गुजरात चुनाव में VVPAT मशीन का इस्तेमाल क्यों नहीं? SC ने EC से मांगा जवाब

सुप्रीमकोर्टनेइसबीचचुनावआयोगकोनिर्देशदियाहैकिवो4सप्ताहकेभीतरबताएकिउसकेपासकितनीVVPATसेजुड़ीईवीएममशीनेंहै.गुजरातकेएककांग्रेसकार्यकर्ताकीयाचिकापरसुनवाईकरतेहुएकोर्टनेऐसानिर्देशदियाहै.याचिकानेकहाहैकिचुनावआयोगकेपासपहलेसेVVPATमशीनेंहैंलेकिनआगामीगुजरातविधानसभाचुनावमेंवेइनकाइस्तेमालनहींकरनाचाहता.

कोर्टनेचुनावआयोगकोजवाबदेनेकानिर्देशदेतेहुएइसमामलेकोभीदूसरीयाचिकाओंकेसाथसुनवाईकेलिएटैगकरदियाहै.मामलेकीसुनवाईकेदौरानयाचिकाकर्ताकीतरफसेवरिष्ठवकीलकपिलसिब्बलनेकहाकिपहलेचुनावआयोगमशीननहोनेकाहवालादेताथाऔरअबकहताहैकिउसेचलानेकेलिएप्रशिक्षितलोगनहींहैं.

ऐसेमेंचुनावआयोगनेकोर्टमेंकहाकिउसकेपासमशीनेंतोहैंलेकिनवहतकनीकीतौरपरचलनेमेंअक्षमहैं.चुनावआयोगकेइसजवाबपरमुख्यन्यायाधीशजस्टिसजेइसखेहरनेबोलाकिआपकीबहसकोसुनतेहुएऐसालगताहीनहींकिचुनावआयोगइनमशीनोंकाइस्तेमालकरनाचाहताहै.मुख्यन्यायधीशकीबेंचनेचुनावआयोगको4हफ्तेकेभीतरजवाबदेनेकानिर्देशजारीकिया.

वहींकेंद्रसरकारकीतरफसेअटॉर्नीजनरलकेकेवेणुगोपालनेकहाकिसरकारनेमशीनोंकीखरीदकेलिएसाढ़े3हजारकरोड़रुपयेआवंटितकिएहैं.अटॉर्नीजनरलनेकोर्टमें24अप्रैलकोएकमामलेमेंकोर्टकेआदेशकाहवालादेतेहुएकहाकिसरकारने 3173.43लाखरुपयेकीलागतसे16लाख15हजारVVPATमशीनेंखरीदीहैं.

गौरतलबहैकिगुजरातकेएककांग्रेसकार्यकर्तानेसुप्रीमकोर्टमेंअर्जीलगाकरकहाहैकिचुनावआयोगकेपासVVPATमशीनेंहैंलेकिनवेइन्हेंआगामीविधानसभाचुनावमेंइस्तेमालनहींकरनाचाहते.उनकेमुताबिकचुनावआयोगकेपास87हजारमशीनेंहैंऔरराज्यमेंहोनेवालेचुनावकेलिएसिर्फ71हजारमशीनेंहीचाहिए.