गांव का विकास कैसे होता है, हरपति से पूछ रहे प्रधान

नवनीतशर्मा,मेरठ।सरूरपुरविकासखंडकागांवडाहरइनदिनोंजिलाप्रशासनकेलिएचर्चाकाविषयबनाहै।गांवकीनवनिर्वाचितमहिलाप्रधानहरपतिकीसमझनेगांवकारूपबदलदियाहै।गांवमेंस्वच्छताव्यवस्थाकेसाथ-साथपुस्तकालय,बास्केटबालकोर्ट,महिलाओंकेलिएपिंकजिम,युवाओंकेलिएखेलमैदानआदिकानिर्माणकरायागयाहै।

गांवडाहरकीनवनिर्वाचितग्रामप्रधानहरपतिदेवीकीशिक्षातोअक्षरज्ञानतकहीहै,लेकिनउनकीसमझऔरविकासकीचाहनेउन्हेंअन्यप्रधानोंसेअलगखड़ाकरदियाहै।गांवमेंमहिलाओंकेलिएओपनपिंकजिमखोलनेकेसाथयुवाओंकेलिएबास्केटबालकोर्टकानिर्माणभीकरायाहै।पूर्वमेंमुक्तकराईग्रामसभाकीजमीनपरखेलमैदानविकसितकियाहै।यहांसुबह-शामयुवाखूबपसीनाबहातेहैं।महिलाएंभीजिममेंकसरतकररहीहैं।

शिक्षाकासमझामहत्व,बनरहापुस्तकालय

खुदअशिक्षितहोनेकेबादभीहरपतिनेशिक्षाकामहत्वकोबखूबीसमझा।अपनेबच्चोंकोपढ़ानेकेसाथगांवकेबच्चोंमेंभीशिक्षाकीअलखजगानेकेलिएगांवमेंपुस्तकालयखोलाजारहाहै।कुछअच्छाकरनेकीसोच

ग्रामप्रधानहरपतिबतातीहैंकिउनकेपतिरामपालसिंहभवनमिस्त्रीहैं।ग्रामीणोंकेआग्रहपरचुनावलड़ाऔरलोगोंनेजितायाभी।अबगांवकेलिएकुछअच्छाकरनेकासोचाहै।कुछकामहोचुकेहैं,बहुतकुछबाकीहै।अबअन्यगांवोंकेप्रधानभीगांवमेंआकरविकासकार्यदेखतेहैं।

गांवडाहरमेंकाफीविकासकार्यकराएगएहैं।ग्रामप्रधानकाफीसकारात्मकसोचकीहैं।प्रशासनकाभीउन्हेंपूरासहयोगहै।अन्यप्रधानोंकोभीइसीसोचकेसाथआगेबढ़नाचाहिए।

-शशांकचौधरी,सीडीओ