दंगल गर्ल को भी टक्कर दे रहीं हिसार की दो बहनें, दूध रोटी खाकर बनाई सेहत, विदशों तक छाईं

हिसार[वैभवशर्मा]फिल्मदंगलमेंदिखाईफोगाटबहनोंकीकहानीहिसारकेबुड़ाकगांवकीसोनूऔरपूनमपरसटीकबैठतीहैं।येदोनोंबॉक्सरबहनेंबॉक्सिंगमेंइतनीतेजहैंकिअच्छे-अच्छेबॉक्सरइनकेसामनेटिकनहींपातेहैं।इनकीकहानीकाफीरोचकहै।पिताओमप्रकाशशहरमेंट्रैक्टरसेसामानढोनेकाकामकरतेहैं।इतनीअच्छीआर्थिकस्थितिभीनहींथीकिअच्छीतैयारीहोसके।इसकेलिएपहलेबड़ीबहनसोनूनेबॉक्सिंगमेंहाथआजमायाऔरनेशनलखेलोंमेंस्वर्णपदकजीतलिया।छोटीबहनपूनमकमजोरथी।उसेसोनूबॉक्सिंगदिखानेलेगईतोउसकाजोशभीसातवेंआसमानपरपहुंचगया।

दोनोंबहनोंनेमिलकरऐसीधूममचाईकिबॉक्सिंगमेंपूनमनेएशियनखेलोंमेंगोल्डमेडलजीतलिया।इनकेपंचोंसेविपक्षीखिलाड़ीधरासाईहोनेलगे।इसकेसाथहीबेटियांबेटेकेसमानहैंजिसकोध्यानमेंरखतेहुएपितानेदोनोंबेटियोंकेबालभीलड़कोंकीतरहहीरखवाए।यहीकारणहैकिमहिलादिवसपरराज्यस्तरीयमहिलासम्मानसमारोहमेंपूनमकोसीएममनोहरलालनेसम्मानितकरनेकेलिएचयनितकियाहै।

लॉकडाउनमेंलोहेकीरॉडपरईंटेबांधकरकीट्रेनिंग,पंचिंगबैगबनाबहनकाहाथ

18वर्षीयपूनममौजूदासमयमें57किलोग्रामभारवर्गकेसाथरोहतककेनेशनलसेंटरऑफएक्सिलेंसमेंपोलेंडमेंआयोजितवर्ल्डचैंपियनशिपकीतैयारीकररहीहैं।मगरहमेशासेहीसबकुछठीकनहींथा।कोरोनाकालमेंप्रैक्टिसकोबरकराररखनाथा,प्रैक्टिसउपकरणभीखरीदनहींसकतेथे।ऐसेमेंपूनमकीतैयारीकेलिएसोनूनेलोहेकीरोडपरईंटेबांधकरएक्सरसाइजकराई।पंचकेलिएबहनऔरभाईनेअपनेहाथोंकोआगेकियाऔरप्रैक्टिसशुरूहोगई।मौजूदासमयमेंसोनूकाचयनबीएसएफदिल्लीमेंहोगयाहैवहवहींपरअपनेखेलकीतैयारीकररहीहैं।

दूध-रोटीखाकरबनाईसेहत

पिताओमप्रकाशकीसीमितआयहैतोपूनमऔरसोनूकीडाइटकेलिएकुछखासनहींथा।उन्होंनेघरपरदूधऔररोटीखाकरअपनीसेहतकोतैयारकियाहै।दोनोंबहनोंकाअबलक्ष्यहैकिजिसप्रकारसेवहअभीतकगोल्डमेडलदेशकेलिएजीततीआईंहैवहआगेआनेवालीप्रतियोगिताओंमेंएकसाथगोल्डजीतकरलाएं।

यहभीपढ़ें:मिलियेहिसारकीM.comपाससुनीतासे,नईसोचसेबनीप्रेरणा,कोरोनासंकटमेंनएआइडियासेकियाकमाल

यहभीपढ़ें:हरियाणाकीछात्रानेराकेशटिकैतकोकरदियानिरुत्तर,तीखेसवालपूछेतोछीनलियामाइक

यहभीपढ़ें:पंजाबमेंकिसानआंदोलनकीखासतैयारियां,ट्रैक्‍टरट्रालियोंकोबनायाघर,सभीतर‍हकीसुविधाओंसेलैस

हरियाणाकीखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें

पंजाबकीखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें