गांव सेखा की 400 एकड़ में धान की सीधी बिजाई की गई

हेमंतराजू,बरनाला

लॉकडाउनकेचलतेपंजाबसेलाखोंमजदूरअपनेराज्योंवघरोंमेंचलेगएहैं,जिससेकिसानोंकोधानकीरोपाईकेलिएचितासतानेलगी।इनहालातोंसेपारपानेकेलिएज्यादातरकिसानमशीनरीखरीदकरधानकीसीधीबिजाईवमेड़वालीरोपाई(बेडप्लांटिग)करनेलगेहैं।बरनालाकेगांवसेखामेंखेतीबाड़ीविशेषज्ञडॉ.दलेरसिंहवखेतीबाड़ीविशेषज्ञडॉ.बलविदरसिंहकीप्ररेणासेइसबार400एकड़मेंसीधीबिजाईहोगी।शुक्रवारकोकिसानपालसिंहबड़ैच,केसरसिंहबड़ैच,किसानगुरतेजसिंहवकिसानगुरविदरसिंहनेनईप्रक्रियासेखेतीशुरूकी।डॉ.बलदेवसिंहनेकहाकि5600एकड़मेंसेपांचहजारएकड़मेंधानकाउत्पादनहोरहाहैं।

डॉ.दलेरसिंहनेबतायाकिकिसानजबगेहूंकाटकरतूड़ीबनाताहैंतोवहधानकीरोपाईकेबारेमेंसोचनेलगताहै।तबउसकेमनमेंडरहोताहैंकिनाड़कोजबवहकद्दूकरकेधानकीरोपाईकरेगातोनाड़धानकीपनीरीकोडुबोकरखराबकरदेगी।यहींकारणहैकिवहनाड़कोभीआगलगादेताहै।कद्दूकरकेधानलगानेकेसाथधरतीसेआक्सीजननिकलजातीहै।जबधानबढ़नाशुरूहोताहैंतोमीथेनगैसनिकलतीहै।यहगैसगेहूंकेनाड़वपरालीकेनाड़कोजलानेकेसाथपैदाहुएधुंएसेभी23गुणाज्यादाखतरनाकहै।डॉ.दलेरनेबतायाकिखेतोंमेंलगातारकद्दूकरनेकेसाथजमीनकीऊपरवालीसतहपरएकसख्तसीमेंटजैसीपरतबनजातीहै।जिसकोसोडियमलेयरकहाजाताहै।यहपरतजमीनमेंपानीनहींजानेदेतीहै।जिससेधानकेखेतोंकापानीवाष्पबनमीथेनगैसपैदाकरताहै।वहीमीथेनगैससेमित्रकीड़ेभीमरजातेहैं।-बॉक्सन्यूज-

खेतीबाड़ीविशेषज्ञडॉबलविदरसिंहबुटारीनेकिसानोंकोधानकीसीधीबिजाईकेलिएप्रेरितकरतेहुएकहाकियहगैसकार्बनडाइआक्साइडसे22प्रतिशतअधिकखतरनाकहै।इसकेअलावासूखीजमीनतैयारकरकेआलूकीमेडीकीतरहधानरोपाईयानिबेडप्लांटिंगभीकाफीलाभदायकहै।इसमें14इंचटेपरबनानाहोताहै।जिसमेंपानीकररोपाईकीजातीहै।इससेपानीकीबचतकेसाथउत्पादनभीअधिकहोताहै।इससेफसलकाबीमारीभीकमलगतीहै।प्रदूषणवपानीकामुद्दाविश्वकामुद्दाबनचुकाहै

किसानगुरविदरसिंहनेकहाकिवह23एकड़जमीनपरधानकीसीधीबिजाईकीखेतीकरताहैं।उन्होंनेअपनीमशीनरीभीखरीदलीहैवअपनेआसपासकेअन्यगांवोंकेकिसानोंकेखेतोंमेंजाकरकुछहीखर्चपरसीधीबिजाईकरवातेहै।आजप्रदूषणवपानीकामुद्दासारीदुनियाकाबनचुकाहैवउसनेगुरुसाहिबकेदर्शाएमार्गपरचलतेहुएफसलोंकीअवशेषकोआगनहींलगाईवइसकोखेतोंमेंमिलाकरखाद्यबनाकर,फव्वारेकेसाथपानीलगाकरपानीबचातेहुएकद्दूकरनाछोड़करधानकाज्यादाझाड़हासिलकियाहै।वेकभीभीनाड़कोआगनहीलगातेहैं

किसानगुरतेजसिंहनेकहाकिवह20एकड़मेंसीधीबिजाईकीखेतीकरतेहैंवअबउन्होंनेअपनीमशीनरीभीखरीदलीहैवअपनेआसपासकेअन्यगांवोंकेकिसानोंकेखेतोंमेंजाकरकुछहीखर्चपरसीधीबिजाईकरवातेहैं।वेकभीभीनाड़कोआगनहीलगातेहैं।पानीबचानेवशुद्धपर्यावरणबचानेकेलिएसभीआएंआगे

किसानकेसरसिंहबड़ैच,पालसिंहबड़ैचनेकहाकिवह30एकड़मेंसीधीबिजाईकीखेतीकरतेहैं।उन्होंनेकहाकिआजकलगेहूंकेनाड़केअवशेषकोखेतसेसाफकरनेकेलिएकुछकिसानोंद्वाराआगलगानेकीघटनाएंकीगईहैं।पिछलेदोमाहसेलॉकडाउनकेकारणशुद्धपर्यावरणफिरसेप्रदूषितहोरहाहै।हमसभीकोपानीबचानेवशुद्धपर्यावरणबनानेकेलिएकामकरनाचाहिए।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!