गंभीर अपराध के मामलों में आरोप तय होने पर आरोपियों के चुनाव लड़ने पर रोक लगाने का न्यायालय से अनुरोध

नयीदिल्ली,27सितंबर(भाषा)उच्चतमन्यायालयमेंएकयाचिकादायरकरऐसेव्यक्तियोंकेचुनावलड़नेपररोकलगानेकाअनुरोधकियागयाहैजिनकेखिलाफगंभीरअपराधकेमामलोंमेंआरोपतयकिएजाचुकेहैं।इसजनहितयाचिकापरआनेवालेदिनोंमेंसुनवाईहोनेकीउम्मीदहै।याचिकामेंकेंद्रऔरचुनावआयोगकोऐसेव्यक्तियोंकेचुनावलड़नेपररोकलगानेकेबाबतकदमउठानेकेनिर्देशदेनेकाअनुरोधकियागयाहैजिनकेखिलाफगंभीरअपराधकेमामलोंमेंसुनवाईचलरहीहै।इसमेंदावाकियागयाकिविधिआयोगकीसिफारिशोंऔरन्यायालयकेपूर्वनिर्देशोंकेबावजूदकेंद्रऔरचुनावअयोगनेइसबारेमेंकदमनहींउठाएहैं।याचिकाकर्तावकीलअश्विनीकुमारउपाध्यायनेजनहितयाचिकामेंकहाकि2019केलोकसभाचुनावमेंजीतदर्जकरनेवाले539उम्मीदवारोंमेंसे233(43फीसदी)नेअपनेखिलाफआपराधिकमामलोंकेबारेमेंघोषणाकीथी।वकीलअश्विनीकुमारदुबेकेमाध्यमसेदाखिलकीगईजनहितयाचिकामेंकहागयाकिवर्ष2009सेऐसेसांसदोंकीसंख्यामें109फीसदीकाइजाफादर्जकियागया,जिन्होंनेअपनेखिलाफगंभीरआपराधिकमामलोंकीघोषणाकी।इसमेंकहागयाकिएकसांसदनेअपनेखिलाफदर्ज204आपराधिकमुकदमोंकीघोषणाकीथी,जिनमेंगैरइरादतनहत्या,घरमेंजबरनघुसने,लूटऔरआपराधिकधमकीआदिसेसंबंधितमामलेशामिलहैं।याचिकामेंकहागया,''चिंताजनकबातयहहैकिआपराधिकछविवालेप्रत्याशियोंऔरउनकेजीतनेकीसंभावनाकेप्रतिशतमेंपिछलेकुछवर्षोंमेंवृद्धिहुईहै।''