ईएसआइ डिस्पेंशरी में एएनएम तक नहीं

जागरणसंवाददाता,राउरकेला:राज्यकर्मचारीबीमानिगम(ईएसआईसी)मेंबीमाकरानेवालेकर्मियोंएवंउनकेपरिवारकेसदस्योंकीसुविधाकेलिएबिसराचौककेपासराउरकेला-1सीआइएसएफडिस्पेंशरीकीस्थापनाकीगईहै।यहांचिकित्सकसमेत25कर्मचारियोंकेपदहैंजबकितीनचिकित्सकसमेत10लोगहीड्यूटीकररहेहैं।इससेलाभुकउचितचिकित्सासुविधासेवंचितहोरहेहैं।

राउरकेला-1सीआइएसएफडिस्पेंशरीकीस्थापनाकीगईहै।यहांकेलिए17हजारसेअधिकश्रमिकएवंउनकेपरिवारकेलोगबीमामेंशामिलहैं।इनकेलिएपांचचिकित्सक,दोफार्मासिस्टसमेतकुल25पदस्वीकृतहैं।पांचकीजगहतीनचिकित्सकहैं।दोफार्मासिस्टकीजगहएककार्यकररहाहै।दोड्रेसरकीजगहएकहै।रोगीपंजीकरणसेलेकरअन्यकामकेछहकर्मचारियोंकीजगहदोकार्यरतहैं।विभिन्नजांचकेलिएदोटेक्निीशियनकीजरूरतहैपरयहांएककामकररहेहैं।एएनएमकापदभीलंबेसमयसेरिक्तहै।इसतरह25पदोंमेंसे15पदरिक्तहैं।इससेयहांचिकित्सासेवाप्रभावितहोरहीहै।यहांएकमात्रडिस्पेंसरीहोनेकेकारणरोगियोंकीभीड़रहरहीहै।ईएसआइमॉडलअस्पतालकेअधीनसंचालितइसअस्पतालमेंअव्यवस्थाबीमाकृतलोगोंकोआवश्यकसुविधासेवंचितहोनापड़रहाहै।वाहनकीचपेटमेंआनेसेयुवककीमौत:हेमगिरथानाअंतर्गतकिरिपसिरा-लहंडामार्गमेंअज्ञातवाहनकीचपेटमेंआनेसेबाइकसवारयुवककीमौतहोगई।पुलिसशवकोजब्तकरनेकेसाथघटनाकीजांचमेंजुटीहै।गर्जनबहालकरलीकोचानिवासी37वर्षीयगुरुचरणमाझीहेमगिरगयाथा।वहांसेघरलौटनेकेदौरानपीछेसेअज्ञातवाहनकीटक्करसेवहगिरगयाएवंसिरमेंगंभीरचोटलगनेकेकारणउसकीमौकेपरहीमौतहोगई।बलिगाचौकीकीपुलिसमौकेपरपहुंचकरशवकोजब्तकरनेकेसाथहीसंबंधितवाहनकीतलाशकररहीहै।