गोल्डेन सियार से लेकर तेंदुएं और हिरन की कई वैराइटी देखने को मिलती है माधव नेशनल पार्क में

मध्यप्रदेशकेशिवपुरीकेउत्तरमेंस्थितमाधवनेशनलपार्क,यहांकेसबसेपुरानेनेशनलपार्कमेंसेएकहै।354वर्गकिमीमेंफैलायहपार्ककभीग्वालियरकेराजाकेलिएशाहीशिकारकीजगहहुआकरताथा।इसजगहकोऔरभीज्यादाखूबसूरतबनानेकाकामकरतेहैंयहांमौजूदअनेकप्रकारकेपेड़-पौधे,दूर-दूरतकफैलेघासकेमैदानऔरउनमेंघूमतेहुएजंगली-जानवर।

माधवनेशनलपार्क

सन्1958मेंमध्यप्रदेशकेसाथहीइसनेशनलपार्ककोभीस्थापितकियागयाथा।और1972में'वन्यजीवअभ्यारण्य'केतहतइसेऔरभीज्यादासुरक्षितबनायागया।इसनेशनलपार्ककीसबसेबड़ीखासियतहैकियेपूरेसालसैलानियोंकेलिएखुलारहताहै।नेशनलपार्ककेअंदरमाधवऔरसाख्यसागरदोझीलेंहैंजहांसर्दियोंमेंप्रवासीपक्षियोंकाडेरालगताहै।

माधवनेशनलपार्कमेंदेखनेकोमिलतेहैंयेजीव-जंतु

हिरनयहांकाखासआकर्षणहैं।छोटेचिंकारे,इंडियनगेजलऔरचीतलजैसीप्रजातियोंकोयहांजंगलोंमेंचहलकदमीकरतेहुएआसानीसेदेखाजासकताहै।इनकेअलावाब्लैकबग,चारसींगवालेएंटीलॉप,सांभर,नीलगाय,स्लॉथबीयरभीखासहैं।

सख्यसागरमेंपक्षियोंऔरजानवरोंकेलिएतैयारकिएतालाबमेंशोव्हेलर,पेलिकन,कॉन्यक्रेनें,स्पुनबिल,बॉल्डकलहंसजैसेकईप्रवासीपक्षियोंकीप्रजातियांदेखनेकोमिलतीहैं।अजगर,बंगालकेजहरीलेसांपऔरकोबराभीइसपार्कमेंमौजूदहैं।मांसाहारीजंतुओंमेंसियार,लकड़बग्घा,भेड़ियाऔरकुत्तेआमतौरपरनज़रआजातेहैं।

पहाड़ोंऔरघासकेमैदानोंवालीइसजगहपरस्तनधारियोंऔरजंगलीजानवरोंकेसाथ-साथकईवैराइटीकेपेड़-पौधेभीहैं।जिनमेंधावड़ा,पलाश,खैर,केरधाईऔरसलाईखासहै।

इसपार्कमेंएकऔरखासचीज़जोदेखनेवालीहैवोहैसाख्यसागरकेतटपरबनाशूटिंगबॉक्स।जहांसेआपजंगलकेखूबसूरतनजारोंकेसाथ-साथपशु-पक्षियोंकोभीसाफतौरपरदेखसकतेहैं।सर्दियोंमेंतोयहांमछरमच्छकीअच्छी-खासीसंख्यादेखनेकोमिलतीहै।

अक्टूबरसेमार्चकामहीनामाधवनेशनलपार्कघूमनेकेलिएबेस्टहै।जबआपजंगलमेंमौजूदजीव-जंतुओंकोआसानीसेदेखसकतेहैं।

हवाईमार्ग-ग्वालियर,इसनेशनलपार्कतकपहुंचनेकासबसेनज़दीकीएयरपोर्टहैजोयहांसे130किमीकीदूरीपरहै।एयरपोर्टसेटैक्सीलेकरआपआसानीसेयहांतकपहुंचसकतेहैं।

रेलमार्ग-झांसीयहांतकपहुंचनेकानिकटतमरेलवेस्टेशनहै।यहांसेभीटैक्सीऔरआटोकीसुविधाअवेलेबलरहतीहै।

सड़कमार्ग-आगरा-मुंबईNH-3औरशिवपुरी-झांसीNH-25द्वाराइसनेशनलपार्कतकआसानीसेपहुंचाजासकताहै।