जागरूकता की निशानी बन स्वस्थ की जिंदगानी

जागरणसंवाददाता,औरैया:कोरोनाकालनेकईयोंकीजिंदगीछीनीतोकईयोंकोजीनेकासलीकाभीबताया।एकतरफजहांजिलाप्रशासनवस्वास्थ्यविभागलोगोंकोकोरोनामहामारीसेबचावकीअपीलकररहाथा,तोदूसरीओरकुछलोगऐसेथेजोअपनीदिनचर्यामेंबदलावकरकोरोनाकोपनाहमांगनेपरविवशकरदिया।ऐसेलोगोंनेदैनिकजागरणसेबातचीतमेंअपनेविचारसाझाकिए।कोरोनानोडलअफसरडॉ.शिशिरपुरीनेबतायाकिकोविड-19कोलेकरजिनलोगोंनेगाइडलाइनकापालनकियाहै।चाहेवहकिसीभीउम्रकेव्यक्तिरहेहों।उन्होंनेकोरोनाकोहरादियाहै।पहलेचरणमेंस्वास्थ्यकर्मियोंकोवैक्सीनलगाईजारहीहैं।लेकिनसभीकोविड-19सेबचावकोलेकरनियमोंकापालनअभीभीकरनाहीचाहिए।

शहरकेहोमगंजनिवासी70वर्षीयजगमोहनगुप्तावैसेभीमधुमेहबीमारीसेग्रसितहैं।थोड़ीसीचूकसेवहदोसितंबर,2020कोकोरोनासंक्रमितहोगए।उन्होंनेकोरोनाकोतोमातदीही,अपनीअनियमितदिनचर्याकोभीबदलदिया।अबवहहीनहीं,उनकापूरापरिवारभीसुबहउठकरटहलनेकेबादयोगकरताहै।जगमोहनअबपूरीतरहसेस्वस्थहैं।वहकहतेहैंकिसतर्कताऔरयोगसेउनकीजिदगीआगेबढ़गईहै।केस-2

शहरकेमोहल्लाहलवाईखानानिवासी60वर्षीयरामविष्णुबिश्नोईकोरोनासंक्रमणकीचपेटमेंआगएथे।उनकोसंयुक्तजिलाचिकित्सालयऔरैयासे26जुलाईकोसैफईचिकित्साहेतुरेफरकियागयाथा।उनकेपरिवारीजनकाफीभयभीतथे।उनकेशीघ्रस्वस्थहोनेकीईश्वरसेकामनाकररहेथे।सैफईअस्पतालमेंइलाजकेबादवहछहअगस्तकोडिस्चार्जहोगए।इसकेबादवहहमेशामॉस्कलगातेहैं।लोगोंसेदोगजकीदूरीबनाकरबातकरनेकीसलाहदेतेहैं।सुबहयोगकरतेहैंइसकेबादपरिवारकेसाथसमयव्यतीतकररहेहैं।