जिला अस्पताल में सुधरने लगी स्वास्थ्य सेवाएं

सिद्धार्थनगर:माधवप्रसादत्रिपाठीचिकित्सामहाविद्यालयकेशुभारंभकेबादजिलाअस्पतालमेंस्वास्थ्यसेवाएंसुधरनेलगीहैं।इसकाअसरओपीडी,इमरजेंसीमेंदिखनेलगीहै।मेडिकलकालेजकेचिकित्सकयहांमरीजोंकोनियमितदेखनेलगेहैं।पहलेजहांओपीडीकेएककमरेमेंएकचिकित्सकमरीजोंकोदेखतेथे,वहींअबइनकीसंख्यातीनसेचारतकपहुंचगईहै।जरूरतकीदवाओंकीडिमांडभीस्टोरसेहोनेलगीहै।मरीजोंकीसंख्याभीबढ़ीहै।पहलेओपीडीसातसेआठसौतकप्रतिदिनथी,यहअबबढ़करएकहजारकेपारपहुंचगईहै।आपरेशनकीसंख्यामेंभीइजाफाहुआहै।

मेडिकलकालेजकासंचालनशुरूहोचुकाहै।जिलाअस्पतालकोतीनवर्षकेलिएमेडिकलकालेजमेंमर्जकियाजाचुकाहै।सभीचिकित्सकएवंपैरामेडिकलस्टाफमेडिकलकालेजकेअधीनहै।कालेजमेंअबतक27संकायसदस्यों,49जूनियरऔरपांचसीनियररेजीडेंटकीतैनातीहोचुकीहै।सभीअपनीसेवाएंइमरजेंसीऔरओपीडीमेंदेनेलगेहैं।लाइब्रेरी,लैब,हास्टलआदिभवननिर्माणकाकार्यभीपूराहोनेकोहै।95फीसदतकहोचुकाहै।

इतनेहोचुकेहैंआपरेशन

पिछलेमाहमेंकुल452आपरेशनकियागयाहै।इनमें264मेजर188माइनरशामिलहै।वहींइसमाहमें8तारीखतक12आपरेशनहुएहैं।इनमेंचारमेजरएवंआठआपरेशनकिएगएहैं।माधवप्रसादत्रिपाठीचिकित्सामहाविद्यालयसिद्धार्थनगरकेप्राचार्यडा.सलिलकुमारश्रीवास्तवकाकहनाहैकिओपीडीमेंमरीजोंकीसंख्याबढ़ीहै।आपरेशनकीसंख्यामेंइजाफाहुआहै।जल्दहीएमसीएचविगभीचालूहोजाएगा।इसकेपश्चातमहिलाओंएवंबच्चोंकोऔरबेहतरइलाजमिलसकेगा।