गोरखपुर का अमित सिंह बिहार में आकर कैसे बन गया खान सर,जानें स्टूडेंट्स के दिलों पर राज करने वाले टीचर की कहानी

पटनावालेखानसर।यानीGSवालेखानसर।यू-ट्यूबकीदुनियाकेफेमसटीचर्समेंसेएकहैं।अपनेठेठदेसीअंदाजऔरटॉपिककोआसानबनाकरपढ़ानेकेनातेइनकीएकतगड़ीफॉलोइंगहै।मजे-मजेमेंठेठबिहारीअंदाजमेंउनकापढ़ानाछात्रोंकोभीखूबभाताहै।

बिहार(Bihar)मेंइसवक्तRRB-NTPCकीपरीक्षाकोलेकरबवालमचाहुआहै।छात्रोंकाप्रदर्शनलगातारजारीहैतोसियासतभीचरमपरहै।इसबीच,एकनामकीसबसेज्यादाचर्चाहै-वोहैखानसर।खानसरनेगुरुवारकोएकवीडियोजारीकरसभीछात्रोंसेअपीलकीहैकिवेकिसीभीतरहकेप्रोटेस्टमेंशामिलनाहों।लेकिन,क्याआपजानतेहैंकिखानसर(KhanSir)कौनहैं?क्योंउनकानामइसआंदोलनमेंसामनेआरहाहै?आखिरयूपीकेगोरखपुर(Gorakhpur)काअमितसिंह(AmitSingh)बिहारमेंआकरखानसरकैसेबनगया?

पटनावालेखानसर।यानीजनरलस्टडीज(GS)वालेखानसर।यू-ट्यूब(YouTube)कीदुनियाकेफेमसटीचर्समेंसेएकहैं।अपनेठेठदेसीअंदाजऔरटॉपिककोआसानबनाकरपढ़ानेकेनातेइनकीएकतगड़ीफॉलोइंगहै।मजे-मजेमेंठेठबिहारीअंदाजमेंउनकापढ़ानाछात्रोंकोभीखूबभाताहै।उनकाचैनलKhanGSResearchCentreकेनामसेचलताहै।जिसकीशुरुआत25अप्रैल2019मेंहुई।आजइसचैनलकेकरीबडेढ़करोड़सब्सक्राइबर्सहैं।KhanGSResearchCentreकेनामसेहीपटना(Patna)मेंउनकाकोचिंगसंस्थानभीहै।

खानसरकाजन्म1993मेंउत्तरप्रदेश(UttarPradesh)केगोरखपुरमेंहुआ।उन्होंनेदेवरियाजिलेकेभाटपाररानीकस्बेकेपरमारमिशनस्कूलसेपढ़ाईकी।उनकेपिताइंडियनआर्मीमेंऑफिसररहेहैं।हालांकिअबवेरिटायर्डहोचुकेहैं।उनकेबड़ेभाईभीसेनामेंकमांडोहैं।एकवीडियोमेंखानसरनेबतायाथाकिवहNDAमेंजानाचाहतेथे।एग्जामउन्होंनेक्लीयरभीकरलियाथा,लेकिनमेडिकलपरीक्षापासनहींकरपाएथे।उनकाहाथथोड़ाटेढ़ाहोनेकेकारणउनकासेलेक्शननहींहोपायाथा।इसकेबादखानसरनेइलाहाबादविश्वविद्यालयसेBSc.औरMSc.कीडिग्रीहासिलकी।पटनामेंपहलेएकप्राइवेटकोचिंगमेंपढ़ाया।बादमेंखुदकीकोचिंगखोलदी।लॉकडाउनमेंऑनलाइनपढ़ानाशुरूकियाऔरअपनेअंदाजसेफेमसहोगए।

खानसरकानामपहलेएकमिस्ट्रीबनाहुआथा।बादमेंएकवीडियोमेंखानसरनेबतायाकिउनकानामअमितसिंहहै।जिसकेबादखूबचर्चाओंमेंरहे।वीडियोमेंउन्होंनेकहा-मेरा'खानसर'नामनहींहै।तुमलोगोंकोएकमिस्ट्रीबताताहूं।हमजबपढ़ानेगएथेतोहमटीचरहीनहींथे।एककोचिंगथी,जिसनेकमानेकेलिएलड़कोंकोतोरखलिया,लेकिनउन्हेंपढ़ानेकेलिएटीचरहीनहींथेतोहमेंबुलायागयाकिसरआइए,एकबारक्लासलीजिए।पहलेदिन6लड़केथे,अगलेदिन40-50,उसकेअगलेदिन150...।अबकोचिंगवालोंकोडरहोगयाकिअगरयेमास्टरयहांसेहटगयातोसबलड़केइसकेपीछेचलेजाएंगेतोउन्होंनेहमसेकहाकिनाआपकोअपनानामबतानाहै,नामोबाइलनंबर।हमनेकहाकिहमकोक्यामतलबइनसबसे।हमनेनाकिसीकोनामबताया,नामोबाइलनंबर।हमअपनानामGSटीचरबतादेतेथे।बादमेंउनलोगोंनेहीएकनामजुगाड़दिया–खानसर।जबकिऐसेलोगहमकोअमितसिंहकहकरबुलातेहैं।हमइसीलिएकहतेहैंकिआपहमकोसमझसको,इतनीआपमेंसमझनहीं।

एकटीवीचैनलसेबातचीतमेंखानसरयानीअमितसिंहनेकहाथाकि'नामसेकिसीकोनहींजाननाचाहिए।बसइतनासमझनाचाहिएकिमेरानामक्याहै,वोअलगबातहैऔरलोगहमेंक्याकहकरबुलातेहैं,वोअलगहै।नेल्सनमंडेलाकोअफ्रीकाकागांधीकहाजाताहैलेकिनइसआधारपरआपयहनहींकहसकतेकिवोगांधीहैं।मुझेक्याकहाजाताहै,इसकेऊपरमैंबहुतज्यादाध्याननहींदेता।कुछलोगमुझेकईनामोंसेबुलातेहैं।जिसमेंसेएकअमितभीहै,खानसरबसएकटाइटलहै।मेरामूलनामनहींहै।मैंनेअपनापूरानामकभीनहींबताया।'

खानसरअपनीक्लासमेंहंसी-मजाककेसाथइसतरहपढ़ातेहैंकिकिसीकोभीबड़ीआसानीसेवोटॉपिकसमझमेंआजाए।खानसरबतातेहैंकिवोएककोर्सकंप्लीटकरवानेकासिर्फ200रुपएहीफीसलेतेहैं।भलेहीवोकोर्स6महीनेकाहोयाफिरउससेज्यादा।खानसरकहतेहैंकिवोइसलिएफीसलेतेहैंताकिबच्चेकाआत्मसम्मानबनारहेकिवोपैसेदेकरपढ़ाईकरताहै।

एकटीवीचैनलमेंखानसरनेबतायाकिउनकीअभीतकशादीनहींहुईहै।जबउनसेपूछागयाकिवोशादीकबकरेंगेतोमुस्कुरातेहुएवोजवाबदेतेहैंऔरकहतेहैंकियहकामघरकेबड़े-बुजुर्गोंकाहै।खानसरआगेकहतेहैंकिअभीवोसिंगलहैंतोदेश-दुनियाकेलिएकामकरनेकामौकामिलजाताहैलेकिनशादीबादवक्तमिलनामिले।उन्होंनेकहाकिफिलहालउनकापूराफोकसछात्रोंकोआगेबढ़ानेपरहै।