जिले में नहरी पानी आने से भू जल स्तर में हुआ सुधार, चार ब्लाक में भूजल स्तर में हुई गिरावट

प्रेमप्रकाशशर्मा,नारनौल:जिलामेंभूजलस्तरमेंलगातारसुधारहोरहाहै।सिचाईविभागकेआंकड़ोंकेअनुसारजिलामेंआठब्लाकोंमेंसेचारब्लाककोछोड़दियाजाएतोशेषब्लाकमेंजलस्तरमेंसुधारहुआहै।इससेनकेवलजिलामेंलोगोंकोआसानीसेपीनेकापानीमुहैयाहोपारहाहै,बल्किसिचाईकेलिएपानीभीउपलब्धहोपाएगा।वर्ष2010से2021तककेभूमिगतजलस्तरकाआंकलनकियागयातोयहस्थितिसामनेआईहै।इसअवधिकेदौरानकनीना,नांगलचौधरी,नारनौल,सिहमाऔरनिजामपुरमेंभूजलस्तरमेंएकसे13मीटरतकऊपरआयाहै।ऐसेमेंकरीब11वर्षोंमेंपानीकाजलस्तरमेंबढ़ोतरीहोनाअपनेआपमेंसुखदबातहै।हालांकिबीते11सालमेंमहेंद्रगढ़मेंसात,सतनालीमेंआठऔरअटेलीमेंकरीब13मीटरभूजलस्तरमेंगिरावटदर्जकीगईहै।

यहांगौरकरनेवालीबातयहहैकिसबसेज्यादाविकरालस्थितिनांगलचौधरीब्लाकमेंहोतीथी,वहींवर्तमानमेंइसब्लाकमें3.88मीटरसुधारहुआहै।

स्याणामें9.31तोनिहालावासमें112.8मीटरपहुंचाभूजलस्तर:

जिलामेंभूजलस्तरकोलेकरअनियमितताबनीहुईहै।जिलामेंकहींपीनेयोग्यपानीभीउपलब्धनहींहैतोकहींनहरीपानीआनेसेभूजलस्तरमेंकाफीसुधारहुआहै।हालांकिमहेंद्रगढ़ब्लाककेगांवस्याणामेंभूजलस्तरऊपरहोनेकाएककारणयहभीहैकियहांकेपानीकीगुणवत्ताकाफीखराबहै।इसपानीकाउपयोगनतोपीनेमेंऔरनहीसिचाईमेंउपयोगमेंलायाजाताहै।वहींनिहालावासमेंनहरीपानीनहींपहुंचनेसेलगातारजलस्तरमेंगिरावटदर्जकीजारहीहै।जिलामेंनिहालावासमें112.8मीटरऔरस्याणागांवमें9.31मीटरतकभूजलस्तरदर्जकियागयाहै।

चारकरोड़पांचलाखमेंबनेंगेतीनचेकडेम:

नांगलचौधरीब्लाककेनायन,नियामतपुरऔरलुजोतागांवमेंचेकडेमबननेकेलिएचारकरोड़पांचलाखरुपयेपासहुएहैं।इससेतीनगांवोंमेंचेकडेमबननेसेआसपासकेगांवोंमेंभीजलस्तरमेंसुधारहोगा।वहींजिलामेंभूजलसुधारकेलिए630लाखरुपयेकाबजटभीमिलाहै।

अटेलीमें12.17भूजलस्तरमेंगिरावटतोनारनौलमें14.37मीटरभूजलस्तरमेंहुआसुधार:

जिलामेंआठब्लाकमेंसेअटेलीकाजलस्तरसबसेनीचेहै।वहींकनीनामेंसाल2010सेअबतक0.79मीटर,अटेलीमें12.17मीटर,महेंद्रगढ़में7़.28मीटरऔरसतनालीमें7.56मीटरभूजलस्तरमेंगिरावटहुईहै।वहींनांगलचौधरीमें3.88मीटर,नारनौलमें14.37मीटर,सीहमामें1.54औरनिजामपुरमें5.01मीटरभूजलस्तरमेंबढ़ोतरीहुईहै।बीतेदससालमेंजिलामेंआठब्लाकोंमेंसेचारब्लाकमेंजलस्तरमेंसुधारहुआतोचारमेंगिरावटदर्जकीगईहै।

जिलामेंनहरीपानीआनेसेभीहुआजलस्तरमेंसुधार:

जहांजिलाकोसरकारनेडार्कजोनघोषितकियाहै।लेकिनअबजिलामेंनहरकापानीलगातारआनेसेभूजलस्तरमेंभीसुधारहोरहाहै।इसकेसाथक्षेत्रमेंछोटे-छोटेबांधबननेसेभीकाफीफायदाहुआहै।सरकारकीविभिन्नयोजनाओंकेतहतकिसानवगांवोंमेंबरसातकेपानीकोसंचयनभीकियाजारहाहै।

जिलामेंभूजलस्तरमेंसुधारकेलिएचेकडैमबनाकरबरसातीपानीकोएकत्रितकियाजारहाहै।जिससेजिलामेंगिरतेभूजलस्तरकोऊपरउठायाजासके।वहींगांवोंमेंसर्वकरप्रत्येकगांवकेपानीकीगुणवत्ताकीजांचकीजारहीहै।

--एक्सईएननितिनभार्गव,सिचाईएवंजलसंसाधनविभागनारनौल।-------

ब्लाकसाल2010साल2020साल2021अटेली60.9272.1573.9कनीना31.930.9231.88महेंद्रगढ़43.848.8350.36नांगलचौधरी44.2344.7140.35नारनौल65.950.350.72सीहमा41.7940.2140.25निजामपुर37.132.7632.6सतनाली58.5664.4766.9