Hariyali Teej Vrat 2020: घेवर और लहरिए वाला त्योहार है तीज, राजस्थान में निकलती है तीज माता की सवारी

HariyaliTeejVrat2020:राजस्थानमेंएककहावतहै।तीजत्योहारांबावड़ी,लेडूबगणगौर।इसकामतलबयेहैकितीजजबभीआतीहैत्योहारोंकीभरमारसाथलेकरआतीहैऔरगणगौरजबआतीहैतोत्यौहारोंकेआनेकाक्रमकुछसमयकेलिएथमजाताहै।वैसेतोदोप्रमुखतीजसालभरमेंपूरेदेशमेंमनाईजातीहैं,जिनमेंसावनकेमहीनेमेंआनेवालीयेहरियालीतीजअपनाअलगहीमहत्वरखतीहै।

राजस्थान,जिसेकिरंगरंगीलोंराजस्थानकहाजाताहै,वहांहरत्योहारकोअलगहीढंगसेमनायाजाताहै।तीजभीउन्हींमेंसेएकहै।राजस्थानकेमुख्यतदोशहरोंमेंतीजकीसवारीभीनिकालीजातीहै।एकराजधानीजयपुरऔरदूसरीबूंदीजिलेमें।हांलाकिबूंदीमेंहरियालीतीजकेदिननहीं,बल्किकाजलतीजकेदिनसवारीनिकलतीहैऔरजयपुरमेंपरकोटेमेंतीजकेदिनतीजमाताकीसवारीनिकालीजातीहै।

तीजमाताकीसवारी

सवारीसेअर्थयहांतीजकेमेलेकेदौरानझांकीनिकालेजानेसेहै।येपरंपराजयपुरकीबसावटसेहीहै।इसबारकोरानाकाअसरजरूरतीजकेमेलेपरदेखनेकोमिलरहाहै।यहांलोकगीतोंकेसाथतीजकास्वागतहोताहै।तीजकीसवारीपियाजणीलागेप्यारीजैसेगीतमहिलाएंघरोंमेंगुनगुनातीहैं।सावनकेझूलोंकातीजकेदिनआनंदलियाजाताहै।

तीजसेएकदिनपूर्वसिंजारापर्व

तीजसेएकदिनपहलेसिंजारापर्वमनायाजाताहै।इसदिनसुहागनेंविशेषपूजनकरतीहैं।हाथोंमेंमेहंदीलगाकरतीजकेलिएतैयारहोतीहैं।तीजकेदिनविशेषमिठाईघेवरबनवाएजातेहैं।नवविवाहिताएंतीजमाताकीविशेषपूजाकरतीहैं।सुहागनेंउनकासाथदेतीहैं।प्राय:तीजकेसमयअपनेपीहरमेंआकरनवविवाहिताएंपूजनमेंशामिलहोतीहैं।

अच्छेवरप्राप्तिकेलिएतीजमाताकीपूजा

मान्यताकिकंवारीलड़कियांभीअच्छेवरकीप्राप्तिकेलिएतीजमाताकीपूजाकरतीहैं।इसदिनविशेषवस्त्रपहनेजातेहैं,जिन्हेंलहरियाकहतेहैं।लहरियोंसूट,चुन्नी,कुर्ते,साफे,घाघरे,लहंगेसबमेंउपलब्धहोतेहै।इसबारराजस्थानमेंतीजकेउपलक्ष्यमेंमास्कभीलहरियेमेंबनाएगएहैंऔरबिकेभीहैं।लहरियाएकतरीकेसेकईरंगोंकेबारीक-बारीकलाइनोंवालेपरिधानकोकहतेहैं।तीजकेदिनलहरियापहननेकाअलगहीक्रेजहोताहै।