हेमंत सोरेन के गृह क्षेत्र में नहीं है धान क्रय केंद्र

ओमप्रकाशगुप्ता,बरलंगा(रामगढ़):

सूबेकेसीएमहेमंतसोरेनकेगृहक्षेत्रमेंहीधानक्रयकेंद्रनहींहै।यहांकेकिसानपरेशानहैं।गोलाप्रखंडकेबरलंगाथानाक्षेत्रमेंधानक्रयकेंद्र(पैक्स)नहींखुलनेकेकारणकिसाननिराशहैं।पैक्सनहींहोनेकेकारणमुख्यमंत्रीहेमंतसोरेनकेपैतृकगृहक्षेत्रनेमरासहितनरसिंहडीह,सुथरपुर,उपरबरग,हरना,नावाडीह,सोनडीमरा,पूरबटांड़वहारूबेड़ाआदिगांवोंकेकिसानबिचौलियोंकेहाथोंधानबेचनेकोमजबूरहैं।कृषकबहुलइसइलाकेमेंसरकारद्वाराअबतकपैक्सकेंद्रनहींखोलागयाहै।इनगांवोंसेकरीब25-30किमीदूरीगोलामेंपैक्सकैंद्रहोनेकेकारणकिसानअपनीउपजकीधानकोबिचौलिएकेहाथोंकीनकदमेंबेचदेतेहैं।यहांकेकिसानपश्चिमबंगालकेझालदा,जयपुरआदिकेव्यापारियोंवबिचौलिएकोधानबेचदेतेहैं।बरलंगासेबंगालबिल्कुलसटाहोनेकेकारणव्यापारीवबिचौलिएआरामसेसुबहकोहीसाइकिल,बाइकसेलेकरचारपहियावाहनकेसाथकिसानोंसेधानखरीदनेकेलिएपहुंचजातेहैं।कुछछोटेकिसानखुदहीसाइकिलसेधानलादकरबेचनेकेलिएबंगालचलजातेहैं।इससंबंधमेंसुथरपुरगांवकेकिसानराजेंद्रसिंह,पुरनरजवारवसुरेशघटवारआदिकिसानोंनेबतायाकिपैक्सकेंद्रकीसुविधानहींहोनेकेकारणअभीहालमेंहीबंगालकेबिचौलियोंको12सौरुपयेप्रतिक्विटलकीदरसेअपनेधानकोबेचदिया।इसीतरहनेमरावबरलंगागांवकेदर्जनोंकिसानोंनेभीधानकोबंगालकेबिचौलिएककोबेचदियागया।यहांकेकिसानोंनेअपनीपीड़ासुनातेहुएकहाकिसुदूरवर्तीगांव-देहातसे25-30किलोमीटरकीदूरीतयधानबेचनेकेलिएगोलाजानाकाफीमुश्किलकामहै।इसमेंसमयवपैसेकीभीबर्बादीहै।इसकारणसेवेलोगगोलाजानेसेकतरातेहैं।बिचौलियोंसाइकिलआदिसेबंगालसीमापरधानलेजाकरट्रकवपिकअपवैनसेक्षेत्रसेधानबंगाललेजातेहैं।यहसिलसिलाअबभीजारीहै।किसानोंकाकहनाहैकिइसइलाकेमेंधानक्रयकेंद्रनहींखोलागयातोइसीतरहकिसानलूटतेरहेंगे।कुछछोटेतबकाकाकिसानतोसाइकिलपरहीधानकोलादकरबंगाललेजातेहैं।जहांइन्हेंपैसेतुरंतमिलजातेहैं।विडंबनायहहैकिमुख्यमंत्रीहेमंतसोरेनकागृहक्षेत्रहोतेहुएभीएकभीधानक्रयकेंद्रकानहींखुलनादुर्भाग्यकीबातहै।