जीवनदान के लिए रक्तदान जरूरी

औरंगाबाद।नवीनगरकेजयपुरगांवनिवासी60वर्षीयप्रमिलादेवीबुधवारकोसदरअस्पतालमेंइलाजकरानेपहुंची।ठीकतरीकेसेचलनहींपारहीथी।उन्होंनेजबचिकित्सककोदिखायातोचिकित्सकनेखूनमेंहीमोग्लोबिनकीकमीबताई।बतायाकिआपकेशरीरमेंपांचग्रामहीमोग्लोबिनहै।खूनचढ़ानापड़ेगा।महिलानेआनन-फाननमेंअपनेगांवकेहीशिक्षकअशोकपांडेयकोफोनकियाऔरखूनउपलब्धकरानेकीगुहारलगाई।शिक्षकनेतुरंतअस्पतालपहुंचत्वरितमहिलाकोरक्तदानकिया।महिलाकोरक्तचढ़वाया।वहींसिन्हाकालेजकेसचिवअमितकुमारनेअपनेजन्मदिनपररक्तदानकिया।शिक्षकनेकहाकिजीवनदानकेलिएरक्तदानजरूरीहै।दोबूंदखूनकिसीकि¨जदगीबचासकतीहै।कहाकिहमारेयहांकेयुवारक्तदानकेप्रतिजागरूकहैं।ससमयशिविरलगाकररक्तदानकरतेरहतेहैं।कईसंगठनभीरक्तदानकेप्रतिजागरूकहैं।रेडक्रॉसमरीजोंकेलिएभगवानसाबितहोरहाहै।अमितकीप्रशंसाकरतेहुएकहाकिलोगअपनीप्यारकेलिएअपनानसकाटलेरहेहैं।खुदबर्बादकररहेहैंपरंतुअमितनेअपनेजन्मदिनपरजश्नमनानेकेबजाएरक्तदानकिया।