हम सुविधाएं दे सकते हैं, साहस अभिभावकों को दिखाना होगा

बिजनौर,जागरणटीम।शिक्षासत्रकेअंतिमचरणमेंनिजीशिक्षणसंस्थाओंकोपूरीसावधानीबरततेहुएखोलनेकीतैयारीकरलिएजानेकादावाकियाजारहाहै।वहीं,कोरोनासंक्रमणमेंफिरसेइजाफाहोनेकेकारणअभिभावककोईभीजोखिमउठानेकेलिएतैयारनहींहैं।

एकमार्चसेकक्षाएकसेकक्षापांचतककेविद्यालयोंमेंभीआफलाइनपढ़ाईशुरूकिएजानेकेसरकारकेफैसलेकोनिजीशिक्षणसंस्थाओंकेसंचालकसंजीवनीकेरूपमेंदेखरहेहैं।वालियाग्लोबलएकेडमीकेचेयरमैनरमाकांतवालियाबतातेहैंकिएककक्षमेंअधिकतम20विद्यार्थीबैठाएंगे।स्कूलपरिसरमेंमास्ककोअनिवार्यकियागयाहै।विभिन्नजगहोंपरसैनिटाइजरउपलब्धरहेगा।हरसंभवसावधानीबरतीजाएगी।शुरुआतमें50फीसदीविद्यार्थीआनेकीसंभावनाहै।उनकेलिएपर्याप्तव्यवस्थाजुटालीगईहै।अबकेवलआफलाइनपढ़ाईहोगी।कोरोनासेबचावकेलिएहमसुविधाएंदेसकतेहैं,विद्यार्थीहितमेंसाहसतोअभिभावकोंकोदिखानाहोगा।

मूलचंदएकेडमीकेप्रबंधकअनिलचौहानकहतेहैंकिएककक्षमें15विद्यार्थियोंकेबैठनेकीव्यवस्थाकीहै।विद्यार्थियोंकोस्कूललानेकेलिएअभिभावकोंसेसहमतिलीजारहीहै।25से30फीसदीबच्चोंकेआनेकीउम्मीदहै।कोरोनासेबचावकेपर्याप्तइंतजामकिएहैं।समयसमयपरकक्षाओंएवंविद्यालयपरिसरकासैनिटाइजेशनकरायाजाएगा।

अभिभावकहरप्रीतकौरकहतीहैंकिहालांकिस्कूलद्वाराआनलाइनपढ़ाईबंदकरदीगईहै,लेकिनकोरोनाकेभयकेकारणवहअपनेपुत्रकोस्कूलनहींभेजरहीहैं।

अभिभावकगुरमीतकौरकहतीहैंकिप्री-बोर्डकेलिएपुत्रकोस्कूलभेजरहीहैं,लेकिनबचावकेमानकोंकाध्यानरखनेकीसलाहदेरहीहैं।कक्षाएकसेपांचतककेबच्चोंकेअभिभावकोंमयंकअग्रवाल,आफताबआलम,प्रतिभाराजपूत,शैलेंद्रसिंह,एमपीशर्मा,प्रदीपराजपूत,मरगूबआलमआदिनेबच्चोंकोस्कूलनहींभेजनेकीबातकहीहै।इनकाकहनाहै

बेसिकशिक्षापरिषदकेप्राथमिकविद्यालयोंमेंशासनादेशोंकेअनुसारपठन-पाठनकीतैयारीपूरीकरलीगईहै।निजीशिक्षणसंस्थाओंमेंभीबेहतरव्यवस्थाकादावाकियाजारहाहै।फिरभीव्यवस्थाओंकाआकस्मिकनिरीक्षणकियाजाएगा।

-इशकलाल,खंडशिक्षाअधिकारीनजीबाबाद