर्षसेलगानरसीदकटातेआरहेहैं।लेकिनदखलदिलानेकेलिएप्रशासनकोईकदमनहींउठारहीहै।उन्होंनेबतायाकिइसवित्तीयवर्षमेंभीजिलामत्स्यपदाधिकारीकेपासजलकरकालगानरसीदकटवानेकेबादपरवानानिर्गतकियागया।जिसकापहलाफी25जुलाई2017कोएकलाख,1166रुपयेजमाकरचुकेहैं।बावजूदकईजलकरोंसेबेदखलचलरहेहैं।

इधर,सीओविकासकुमारनेकहाकिबेदखलजलकरोंपरदखलदिलानेकेलिएआवेदनप्राप्तहुआहै।आवेदनकेआलोकमेंकार्रवाईकीजारहीहै।