एक बार भी जमा नहीं किया बिजली बिल, आगरा में विद्युतकर्मियों के लिए बने सिरदर्द बने ऐसे उपभोक्‍ता

आगरा,जागरणसंवाददाता।विद्युतबिलकेबकाएदारविद्युतकर्मियोंकेलिएसिरदर्दबनहोरहेहैं।जिलेमेंलगभगपांचहजारऐसेउपभोक्ताओंहैं,जिन्होंनेकनेक्शनलेनेकेबादसेएकभीबारविद्युतबिलजमानहींकियाहै।विद्युतकर्मीइनउपभोक्ताओंपरकार्रवाईभीकरचुकेहैं।

दक्षिणांचलविद्युतवितरणनिगमलिमिटेड(डीवीवीएनएल)कीबिजलीआपूर्तिसिकंदरावबोदलाकेकुछहिस्सासहितआगरादेहातमेंहै।जिसेकमलानगरवफतेहाबाददोविद्युतवितरणमंडलमेंबांटरखाहै।दोनोंमंडलोंमेंविभागकीमोतीरकमबकायाहै।विद्युतवितरणमंडलप्रथम(कमलानगर)मेंतीनहजारसेज्यादाउपभोक्ताहैं।जिन्होंनेवर्ष1989सेवर्ष2006केबीचकनेक्शनलियाथा।इनमेंसेकाफीउपभोक्ताओंनेकनेक्शनलेनेकेबाददोबाराविद्युतविभागकीतरफमुड़करनहींदेखा।आजतकएकमाहकाभीबिलजमानहींकिया।वितरणमंडलकेअधिकारियोंनेसूचीतैयारकरकेसर्वाधिकउपभोक्ताओंपरकार्रवाईकाचाबुकभीचालदियाहै।

रोजानाकाटरहे250कनेक्शन

विद्युतकर्मीबकाएदारउपभोक्ताओंसेबिलवसूलनेकेलिएअभियानचलाकरकनेक्शनकाटरहेहैं।देहातमेंरोजानालगभग250बकाएदारोंकेकनेक्शनकाटेजारहेहैं।काफीबकाएदारोंकीआरसीभीजारीहोचुकीहै।विद्युतकर्मियोंनेकनेक्शनकाटनेवालोंकीसूचीमेंऐसेउपभोक्ताशामिलकिएहैं,जिन्होंनेतीनमाहबिलजमानहींकियाहै।हजाररुपयेसेअधिककेबकाएदारोंपरकार्रवाईकीजारहीहै।जिससेप्रत्येकमाहमिलनेवालाराजस्वकालक्ष्यपूराहोसके।