गाय के गोबर से बनी सुगंधित धूपबत्ती से महकेगा पर्यावरण

रितुराणा,पूर्वीदिल्ली

गायकेगोबरसेबनीधूपबत्तीनकेवलपर्यावरणसंरक्षणकेलिएलाभदायकहै,बल्किआत्मनिर्भरभारतकीओरभीएककदमहै।इसीउद्देश्यसेपश्चिमीकरावलनगरमेंरहनेवालेतीनयुवादीपक,परागसोलंकीबाबाऔरविक्रमबिष्टमिलकरदेसीगायकेगोबरसेधूपबत्तीबनाकरप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकेआत्मनिर्भरभारतअभियानकाहिस्साबनगएहैं।धूपबत्तीकेसाथवेहवनसामग्रीकेलिएउपलेआदिभीतैयारकररहेहैं।

विक्रमबिष्टनेबतायाकियहधूपबत्ती70फीसदगोबरऔर10जड़ीबूटियोंसेतैयारकीजारहीहै।उन्होंनेकहाकिइसतरहलोगगोबरकोनालियोंमेंबहानेकीजगहइसकाउपयोगकररोजगारकमासकतेहैं।तीनोंदोस्तमिलकरफेसबुकववाट्सएपकेमाध्यमसेलोगोंसेअपीलकररहेहैंकिवेगोमाताकेगोबरसेबनीइससुगंधितवप्राकृतिकधूपबत्तीकाइस्तेमालकरें।इससेनकेवलपर्यावरणशुद्धरहेगा,बल्किआत्मनिर्भरभारतअभियानमेंसहयोगमिलेगा।रोजानालोनीसेढोकरलातेहैंगोबरधूपबत्तीबनानेकेलिएलोनीस्थितश्रीबालाजीशरणमगोशालासेरोजाना15लीटरकीतीनबाल्टियोंमेंभरकरगायकागोबरआताहै।दीपकनेबतायाकिवेतीनोंरोजगोबरलातेहैंऔरउससेएकदिनमेंही60-70पैकेटधूपबत्तीतैयारकरलेतेहैं।वेहाथोंसेहीधूपबत्तीबनातेहैं।उनकेपासमध्यप्रदेशसेभीधूपबत्तीकाऑर्डरआयाहै।दिल्लीमेंकईक्षेत्रोंसेइसकीमांगआरहीहै।एकपैकेटमेंधूपबत्तीके20पीसहैं,जिसकामूल्यमात्र20रुपयेहै।उन्होंनेकहाकिइससेएकओरगोमाताकासंरक्षणहोगा,दूसरास्वरोजगारकोभीबढ़ावामिलेगा।परागसोलंकीनेबतायाकिगायकेगोबरसेनिर्मितधूपकेअंदरकईप्रकारकीशुद्धवसुगंधितजड़ीबूटियोंकाप्रयोगकियागयाहै।साथहीहाथसेहीयहप्राकृतिकधूपबत्तीतैयारहोरहीहै।धूपमेंगोबरकेअलावाकपूर,देशीघी,चंदन,लोभान,जटामासी,कालीमिर्चजैसीसामग्रियोंकाप्रयोगकियाजाताहै।सभीउत्पादप्राकृतिकहैं।