घृणा छोड़कर प्रेम बसा लो संबंधों की डोली में..

जागरणटीम,आगरा।रामलीलामैदानमेंशुक्रवाररातआयोजितकविसम्मेलनमेंकभीहास्यकीफुलझड़ियांछूटींतोकहींयुवारोमांचितहोकरतालियांबजानेलगे।श्रगारऔरवीररसनेश्रोताओंकोमंत्रमुग्धकरदिया।

कविविनोदसांवरियानेघृणाकोत्यागकरप्रेमकरनेकीसीखदेतेहुएकहा'बचपनकीनादानीभरलोअरमानोंझोलीमें,इंद्रधनुषकेरंगसजालोजीवनकीरंगोलीमें।मांकीगोदीसेमरघटतकचारदिनोंकामेला,घृणाछोड़करप्रेमबसालोसंबंधोंकीडोलीमें।'कविशाहिदमहकनेइनपंक्तियोंकेमाध्यमसेश्रोताओंकोबांधा।कहा,'रंगउतरगयाहोता,मैंसचबोलबोलकरगयाहोता।'नारायणहरीनमनने'तरह-तरहकेफूलखिलेहैढांचारंग-बिरंगाहै,आनतिरंगाशानतिरंगाअपनाकफनतिरंगाहै।'राजकुमाररंजन,शमीरकौसर,विपिनचौहान,रजियाबेगम,मनोजशुक्ल,डावीपीमिश्र,राजेशवफा,गणेशशंकरविद्यार्थी,कुगायत्रीमिश्रा,पवनटाइगरनेभीकाव्यपाठकिया।अध्यक्षताचेयरमैनसुनीलबाबू,मुख्यअतिथिमानवेंद्रसिंहराठौड़औरअधिशासीअधिकारीराजेशकुमारवर्मानेदीपप्रज्ज्वलितकरकविसम्मेलनकाशुभारंभकिया।रामवरनकुशवाह,श्यामशर्माकासहयोगरहा।आमजनकोदेंसरकारकीयोजनाओंकीजानकारी

जागरणटीम,आगरा।बरौलीअहीरकेब्लाकप्रमुखउत्तमसिंहनेकहाकिक्षेत्रपंचायतसदस्यअपने-अपनेक्षेत्रोंमेंजाकरआमजनकोकेंद्रवप्रदेशसरकारकीजनकल्याणकारीयोजनाओंकीजानकारीदेंताकिआमजनइनकालाभलेसकें।शनिवारकोक्षेत्रपंचायतकीबैठकमेंउन्होंनेकहाकिपेयजलसंकटकोदूरकरनेकेलिएक्षेत्रमेंसबमर्सिबललगवादीगईहै।सड़कोंकीमरम्मतकाकामशुरूहोचुकाहै।

बैठकमेंसीएचसीअधीक्षकडा.अजयविक्रमसिंहनेक्षेत्रपंचायतसदस्योंकोडेंगूसमेतमौसमीबीमारियोंसेबचावकीजानकारीदी।मधुलिकानेश्रमविभागकीयोजनाओंसेअवगतकराया।सहायकविकासअधिकारीपंचायतसुरेशसिंहभदौरियानेसफाईपरजोरदिया।बैठकमेंप्रदीपशर्मा,सुरेश,नेत्रपाल,प्रदीपकुशवाहा,गोपालकुशवाहा,मनमोहन,राजू,सुभाषचंद,जितेंद्रउपस्थितरहे।