जींद के अजय बिसला बने सेना में लेफ्टिनेंट

जागरणसंवाददाता,जींद:सावित्रीनगरनिवासीअजयबिसलाकाचयनसेनामेंलेफ्टिनेंटकेपदपरहुआहै।देहरादूनमेंभारतीयसैन्यअकादमीकीपासिगआउटपरेडमेंदेशको425कैडेट्सबतौरलेफ्टिनेंटपासआउटहुएहैं।इनमेंसेजींदकेसावित्रीनगरनिवासीअजयबिसलाभीहैं।फिलहालवोवायुसेनामेंएयरमैनकेपदपरअपनीसेवाएंदेरहेथे।

अजयबिसलानेअपनेलक्ष्यकोहासिलकरनेकेलिएदिन-रातमेहनतकीऔरदोबारएनडीएकीपरीक्षादीथी।लेकिनवोसफलनहींहोपाए।उन्होंनेहारनहींमानीऔरपहलेसेभीज्यादातैयारीकी।तीसरीबारएसीसी(आर्मीकैडेटकालेजएग्जामिनेशन)कीपरीक्षाउत्तीर्णकी।देहरादूनमेंट्रेनिगशुरूहुईऔरवोलेफ्टिनेंटबनगएहैं।अजयबिसलाबेहदहीसाधारणपरिवारसेसंबंधरखतेहैं।उनकेपिताअनिलबिसलाकिसानऔरमांग्रहणीहैं।उन्होंने10वींकीपरीक्षाजवाहरलालनेहरूस्कूलव12वींकीपरीक्षामोतीलालस्कूलसेपासकीथी।इसकेबादउनकाचयनएयरफोर्समेंएयरमैनकेपदपरहुआ।नौकरीकेसाथ-साथउन्होंनेअपनीपढ़ाईजारीरखी।इसीबीचउनकीशादीविशाखासेहुई।अजयबिसलानेबतायाकिवोदेशकेलिएकुछकरनाचाहतेहैं।इसीसपनेकोपूराकरनेकेलिएउन्होंनेलगातार11सालतकमेहनतकी।एनडीएकीपरीक्षापासकरउन्होंनेइसमुकामकोहासिलकियाहै।उनकेसपनेकोसाकारकरनेमेंउनकेमाता-पिता,भाई-बहनोंऔरपत्नीविशाखानेपूरासहयोगदिया।उन्होंनेकहाकिहरयुवककोकामयाबीकेलिएमेहनतकरनीचाहिए।