दुष्‍कर्म पीडि़त 10 साल की बच्ची व पुलिस जांच अधिकारी एक साथ बनेंगी मां

चंडीगढ़,[डॉ.सुमितसिंहश्योराण]।दससालकीदुष्‍कर्मपीडि़ताबच्‍चीऔरउसकेमामलेकीजांचकररहीमहिलापुलिसकर्मीएकसाथयेदोनोंमांबनेंगी। दोनोंरहतीभीज्यादातरसमयसाथहैं।यहपुलिसअधिकारीअपनीचिंतावकष्टभूलइसबच्चीपरममतालुटारहीहै।उसेमानसिकतौरपरतैयारकररहीहै।सुप्रीमकोर्टकेफैसलेकेबाददससालकीदुष्कर्मपीड़िताबच्चीकोअबगर्भमेंपलरहेबच्चेकोजन्मदेनाहीहोगा।

पूरेमामलेमेंइसबच्चीकोजिंदगीकेसबसेकड़ेइम्तिहानसेगुजरनापड़रहाहै।यहसोचकरहीहरकोईसिहरउठताहैकिवहइतनीमानसिकवशारीरिकपीड़ाकैसेसहेगी?सुकूनकेवलयहीहैकिएकसंबलउसेमिलगयाहै।वहहैचंडीगढ़पुलिसकीएएसआइऔरइसमामलेकीजांचअधिकारीप्रतिभा।

2009मेंचंडीगढ़पुलिसमेंभर्तीहुईप्रतिभाइनदिनोंसेक्टर-39केथानेमेंतैनातहै।वहमूलत:हरियाणाकेमहेंद्रगढ़जिलेकीरहनेवालीहैं।प्रतिभाहररोजबच्चीकेघरपरतोजातीहीहैं,साथहीउसकेसाथदेरशामतकफोनपरभीसंपर्कमेंरहतीहैं।कुछहीदिनोंमेंदोनोंकेबीचएकखासरिश्ताबनगयाहै।वहअपनीतकलीफोंकोछोड़उसबच्चीकीजिंदगीऔरउसकेहोनेवालेबच्चेकेलिएघंटोंतकअपनाआरामछोड़उसकेसाथरहतीहै।

दिनमेंड्यूटीकेसाथहीवहकिसीभीसमयलड़कीेकेघरपरजाकरउसकाहालचालपूछनेचलीजातीहैं।यहसिलसिलापिछलेकाफीदिनोंसेचलरहाहै।बच्चीतोबच्चीहै।उसेममतामयीस्पर्शमिलातोजांचअधिकारीसेरिश्तालगातारमजबूतहोताजारहाहै।वहमांकीतरहइसमहिलाअधिकारीकेसाथवक्तबितानापसंदकरतीहैऔरबहुतसारीबातेंशेयरकरतीहै।प्रतिभाकोभीडॉक्टरोंनेहालांकिइनदिनोंअपनाख्यालरखनेकोकहाहैलेकिनवहइसबच्चीकाअपनेसेभीज्यादाख्यालरखरहीहैं।

इसबच्चीसेजुड़ेमामलेमेंकोर्टकीहरपेशीमेंजातीहैं।पताचलाकिकईबारप्रतिभाकीसेहतबिगड़ीभी,लेकिनउन्होंनेलड़कीकेसाथजुड़ेरहनेकाफैसलाकिया।पुलिसअधिकारीभीप्रतिभाकेइसजज्बेकीदाददेरहेहैं।एकबड़ेअधिकारीकोजबखुदआइओकेगर्भवतीहोनेकेबारेमेंजानकारीमिलीतोउन्होंनेउनसेकेससेहटनेकीऑफरभीदी,लेकिनमहिलाअधिकारीनेइससेमनाकरदिया।कोर्टमेंकाफीसमयखड़ेरहतेहुएमहिलाअधिकारीकेपैरोंमेंसूजनतकआगई,लेकिनउन्होंनेहिम्मतनहींहारी।

खुददेखरहीपूराडाइटचार्ट

डॉक्टरोंद्वारावैसेतोरेपदुष्कर्मपीड़ितबच्चीकेलिएपूराडाइटचार्टबनायागयाहैलेकिनप्रतिभारोजखुदजाकरदेखतीहैंकिबच्चीकेखानेमेंकोईकमीतोनहींरहगईहै।कईबारयहअधिकारीशामकेसमयबच्चीकेघरपरभीपहुंचजातीहैं।

यहभीपढ़ें:प्रेमीसंगआपत्तिजनकहालतमेंथीमहिला,पतिनेदोनोंकोगोलियोंसेभूनडाला

''मैंकोईबड़ाकामनहींकररही।यहतोहरइंसानकीड्यूटीहैकिवहजरूरतमेंकिसीकासहयोगकरे।बच्चीकेसाथवक्तबितानामुङोभीबहुतअच्छालगताहै।बच्चीबहुतहीमासूमहै।हादसेकेबारेमेंकोईबातनहींहोती।बच्चीभीजबचाहेफोनपरबातकरलेतीहै।मुझेभीबच्चीकासाथकाफीअच्छालगताहै।कईबारउसकीमासूमियतभरीबातोंपरदिलभरआताहै।बच्चीकास्वास्थ्यवैसेतोठीकहै,लेकिनउसेआनेवालेदिनोंमेंकाफीदेखभालऔरइमोशनलसपोर्टकीजरूरतहै।

-प्रतिभा,एएसआइ,चंडीगढ़।

माता-पितागहरेसदमेमें

दुष्कर्मकेबादप्रेगनेंटहुईदसवर्षीयबच्चीकेमातापितागहरेसदमेमेंहैं।डॉक्टरोंकीएकटीमलगातारउनकीकाउंसलिंगकररहीहै।माता-पिताइतनेपरेशानहैंकिउन्होंनेकिसीसेबातकरनेसेभीइंकारकरदियाहै।सुप्रीमकोर्टनेबच्चीकेगर्भपातकीइजाजतनहींदीहैऔरमेडिकलबोर्डनेभीअपनीरिपोर्टमेंगर्भपातकोबच्चीकेलिएखतराबतायाहै।ऐसेमेंबच्चीकेमातापिताकीभीचिंताबढ़गईहै।यहीकारणहैकिडॉक्टरोंकीएकटीमलगातारउनकेसंपर्कमेंहै।

डाइटकेलिएदसहजाररुपयेजारीकिए

पीजीआइकीडॉक्टरोंकीटीमनेबच्चीकेलिएएकडाइटचार्टभीबनायाहै,ताकिप्रेगनेंसीकेदौरानउसकीडाइटकापूराध्यानरखाजासकेऔरउसकास्वास्थ्यठीकरहे।माता-पिताकोभीजागरूककियाजारहाहै।प्रशासनकीओरसेडाइटकेलिए10हजाररुपयेभीजारीकिएगएहैं।

यहभीपढ़ें:प्रिंसिपलबनातीथीछात्रसेशारीरिकसंबंध,मनाकियातोस्‍कूलसेनामकाटा

बच्चीकोकहींभीलाने-लेजानेकीव्यवस्थास्‍वास्‍थ्‍यविभागनेकीहै।डिपार्टमेंटनेपीड़िताकोकहींभीलेजानेवछोड़नेकीव्यवस्थाकीहै।इसकेलिएकुछवाहनलगाएगएहैं,ताकिबच्चीकोहॉस्पिटलयाअन्यकिसीजगहपरलेजानेमेंपरेशानीनहो।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!