दिव्यांगों के स्मार्ट कार्ड बनाने में उत्तराखंड फिसड्डी, देश में मिला 32वां स्थान

मनीसपांडेय,हल्द्वानी:दिव्यांगोंकोविभिन्नप्रकारकीसरकारीयोजनाओंकालाभदिलानेकेलिएयूनिकडिसएबिलिटीआइडेंटिटीकार्ड(यूडीआइडी)बनानेमेंउत्तराखंडपिछड़रहाहै।प्रदेशमेंबीतेचारसालमेंकेवल8.47फीसदकार्डहीबनाएजासकेहैं।भारतसरकारकेस्वावलंबनपोर्टलकेआधारपरदिव्यांगोंकेस्मार्टकार्डबनानेमेंउत्तराखंडकादेशमें32वांस्थानहै।

दिव्यांगोंकोयूडीआइडीकेरूपमेंस्मार्टकार्डबनाकरदियाजारहाहै।जिसकेआधारपरविभिन्नसरकारीयोजनाओंवपेंशनआदिकालाभमिलरहाहै।समाजकल्याणनिदेशकराजेंद्रकुमारनेबतायाकिइसयोजनासेअबदिव्यांगोंकोसभीकागजातवप्रमाणपत्रदिखानेकीआवश्यकतानहींहोगी।यहकार्डकिसीभीजनसेवाकेंद्रमेंजाकर10रुपयेकाशुल्कदेकरबनवायाजासकताहै।

आंध्रप्रदेशपहलेतोएमपीदूसरेस्थानपर

राष्ट्रीयस्तरपरदिव्यांगलाभाॢथयोंकोयूडीआडीकार्डकालाभदिलानेमेंआंध्रप्रदेशपहलेस्थानपरहै।जहांलक्ष्यकेसापेक्षशतप्रतिशतकार्डबनानेकाकार्यपूराहोगयाहै।दूसरेनंबरपरमध्यप्रदेशमें89फीसदवतीसरेनंबरपरअंडमाननिकोबारमें83फीसदकार्डबनकरतैयारहोगएहैं।उत्तराखंडकाराष्ट्रीयस्तरपर32वांस्थानहै।

बागेश्वरमें35तोदेहरादूनमें1.93फीसदकार्डबने

उत्तराखंडमेंबागेश्वरजिलापहलेपायदानपरहै।यहां35फीसददिव्यांगोंकेकार्डबनगएहैं।जबकिदेहरादूनमेंअभीतकमात्र1.93फीसदकार्डबनसकेहैं।उत्तरकाशीमें1.12फीसद,चम्पावतमें2.97,टिहरीमें4.64,यूएसनगरमें4.07,नैनीतालमें20.13,हरिद्वारमें15.48फीसदकार्डबनपाएहैं।

संबंधितकेखिलाफकीजाएगीकार्रवाई

समाजकल्याणमंत्रीयशपालआर्यनेबतायाकियूडीआइडीकार्डकेबारेमेंविभागीयअधिकारियोंकोदिशानिर्देशदिएगएहैं।भविष्यमेंबेहतरप्रगतिनहींहुईतोदंडात्मककार्रवाईभीकीजाएगी।वहींसमाजकल्याणकेनिदेशकराजेंद्रकुमारकाकहनाहैकियूडीआइडीकार्डकीमॉनीटरिंगनियमितरूपसेकीजारहीहै।सभीजिलेकेसमाजकल्याणअधिकारियोंकोइसकाप्रचार-प्रसारकरनेवलाभदिलानेकेनिर्देशदिएगएहैं।