एक हजार हेक्टेयर भूमि पर सूखे का संकट

संवादसहयोगी,रुद्रप्रयाग:पूरेदेशमेंमानसूनसेजहांहाहाकारमचारहाहै,वहींजनपदमेंअभीतकमानसूनठीकढंगसेनहींबरसाहै।जुलाईकामहीनेआधासेअधिकबीतगयाहै,लेकिनअबतकधानकीरोपाईनहींहोपाईहै।गदेरेवालेवजिनक्षेत्रोंमेंनहरसेपानीआताहै,वहांरोपाईहुईहै,जोक्षेत्रबरसातकेपानीपररोपाईकेलिएनिर्भररहताथा,वहांरोपाईनहींहोपाईहै।

मानसूनकासीजनशुरूहोचुकाहै।पूरेदेशमेंमानसूनइसकदरबरसरहाहैकिवहांपूरेखेतखलिहानपानीसेलबालबहैं,लेकिनजनपदमेंठीकइसकेउलटहैं।इंद्रदेवजनपदवासियोंपरमेहरबाननहींहै।जुलाईकामहीनाआधासेअधिकबीतचुकाहै,लेकिनअभीतकधनपुर,जखोली,रानीगढ़,दशच्यूलासमेतकईऊंचाईवालेस्थानोंपररोपाईनहींहुईहै।यदिशीघ्रहीबारिशनहुईतोखेतसूखजाएंगे।आमतौरपरजूनमहीनेतकहरस्थितिमेंरोपाईहोजातीथी।

जनपदमेंकुल8500हेक्टेयरभूमिपरधानकीखेतीहोतीहै,जिसमेंसेएकहजारहेक्टेयरपरअभीतकरोपाईनहींहोसकीहै,जबकिअधिकांशक्षेत्रोंमेंजहांरोपाईहुईहैवहांभीपर्याप्तमात्रामेंपानीनहींथा,जैसे-तैसेरोपाईकीगईहै,जिससेइसबारधानकीफसलकोभीइसकाभारीनुकसानहोगा,जिसकासीधाअसरकिसानोंपरपड़ेगा।

जखोलीक्षेत्रकेकिसानधर्मानंदबतातेहैंकिइसबारबारिशनहोनेसेखासीदिक्कतकासामनाकरनापड़ा।लस्तरनहरपरपानीतोआयाहै,लेकिनपर्याप्तमात्रामेंनहींआया,जबकिकईस्थानोंपरपानीउपलब्धनहोनेसेकिसानोंनेबिनारोपाईकेहीधानबोदी।धनपुरपट्टीकेराजेंद्रचौधरीकहतेहैंकिअभीतकखेतोंमेंरोपाईनहींकरसकेहैं,बारिशनहींहुईहै।बतायाकिधनपुरकेकईक्षेत्रोंमेंबिनरोपाईकेहीखेतरहजाएंगे,जिससेगरीबकिसानकोभारीनुकसानहोगा।

बारिशसेधानकीफसलपरकितनाप्रभावपड़ाहै,इसकेलिएरिपोर्टमंगवाईजारहीहै।इसकेबादहीसहीस्थितिकापताचलसकेगा।

सहायकजिलाकृषिअधिकारी,रुद्रप्रयाग