इस दलदली सड़क से कैसे जाएं सेक्टरवासी!

संवादसहयोगी,नयागुरुग्राम:हरियाणाशहरीविकासप्राधिकरण(एचएसवीपी)केसेक्टर-43केईडब्ल्यूएसश्रेणीके60वर्गकेप्लॉटक्षेत्रकेलोगपरेशानहैं।यहांसड़कोंकानिर्माणनहोनेसेलोगोंकाआवागमनमुश्किलहोगयाहै।बीतेदिनोंलोगोंनेसड़कनहींहोनेसेरास्तेमेंमलबाडालदियाथा।जिसेलोगोंनेजेसीबीसेहटवाया।

एचएसवीपीसेक्टर-43ईडब्ल्यूएसकेप्लॉटसुशांतलोक-1केसाथसटेहुएहैंऔरलगभगतीनसालपहलेकामचलानेकेलिएपतलीसीसड़कबनाईगईथीजोकितीनमाहकेभीतरपूरीतरहसेखत्महोगई।यहांपरलगभग150प्लॉटहैंऔर40मकानोंमें100परिवाररहरहेहैं।बरसातकेदिनोंमेंलोगोंकाअपनेघरोंतकपहुंचनामुश्किलहोजाताहै,जलभरावमेंलोगमलबाडालदेतेहैं,जिससेहालातओरखराबहोजातेहैं।सड़ककीजगहदल-दलहै।रोजानालोगोंकीगाड़ियांफंसजातीहैंऔरदोपहियावाहनवालेतोकईबारगिरभीचुकेहैं।इससंबंधमेंकईबारएचएसवीपीअधिकारियोंएवंनगरनिगमकेआलाअधिकारियोंकोपत्रलिखकरसमस्यासेअवगतकरायागयाहै,लेकिनसड़कनिर्माणकीदिशामेंकोईकामनहींहुआ।निवासीराकेशकुमार,सुभाषचंद,सुरेंद्र,विनयलांबा,कुलदीपसिंह,कंवरलाल,जयकिशन,जगदीपअग्रवालकाकहनाहैकिपिछलेपांचसालसेहमनेयहांरहनाशुरूकियाहै,लेकिनसड़कनामकीकोईव्यवस्थानहींहै।लोगोंकोजीनादुभरहोगयाहै।

नगरनिगमकेजूनियरइंजीनियरहिमांशुकाकहनाहैकिलगभगआठमाहपहलेसेक्टरनगरनिगमकोहैंडओवरहुआथा,लेकिनईडब्ल्यूएसपॉकेटनहींहुईथी।अभीएकसप्ताहपहलेहीयहपॉकेटभीनगरनिगमकेअधीनआगईहै।यहांपरसीवर,पानी,सड़कव्यवस्थाकोदुरस्तकरनेकेलिएलगभग1करोड़80लाखरुपयेकाएस्टीमेटतैयारहोगयाहै।अगलेएकमाहकेभीतरकामशुरूहोजाएगा।