दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी: 22 को डाले जाएंगे वोट, 25 को होगी मतगणना, भ्रष्टाचार का मुद्दा हावी

नईदिल्ली,जागरणसंवाददाता।दिल्लीसिखगुरुद्वाराप्रबंधंककमेटी(डीएसजीएमसी)जैसीधार्मिककमेटीकाकार्यगुरुद्वारोंकासंचालनकरनाहै।लेकिन,दिल्लीकीराजनीतिमेंकमेटीकीराजनीतिकाभीअपनाएकविशेषमहत्वहै।इसलिएमुख्यसियासीदलोंकाइसकेचुनावपरभीकाफीनजररहतीहै।इसबारइसधार्मिककमेटीकेचुनावमेंभ्रष्टाचारकामुद्दाहावीहोगयाहै।जबकिकमेटीकार्यसिखोकीभलाई,गुरुद्वारोंकासंचालन,शिक्षाऔरस्वास्थ्यक्षेत्रमेंकार्यकरनाहोताहै।लेकिन,इसबारकेचुनावसेयहमुख्यमुद्देगायबहै।सभीदलएकदूसरेकोभ्रष्टाचारकेमुद्देपरघेरनेमेंजुटेहैं।अबमतदाताओंकारुझानकिसकीतरफहोगायहतो22अगस्तकेचुनावकेबाद25अगस्तकोमतगणनासेपताचलेगा।

लेकिन,चुनावसेपहलेभ्रष्टाचारकेआरोपोंकोलेकरगुरुद्वारेकीचुनावीराजनीतिमेंशामिलदलोंकेखिलाफमाहौलबनानेमेंजुटेहैं।चुनावमेंसबसेबड़ीचुनौतीसत्तारुढ़शिरोमणिअकालीदल(शिअद-बादल)कीसत्ताकोकाबिजरखनाहै।हालांकिसत्तारुढ़दलकेअध्यक्षमनजिंदरसिंहसिरसाकेखिलाफजारीहुएलुकआउटनोटिसकेबादशिअदबादलकीचुनौतीबढ़गईहै।सिरसापरकमेटीकेमहामंत्रीहोनेकेदौरानफंडकेदुरुपयोगकाआरोपलगाथा।इसकोलेकरदिल्लीपुलिसकीआर्थिकअपराधशाखानेमामलादर्जकियाथा।जिसकेबादबादपटियालाहाउसकोर्टमेंमामलेकीसुनवाईकेपुलिसनेसिरसाकेखिलाफलुकआउटनोटिसजारीहोनेकीजानकारीदीथी।

सिरसाकेसामनेआईचुनौतियोंकालाभउठानेऔरसत्ताकेलिएशिरोमणिअकालीदलदिल्ली(सरना)केअध्यक्षपमजीतसिंहसरनानेसिरसाकेखिलाफमोर्चाखोलरखाहै।इतनाहीनहींशिअद-बादलसेअलगहोकरजगआसरागुरुओट(जागो)नामसेसंगठनबनाकरमनजीतसिंहजीकेभीतालठोकरहेहैं।हालांकिमनजीतसिंहजीकेकोफंडकेदुरपयोगकोलेकरआरोपोंकेबादहीवर्ष2019मेंडीएसजीएमसीकाअध्यक्षपदकेसाथशिअदबादलसेभीअलगहोनापड़ाथा।इसकेबादहीतत्कालीनमहामंत्रीसिरसाकोकमेटीकाअध्यक्षबनायागयाथा।

येथावर्ष2017केचुनावकापरिणाम

शिरोमणिअकालीदल(शिअदबादल)नेलगातारदूसरीपरडीएसजीपीसपरकब्जाकियाथा।वर्ष2013केडीएसजीपीसीचुनावकीतरहहीदूसरीबारभीकमेटीके46मेंसे35वार्डोंपरजीतहासिलकीथी।वहीं,शिअददिल्ली(सरना)कोमात्र7सीटेंमिलपाईथी।दोसीटोंपरअकालतख्तकेपूर्वजत्थेदारभाईरंजीत¨सहकीपार्टीअकालसहायवेलफेयरसोसायटीनेजीतहासिलकीथीजबकिदोनिर्दलीयजीतेथे।