दो हजार की जगह पांच में हो रही सिटी स्कैन

जासं,बठिडा:कोविड-19महामारीकोदेखतेहुएपंजाबसरकारकीतरफसे19नवंबर2020कोसिटीस्कैनसेंटरोंकोचेस्टकेसीटीस्कैनकेमरीजोंसेमात्रदोहजाररुपयेफीसलेनेकेआदेशदिएगएथे,लेकिनशहरकेकईप्राइवेटसिटीस्कैनसेंटरोंद्वारासरकारकेआदेशोंकीजमकरधज्जियांउड़ाईजारहीहैं।सेंटरसंचालकोंकीतरफसेसिटीस्कैनकेलिए3500सेलेकर5000रुपयेतकवसूलेजारहेहैं।

हालांकिअस्पतालप्रबधकोंकादावाहैकिवहसरकारकीतरफसेजारीगाइडलाइनोंकापालनकररहेहैं।इसमेंअगरकोईकोविडमरीजवउसकेस्वजनउनकेपासरिपोर्टपाजिटिवदेतेहैंतोउसमेंसरकारीहिदायतोंकेअनुसारहीफीसलीजारहीहै।वर्तमानमेंउनकेसेंटरोंमेंअन्यइन्फेक्शनसेग्रस्तमरीजभीआतेहैं,जिनसेनार्मलवखर्चेकेअनुसारफीसलेकरबाकायदास्लिपदीजारहीहै।इससंबंधमेंनौजवानवेलफेयरसोसायटीकेअध्यक्षसोनूमाहेश्वरीनेइंटरनेटमीडियापरपोस्टशेयरकरतेहुएबतायाकिपंजाबसरकारकेसेहतवपरिवारभलाईविभागकीओरसेकोरोनामहामारीकोदेखतेहुएसभीसिविलसर्जनों,डिप्टीकमिश्नरोंवअन्यउच्चाधिकारियोंकोपत्रजारीकरकेछातीकीसिटीस्कैनिंगके2000रुपयेनिर्धारितकरनेवइसेयकीनीबनानेकेनिर्देशदिएगएथे।इसमेंकोविडपाजिटिवहोनेयानहोनेसंबंधीकिसीतरहकीपुष्टीबिनाप्रमाणिककोविडटेस्टकेनहींकरनेकेलिएभीकहाथा,लेकिनउक्तआदेशोंकोजिलाप्रशासनिकअधिकारियोंद्वारालागूनहींकरवायाजारहाहै।अबभीलगभगसभीस्कैनसैंटरोंद्वाराछातीकीसिटीस्कैनकेलिएज्यादावसूलीकीजारहीहै।ऐसाकरकेनकेवलसरकारकेआदेशोंकाउल्लंघनकियाजारहाहैबल्किपहलेसेहीकोरोनाकीमारझेलरहेमरीजोंवउनकेपरिजनोंकीलूटभीहोरहीहै।उन्होंनेजिलाप्रशासनिकअधिकारियोंसेमांगकीहैकिइसमामलेमेंउचितकदमउठाकरलोगोंकीलूटरुकवाईजासके।