Flood In Varanasi : पानी से घिरे मकान में तड़प रही प्यास, कम होते जलस्‍तर संग बढ़ी दुश्‍वारियां

जागरणसंवाददाता,वाराणसी।गंगावउसकीसहायकनदियोंमेंआईबाढ़मेंप्रभावितलोगोंकेलिएहरदिनसंघर्षभराहै।जिंदगीकेलिएजद्दोजहदइसकदरहोरहीहैकिअहसासमात्रसेहीदर्दकलेजेकोचाककरदेरहाहै।विषमहालातकोयूंसमझिएकि''सारासमंदरमेरेपासहैऔरएकबूंदपानीमेरीप्यासहै...Ó।बाढ़केपानीसेघिरेमकानों,घरोंमेंठौरलिएलोगोंकीयहीहकीकतहै।पानीकीएक-एकबूंदकेलिएप्यासेतड़परहेहैं।इसकाअंदाजानगरनिगमप्रशासनकोउसवक्तलगाजबशुक्रवारकोमहापौरमृदुलाजायसवालनेअफसरोंकेसाथराहतसामग्रीवितरितकरनेकेलिएबाढ़क्षेत्रमेंपहुंचीं।

कोनियाइलाकेमेंघिरेमकानोंसेएकहीआवाजआरहीथी-जनाब,पानीहैतोदेदीजिए...।आवाजसुनकरअपरनगरआयुक्तदेवीदयालवर्माघरकेपासपहुंचे।तीननावोंमेंसवारउपसभापतिनरसिंहदास,पार्षदशिवप्रकाशमौर्या,श्यामआसरेमौर्या,सुरेशचौरसिया,रोहितमौर्या,पूर्वपार्षदशोभनाथ,अजयगुप्ता,अपरनगरआयुक्तदेवीदयालवर्मा,जोनलस्वास्थ्यअधिकारीरामसकलयादवआदिकेसहयोगसे20लीटरकीक्षमतावालेपानीकाकेनदिया।राहतसामग्रीदेनीचाहीतोघरवालोंनेमनाकरदिया।कहाकिखाने-पीनेकेलिएकईसंस्थावराजस्वविभागकेलोगपहुंचादेतेहैंलेकिनकोईपानीकीकमीकोनहींदूरकररहा।तीनदिनसेप्यासाहूं।थोड़ासापानीहैजिसेबंूद-बूंदकरघरकेसदस्यपीरहेहैं।श्रीमान,यदिपानीकाकेनऔरहोतोउपलब्धकरादें।बड़ीकृपाहोगी।बाढ़प्रभावितलोगोंकीबातेंमहापौरतकपहुंचीं।उन्होंनेनगरआयुक्तप्रवणसिंहसेबातकी।तयहुआकिबाढ़पीडि़तोंकेलिएपानीकाइंतजामनगरनिगमप्रशासनकरेगा।महापौरकोनियावसरैयांमेंबाढ़प्रभावितलोगोंकोराहतसामग्रीकेसाथपानीकीउपलब्धतासुनिश्चितकराई।करीबएकसौपानीकेकेनकीआपूर्तिकीगई।150लोगोंकोराहतसामग्रीदी।

बाढ़केहालात:गंगाकेजलस्तरमेंतेजीसेघटावहोरहाहै।इसकाअसरगंगासमेतसहायकनदियोंवरुणा,असि,गोमती,नादआदिकेजलप्रवाहमेंदिखाईदेरहाहै।पानीनदियोंकेकिनारेकोछोड़तीजारहीहैं।घरोंसेभीपानीनिकलनेकाक्रमशुरूहोगयाहै।केंद्रीयजलआयोगकेअनुसारशुक्रवारकोरातआठबजेगंगाकाजलस्तर72.10मीटररहा।घटावकीरफ्तारदोसेंटीमीटरप्रतिघंटाहै।सुबहछहबजेसेगंगाकेजलस्तरमेंघटावकीरफ्तारएकसेंटीमीटरप्रतिघंटाथीलेकिनशामसातबजेघटावकीरफ्तारमेंतेजीआई।प्रतिघंटादोसेंटीमीटरसेजलस्तरघटनेलगा।अनुमानकेमुताबिकशनिवारकोसुबहआठबजेगंगाकाजलस्तर71.78मीटरसेभीकमहोजाएगा।गंगाकेजलस्तरमेंघटावऊपरकेजिलोंसेहीशुरूहोगयाहै।फाफामऊमेंतीनसेंटीमीटरकीदरसेजलस्तरघटरहाहै।रातआठबजेजलस्तर87.13मीटररहा।ऐसेहीप्रयागराजमें84.09मीटरथा।तीनसेंटीमीटरहरघंटेकीदरसेजलस्तरघटरहाहै।प्रयागराजमेंसुबहचारसेपांचसेंटीमीटरप्र्रतिघंटेकीरफ्तारसेजलस्तरघटरहाहै।मीरजापुरमें77.72मीटरजलस्तरथा।चारसेंटीमीटरकीदरसेजलस्तरमेंघटावदर्जकियागया।

लगेंगेटैंकर,पानीपहुंचाएंगेघर-घर: नगरनिगमप्रशासननेनिर्णयलियाहैकिबाढ़प्रभावितहरक्षेत्रोंमेंटैंकरलगाकरपानीकीआपूर्तिकीजाएगी।नगरनिगमकर्मचारी20लीटरपानीकेकेनकोघर-घरपहुंचाएंगे।इसकेलिएमहापौरकीअध्यक्षतामेंशनिवारकोअहमबैठकहोगी।इसमेंजिम्मेदारीतयकरतेहुएकमापरलगादियाजाएगा।जलकलविभागकीसहभागिताप्रमुखरूपसेहोगी।

नरोखरनालाबनानदी,चलरहींनावें:वरुणानदीसेजुड़ानरोखरनालानदीकारूपलेलियाहै।पानीइसकदरभरगयाहैकिकिनारेकेघरोंमेंपानीभरगयाहै।गलियोंमेंपानीभरनेसेआगमनकेलिएनावेंचलाईजारहीहैं।इलाकेमेंस्थितसेंटमेरीजस्कूलकीओरसेसैकड़ोंप्रभावितलोगोंकोसहारादियागयाहै।वहीं,भाजपाकिसानमोर्चाकेमहामंत्रीजयनाथमिश्राभीकार्यकर्ताओंकेसाथराहतपहुंचनेमेंजुटगएहैं।शुक्रवारकोसोनातालाबकेवैष्णवनगरकालोनीमेंराहतसामग्रीबांटा।बीमारलोगोंकोदवाएंभीउपलब्धकराईगईं।किसानमोर्चाकेक्षेत्रीयमीडियाप्रभारीज्ञानेशजोशी,आदित्यसेठ,देवेशपटेल,मयंकचौबे,राकेशजायसवाल,राजेशयादव,शमीमअहमद,अमितकुशवाहाआदिसहयोगमेंशामिलथे।

घरोंमेंरखेकीमतीसामानोंकीचिंता:सारनाथकेसलारपुरडिपोकालोनीकेपीछेकीबस्तीमेंदजनोंमकानोंमेंपानीघुसगयाहै।लोगखुलेआसमानकेनीचेपालीथिनडालकररहरहेहै।वही,पानीमेंडूबेमकानोंमेंरखेकीमतीसामानोंकीचिंतासतारहीहै।कामधंधाबंदहै।बच्चोंकेलिएदूधवखानापकानेकेलिएईंधनकीसमस्याहोगईहै।बाढ़प्रभावितसावनकुमार,राधेश्याम,हीरा,रामचंद्र,गीता,शीलाआदिनेबतायाकिखुलेआसमानकेनीचेपालीथिनडालकरगुजरबसरकररहेहैं।कहाकिअबतकएकबारहीराहतसामग्रीमिलीहै।वहीं,सलारपुरबाढ़राहतशिविरमेंशरणलींरेखावसीतानेबतायाकिमकानमेंपानीभरगयाहै।परिवारकेसदस्यशिविरमेंआगएहैं।चोरइसकाफायदाउठानेमेंलगेहैं।चारदिनपूर्वरसुलगडमेंचोरीकेसमानकेसाथक्षेत्रीयलोगोंनेएकव्यक्तिकोपकड़ाथा।इसइलाकेमेंराजस्वविभागकीटीमनेशुक्रवारको120लोगोंकेबीचराहतसामग्रीकावितरणकिया।

जेपीमेहतामेंआदर्शइंतजाम:जेपीमेहतास्थितबाढ़राहतकेंद्रमेंव्यवस्थादुरुस्तहैं।पशुओंकेलिएकालेजपरिसरकेपिछलेहिस्सेमेंइंतजामकियागयाथा।वहीं,परिवारवालोंकेलिएपरिसरकीकक्षाओंमेंरहनेकाइंतजामहै।बिजली,पंखा,पेयजल,बिस्तरआदिकीसमुचितव्यवस्थाकीगईहै।जेपीमेहतापरिसरमें14परिवारकेकरीब21सदस्यठहरेहैं।सिकरौलनिवासीदिनेशकुमारगोंडनेबतायाकिनाश्ता,भोजनआदिकीबहुतअच्छीव्यवस्थाहै।सबकुछसमयसेमिलजाताहै।प्रमिलादेवीकाकहनाहैकिहरसालबाढ़मेंराहतशिविरकीओररुखकरनापड़ताहै।पूराघरपानीमेंडूबगयाहै।सरकारीमददमिलजातीतोअच्छारहता।