दिन-रात मेहनत कर 17 कर्मचारी दे रहे 2500 कोरोना जांच रिपोर्ट

जागरणसंवाददाता,चक्रपानपुर(आजमगढ़):कोरोनाकीबढ़तीदुश्वारियोंकेबीचराजकीयमेडिकलकॉलेजवसुपरफैसिलिटीअस्पतालअंतर्गतकोविड-19जांचलैबमेंड्यूटीरतकर्मियोंकीभीमुश्किलेंबढ़ीहैं।17कर्मचारीदिन-रातमेहनतकरढाईहजाररिपोर्टरोजानाजारीकररहेहैं।कोविडजांचलैबकीकुलइतनीहीक्षमताहै,जिसेशत-प्रतिशतपूराकरनेकोकर्मचारी18घंटेकामकररहेहैं।इसकेबावजूदसंक्रमणकेचरमपरजापहुंचनेकेकारणजांचरिपोर्टपेंडिगहोनेसेमरीजोंकोपरेशानीहोरहीहै।

माइक्रोबायोलॉजीविभागमेंस्थापितबीएसएल-2(आरटीपीसीआर)लैबमें2500नमूनोंकेकोविड-19जांचकीक्षमताहै।यहांरोजानाआजमगढ़सेअलग-अलगकरीबएकसेडेढ़हजारकेबीचसैंपलभेजेजातेहैं।माइक्रोबायोलॉजीकीविभागाध्यक्षडॉक्टरप्रतीक्षाश्रीवास्तव,लैबइंचार्जडॉक्टरआतोषत्रिपाठी,दोमाइक्रोबायोलॉजिस्टतथादोट्यूटर(जांचसहायक)केसाथजिलास्वास्थ्यसमितिद्वाराचयनित11टेक्नीशियनहैं।लैबइंचार्जडॉक्टरआतोषत्रिपाठीनेबतायाकिसुबहनौबजेशामपांचबजेतकतथाशामचारबजेसेलेकररात12बजेतकदोशिफ्तमेंकर्मचारीकरतेहैं।मंडलीयचिकित्सालयसेयहांसैंपललाएजातेहैं,जिसकेलिएउसकीरिसीविगदीजातीहै।जांचकोफिजिकलीकेसाथपोर्टलपरभीसैंपलहोनाआवश्यकहै।पोर्टलपरअपलोडनहोनेवालेनमूनेकोरिजेक्टकरदियाजाताहै।जांचकीरिपोर्टशासनद्वारामानीटरकिएजानेवालेकोविड-19पोर्टलपरउपलब्धकरादीजातीहै।रिपोर्टआनेमें8से12घंटेकासमयलगताहै।लेकिनयदिरिपोर्टपॉजिटिवहुईतोउसमेंदोघंटेकाअतिरिक्तसमयलगजातेहैं।