हाथरस हत्याकांड पर UP विधानसभा में सीएम योगी आदित्यनाथ बोले- फिर सवालों के घेरे में सपा की टोपी

लखनऊ,जेएनएन।उत्तरप्रदेशबजट2021-22परबुधवारकोविधानसभामें मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेकहाकिसदनमेंपेशबजटकेमाध्यमसेप्रदेशकेविकासकोआगेबढ़ानेकाकार्यकियागयाहै।काफीरुचिकेसाथसभीपक्षोंकेसदस्योंनेसदनमेंअपनापक्षरखा।लोकतांत्रिकप्रणालीकासृजनप्रदेशकाविधानमंडलकररहाहै,यहहमसभीकेलिएगौरवकाविषयहै।इसकेलिएसभीसदस्योंकाअभिनंदनकरताहूं।उन्होंनेकहाकिप्रदेशहीनहींदेशस्तरपरभीयूपीकेबजटकीसराहनाकीहै।

सीएमयोगीनेएकबारफिरसदनमेंसमाजवादीपार्टीकीटोपीकामुद्दाउछाला।उन्होंनेकहाकिहाथरसकेसमेंयहटोपीफिरसेसवालोंकेघेरेमेंहैं।हाथरसहत्याकांडमेंएकबारफिरयहटोपीशर्मसारहुईहै।इंटरनेटमीडियापरलोगपूछरहेहैंकिआखिरयहटोपीवालाकौनहै?इसपरनेताप्रतिपक्षरामगोविंदचौधरीएकपोस्टरदिखातेहुएकहाकिइसमेंभाजपासांसदकेसाथव्यक्तिखड़ाहै।इसपरसीएमयोगीनेकहाकिवहांएकसमाजवादीपार्टीकीरैलीहोनेवालीहै।उसरैलीमेंउसव्यक्तिकेपोस्टरहोर्डिंगलगेहैं।होर्डिंग,पोस्टरमेंसमाजवादीपार्टीकेनेताओंकेभीचित्रहैं।

यूपीविधानसभामें मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेरामधारीसिंहदिनकरकीकविताकीपंक्तियां'सचहैविपत्तिजबआतीहैतोकायरकोहीदहलातीहै,सूरमानहींविचलितहोतेक्षणएकनहींधीरजखोते।विघ्नोंगलेलगातेहैं,कांटोंमेंराहबनातेहैं,मुंहसेकभीनहींउफकहते।'सुनातेहुएकहाकिदेशकेलिएऔरप्रदेशकेलिएअक्षरशःसहीबैठतीहैं।बजटकेपरिप्रेक्ष्यमेंयदिदेखनाहोतोबिनाविचलितहुएहमलोगोंनेइसकाअनुसरणकियाहै।उन्होंनेकहाजोपिछलेसरकारेंथींवहकेवल चार्वाककेसिद्धांत'यावज्जीवेत्सुखंजीवेत्ऋणंकृत्वाघृतंपिबेत्'यानि'मनुष्यजबतकजीवितरहेतबतकसुखपूर्वकजिये।ऋणकरकेभीघीपिये।'परकार्यकरतीथी।

मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेकहाकितात्कालिकआवश्यकताकेलिएबनाईजानेवालीयोजनाएंनपार्टीकाऔरनप्रदेशकीहितकरसकतीहैं।हमएकविजनकेसाथविकासकेरोडमैपकोतैयारकियाहैऔरउसकेअनुसारविकासकेएजेंडेकोलागूकियाहै।यहीपार्टीकोऔरप्रदेशकोएकनईऊंचाईपरदेगा।यहीपार्टीकोलंबेसमयतकशासनकरनेऔरप्रदेशकोविकासकीनईअर्थव्यवस्थाकेसाथजोड़नेकाकार्यकरेगा।उन्होंनेकहाकिप्रदेशमेंजोकार्यवर्षोंसेनहींहोसकेथेवेसभीविगतचारवर्षोंमेंरास्तपरआतेदिखाईदिए।

मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेकहाकिमात्रचारवर्षोंमेंउत्तरप्रदेशदेशकीदूसरीसबसेबड़ीअर्थव्यवस्थाबनगयाहै।आजहम10लाख90हजारकरोड़रुपयेसेबढ़कर21लाख73हजारकरोड़रुपयेकीइकोनॉमीबनगएहैं।इनचारवर्षोंमेंदोगुनेसेज्यादाकीबढ़ोंतरीहुईहै।उन्होंनेकहाकिवर्ष2022केबादजबबीजेपीकीसरकारदोबारासत्तामेंआएगीतोउत्तरप्रदेशदेशकीपहलीइकोनॉमीबनेगी।हमउसीलक्ष्यकोलेकरकार्यकररहेहैं।2015-16मेंउत्तरप्रदेशकीइजऑफडूइंगबिजनेशमें14वेंस्थानपरथा।आजउत्तरप्रदेशइजऑफडूइंगमेंदूसरेस्थानपरहै।सारीव्यवस्थाएंवहीहैं।हमनेकार्यपद्धतीबदलीहै।

सीएमयोगीनेविपक्षपरहमलाबोलतेहुएकहाकिलोगउत्तरप्रदेशसेपलायनकररहेथे।लोगयहांसेभागरहेथे।लोगोंकाविश्वासटूटचुकाथा।उत्तरप्रदेशमेंप्रतिव्यक्तिआय45हजारथी।आजप्रतिव्यक्तिआयलगभग95000है।यहपरिवर्तनहै।प्रदेशमेंईजआफलिविंगकोभीबेहतरकियागयाहै।सभीक्षेत्रोंमेंसमग्रप्रयासकियागया।इसकायहपरिणामहै।यहआंकड़ेहमारीसरकारकेनहींहैंदेशकीनामीवित्तीयसंस्थाओंऔरकेंद्रसरकारकेहैं।

विधानसभामेंबजटपरचर्चाकेदौरानमुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेकहाकिजबमैंमुख्यमंत्रीकार्यालयबैठनेकेलिएएनेक्सीभवनपहुंचातोवहांलोगोंसेपूछाकिमुख्यमंत्रीकबआतेथे।तोसबलोगचुपखड़ेथे,लेकिनएकव्यक्तिनेकहाकिकभी-कभार।मैंनेपूछाकिकभीकभारकामतलब?सालमेंएकाधबारआजायाकरतेथे।अगरमुख्यमंत्रीअपनेकार्यालयमेंनहींबैठेंगेतोफिरराज्यकाबेड़ागर्कहोनातयहै।

मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेकहाकिचारवर्षमें40लाखलोगोंकोआवासमिले।हरगांवकीकनेक्टिविटीहोजाए।इंटरस्टेटकनेक्टिविटीठीकहोगई।नेताप्रतिपक्षकहतेहैंकिहमभीकरनाचाहतेथेलेकिनकरनहींपाएइसलिएजनतानेकहाकिआपजहांकेलायकहैंवहींबैठें।बजटपरबोलतेहुएकहाकिजबवित्तमंत्रीबजटपेशकररहेथेउसवक्तदेशभरमेंयूपीकेबारेमेंबहुतसेचर्चाहोरहीथी।महत्वपूर्णमुद्दोंपरचर्चाहोनीचाहिए।बजटमेंहरतबकेनेकीहै।प्रदेशनेहीनहींबल्किदेशमेंसरहानाहुईहै।

मुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेकहाकि कोरोनाकेसमयमेबजटलेकरआएहैं।लोगकोविडसेभयभीतहैं।एकमार्चसे60कीउम्रसेऊपरसभीनागरिककोऔरबीमारलोगोंकोवैक्सीनदेनेकाकार्यशुरूहोगयाहै।तेजीसेप्रक्रियाआगेबढ़रहीहै।यदिपूरादेशअपनेनेतृत्वपरभरोसाकरकेआगेबढ़रहाहैतोउसदेशकोदुनियाकीमहाशक्तिबननेसेकोईरोकनहींसकता।हमसबजानतेहैंकिउत्तरप्रदेशमेंजोकार्यआजादीसेलेकरअबतकनहींहोपाया,वहविगतचारवर्षोंमेंहुएहैं।2018-19केबजटकोप्रदेशकेऔद्योगिकविकासकोसमर्पितकियाथा।परंपरागतउद्योगबढ़ाहै।लाभअबदिखाईदेनेलगाहै।