Holi 2022: होली पर पर्यावरण बचाने की पहल, लकड़ी की जगह गोकाष्ठ का होगा प्रयोग

हाथरस,जागरणटीम।संस्कृतिवसंस्कारोंकेपर्वहोलीपरपर्यावरणकोबचानेकेलिएभीलोगआगेआरहेहैं।इसबारहोलिकादहनकेलिएलकड़ीकीजगहगोकाष्ठकाप्रयोगकियाजाएगा।इससेपर्यावरणशुद्धरहेगाऔरहरेपेड़भीबलिदानहोनेसेबचजाएंगे।

धीरे-धीरेहोलीपर्वपरगोकाष्ठजलानेकाप्रचलनबढ़रहाहै।शहरमेंभीइसबारहोलीपरगोकाष्ठजलानेकेलिएलोगोंनेविभिन्नसंगठनोंवपर्यावरणविदोंद्वाराजागरूककियाजारहाहै।गोकाष्ठकेप्रयोगसेलकड़ीवउपलोंसेबचाजासकेगा।यहगोकाष्ठ10रुपयेप्रतिकिलोग्रामदुकानोंपरउपलब्धहै।पर्वकोलेकरइसकीखरीदारीबढ़गईहै।लोगपहलेसेहीइसेखरीदकररखरहेहैं।

ऐसेबनताहैगोकाष्ठ

रविपहलवानबतातेहैंगोकाष्ठकोबनानेकेलिएगायकेगोबरकीजरूरतपड़तीहै।गायकोगोबरमशीनमेंडालाजाताहै।इससेनिकलेगोकाष्ठकोधूपमेंतीनदिनसुखायाजाताहै।इससेएककिलोग्रामगोबरमेंछहसौग्रामगोकाष्ठतैयारहोताहै।इसकेलिएघरपरहीमशीनलगाईहै।

तोबचेंगेहजारोंहरेवृक्ष

होलीपर्वपरप्रत्येकहोलिकास्थलपरदोसेतीनङ्क्षक्वटललकड़ीवउपलेजलजातेहैं।तमामहोलिकापरहरेपेड़ोंकीछंटाईकरउसेडालदियाजाताहै।व्यावसायिकताकेचक्करमेंहजारोंहरेपेड़काटकरहोलिकादहनकेलिएआपूर्तिकीजातीहै।होलीपरगोकाष्ठजलानेसेहजारोंवृक्षबलिदानहोनेसेबचजाएंगे।साथहीगोवंशपालनकेप्रतिभीलोगोंकारुझानबढ़ेगा।

शुद्धरहेगापर्यावरण

लकड़ीजलानेसेधुआंहोनेसेकार्बनमोनोआक्साइडवकाफीमात्रामेंकार्बनडाइआक्साइडनिकलतीहै।जोजनस्वास्थ्यपरबहुतनुकसानपहुंचातीहैं।भैंसकेगोबरसेबनेउपलेभीप्रदूषणबढ़ातेहैं।इसीलिएगायकेगोबरसेबनागोकाष्ठकेवलदोफीसदनमीहोनेसेधुआंवहानिकारकगैसबहुतकमनिकलतीहै।इसमेंकपूर,लौंगवदेशीघीमिलानेसेइनगैसोंकाप्रभावभीकमहोजाताहै।

होलिकामेंलकड़ीकोजलानेकीपरंपरारहीहै।इससेप्रदूषणबढ़ताहै।इसीसेबचनेकोगोकाष्ठतैयारकियागयाहै।बाजारोंमेंयहआसानीसेउपलब्धहै।इसकेप्रयोगसेपर्वभीमनेगाऔरपर्यावरणभीसुरक्षितरहेगा।इसकेगोकाष्ठकीखरीदारीकीजारहीहै।

-रूपकिशोर,ग्राहक

पर्यावरणसेलगावबचपनसेरहाहै।होलिकामेंलकड़ीवउपलोंकाप्रयोगबंदकरानेकेलिएहीगोकाष्ठबनायागयाहै।इसकीकीमतभीकमरखीगईहैं।यहगायकेगोबरसेतैयारहै।इसकेअलावाहवनयज्ञसेलेकरअंतिमसंस्कारकेलिएभीगोकाष्ठबहुतउपयोगीहै।

-रविपहलवान,दुकानदार

गोकाष्ठकेअलावागूलरी,तलवार,नारियल,छत्रपवअन्यउत्पादभीगायकेगोबरसेतैयारकराएजारहेहैं।इनकेलिएकरीब70हजाररुपयेकीलागतसेएकमशीनघरपरहीतैयारकीहै।इसकेद्वाराहीयहउत्पादबनाएजारहेहैं।

-जयप्रकाश,दुकानदार