जानिए- क्या है मरीन आर्कियोलॉजी और कैसे बनाएं इसमें करियर

नईदिल्ली,जेएनएन।भारतकाशानदारसमुद्रीइतिहासरहाहै।समय-समयपरइसकेगर्भसेप्राचीनअमूल्यधरोहरेंवपुरावशेषमिलतेरहेहैं,जैसेकिकुछवर्षपहलेनेशनलइंस्टीट्यूटऑफओसियनोग्राफीकोगुजरातकेकाठियावाड़क्षेत्रमेंअरबसागरकेअंदरप्राचीनद्वारकाकेअवशेषप्राप्तहुएथे।अबजल्दहीकेंद्रसरकारगुजरातकेसौराष्ट्रतटकेसमीपलोथलमेंदेशकापहलानेशनलमेरीटाइमहेरिटेजम्यूजियमस्थापितकरनेजारहीहै।यहांस्वतंत्ररूपसेअंडरवाटरयानीमरीनआर्कियोलॉजीसेसंबंधीरिसर्चभीकिएजासकेंगे।ऐसेमेंमरीनआर्कियोलॉजीकेक्षेत्रमेंकरियरकोलेकरनएअवसरोंकोविस्तारमिलेगा।

क्याहैमरीनआर्कियोलॉजी?

पानीकेनीचेमिलेअवशेषोंकेजरिएमानवजीवनकेइतिहास,उसकेव्यवहारऔरसंस्कृतिकेअध्ययनकोअंडरवॉटरयामरीनआर्कियोलॉजीकहतेहैं।अंडरवॉटरआर्कियोलॉजिस्टसमुद्र,झीलयानदीकेनीचेदबेऐसेप्राचीनसाइटयारेक,हार्बर,पुलकापतालगातेहैं,जहांकिसीसमयमेंआबादीरहतीथी,लेकिनसमुद्रकेबढ़तेजलस्तरकेकारणवहउसकेअंदरसमागई।येअवशेषजहाज,पोर्ट,लैंडस्केप,समुद्रतटकेकरीबकीफैसेलिटीजहोसकतीहैं।इसब्रांचकेअंदरनॉटिकलआर्कियोलॉजीकीविशेषज्ञताभीहासिलकरसकतेहैं,जिसमेंशिपकंस्ट्रक्शनऔरउसकेइस्तेमालकाअध्ययनकियाजाताहै।आर्कियोलॉजीकायेएकमहंगाब्रांचहैक्योंकिपानीकेनीचेखुदाईकरनेमेंजमीनसेज्यादाखर्चआताहै।

जरूरीस्किल्स:मरीनआर्कियोलॉजिस्टकोगहरेपानीमेंछिपेयादबेपौराणिकअवशेषोंकोढूंढ़नाहोताहै,इसलिएएडवेंचरपसंदयुवाओंकेलिएयेकरियरकेलिहाजसेमुफीदफील्डहोसकताहै।वैसेइसमेंकुछखतरेभीहैं,क्योंकिकिसीकोनहींमालूमहोताहैकिपानीकेनीचेकैसीपरिस्थितियांहोंगी।इसलिएमरीनआर्कियोलॉजिस्ट्सकेपासडाइविंग,सर्वेइंगजैसीप्रैक्टिकलस्किल्सहोनीजरूरीहैं।डाइवर्सकोसोनारकीनॉलेजऔरएक्सप्लोरेशनकेलिएइक्विपमेंट्सकोचलानाआनाचाहिए।वैसे,ज्यादागहराईमेंजानेसेपहलेपनडुब्बीयारिमोटसेंसिंगइक्विपमेंटकीमददलीजातीहै।वहीं,टेक्निकलऔरअच्छेकम्युनिकेशनस्किलकेअलावाप्रशासकीयऔरपर्सनलक्वालिटीजहोनीभीजरूरीहैं।

शैक्षिकयोग्यता:आर्कियोलॉजीकीपढ़ाईकेलिएइतिहासविषयकेसाथहायरसेकंडरीहोनाजरूरीहै।वैसे,कार्बन-14डेटिंगऔररसायनोंकीसमझरखनेवालेसाइंसबैकग्राउंडवालोंकोआर्टिफैक्ट्सकेसंरक्षणमेंआसानीहोतीहै।आपचाहेंतोएंसेंटयामीडिवलइंडियनहिस्ट्रीमेंपोस्टग्रेजुएशनकरसकतेहैं।भारतमेंअंडरग्रेजुएट,पोस्टग्रेजुएटऔरडॉक्टोरललेवलपरइससेसंबंधितकोर्सेजउपलब्धहैं।एकबारडिग्रीलेलेनेपरयुवाओंकोइसक्षेत्रकाप्रशिक्षणलेनापड़ताहै।वैसे,चाहेंतोवोकेशनल,डिप्लोमायाशॉर्टकर्मकोर्सभीकरसकतेहैं।

संभावनाएं:भारतमेंऑफशोरएक्सप्लोरेशनकेबढ़नेसेमरीनआर्कियोलॉजिस्टकीमांगकाफीबढ़गईहै।अंडरवॉटरटूरिज्मकेविकसितहोनेसेभीमरीनआर्कियोलॉजीकोलेकरआकर्षणबढ़ाहै।दुनियाभरकेरिसर्चइंस्टीट्यूटवैश्विकस्तरपरटेस्टऑर्गेनाइजकरसमुद्रयाझीलकेनीचेकीदुनियाकापतालगानेकेलिएकुशलएवंप्रशिक्षितआर्कियोलॉजिस्टकोनियुक्तकरतेहैं।शुरुआतीदौरमेंतोइनकीसैलरीज्यादानहींहोतीहै,लेकिनअनुभवकेसाथसफलतामिलतीहैऔरआमदनीभीअच्छीहोजातीहै।

पॉन्डिचेरीयूनिवर्सिटी,अंडमानएवंनिकोबारद्वीप

वेबसाइट:

अन्नामलईयूनिवर्सिटी,तमिलनाडु

वेबसाइट: 

वीरनर्मदासाउथगुजरातयूनिवर्सिटी,सूरत