Diwali 2021: दिवाली सेलिब्रेशन के लिए देश की इन जगहों की करें सैर

दिल्ली,लाइफस्टाइलडेस्क।प्रकाशकापर्वदिवालीदेशभरमेंहर्षोल्लासकेसाथमनायाजाताहै।लोगोंमेंउत्साहऔरउमंगदेखाजाताहै।इसपर्वपरसार्वजनिकअवकाशरहताहै।इसमौकेपरलोगअपनेपरिवारजनोंकेसाथदिवालीमनानेकेलिएघरजातेहैं।वहीं,कुछलोगपरिवारजनोंकेसाथदिवालीसेलिब्रेशनकेलिएदेशकीचुनिंदाशहरोंकीसैरकरतेहैं।यहपर्वदेशऔरदुनियामेंएकसाथकार्तिकमहीनेमेंअमावस्याकेदिनमनाईजातीहै।अगरआपभीदिवालीसेलिब्रेशनकेलिएघूमनेकीप्लानिंगकररहेहैं,तोदेशकीइनजगहोंकीअवश्यसैरकरें।आइए,इसकेबारेमेंसबकुछजानतेहैं-

वाराणसीकोकईनामोंसेजानाजाताहै।वैदिककालमेंइसेकाशीनगरीकहाजाताथा।ऐसामानाजाताहैकियहशहरभगवानशिवजीकानिवासस्थानहै।दुनियाभरसेबड़ीसंख्यामेंश्रद्धालुऔरपर्यटककाशीघूमनेआतेहैं।दिवालीकेदिनगंगा-आरतीकेमौकेपरबड़ीसंख्यामेंश्रद्धालुजुटतेहैं।इसकेलिएअगरआपदिवालीकेमौकेपरघूमनेकीप्लानिंगकररहेहैं,तोवाराणसीकीसैरकरगंगाआरतीसहितदिवालीकेकार्यक्रममेंशामिलहोसकतेहैं।

इतिहासकेपन्नोंमेंअमृतसरशहरकानामसुनहरेअक्षरोंमेंअंकितहै।इसशहरमेंस्वर्णमंदिरस्थितहै,जोदुनियाभरमेंप्रसिद्धहै।हरसालकाफीसंख्यामेंश्रद्धालुऔरपर्यटकस्वर्णमंदिरघूमनेऔरगुरुकेदरपरमत्थाटेकनेआतेहैं।स्वर्णमंदिरभारतकीधरोहरहै।दिवालीकेमौकेपरस्वर्णमंदिरकोविशेषरूपसेसजायाजाताहै।दिवालीकात्योहारसिखधर्मकेलिएभीबेहदखासहै।इसदिनसिक्खोंकेछठेगुरु,गुरुहरगोविंदजीकोकारागारसेमुक्तकियागयाथा।इसकेलिएअमृतसरशहरमेंदिवालीकेदिनविशेषकीर्तनभजनकाआयोजनकियाजाताहै,मंदिरकोसजायाजाताहैऔरदीपजलायाजाताहै।अगरआपभीदिवालीसेलिब्रेशनकीप्लानिंगकररहेहैं,तोअमृतसरजरूरजाएं।

पश्चिमबंगालमेंमांकालीकीविशेषपूजाअर्चनाकीजातीहै।पूरेप्रदेशमेंकालीपूजाकाआयोजनकियाजाताहै।हालांकि,दुर्गापूजासेहीविशेषआयोजनकियाजाताहै।खासकरकोलकातामेंदुर्गापूजाकाभव्यआयोजनकियाजाताहै।वहीं,दिवालीकेमौकेपरशहरकोबेहतरीनढंगसेसजायाजाताहै।आपदिवालीकेमौकेपरकालीपूजापंडालोंकेसाथप्रसिद्धलक्ष्मीनारायणमंदिरकीयात्राकरसकतेहैं।आपकालीपूजाकेअवसरपरदक्षिणेश्वरऔरकालीघाटमंदिरजाकरकालीपूजाकार्यक्रममेंशामिलहोकरमाताकाआशीर्वादपासकतेहैं।