धरांगवाला की ढाणियों में कई लोगों के घरों में घुसा पानी

संवादसहयोगी,अबोहर:शहरकेसाथकईगांवोंमेंभीबारिशकेपानीकीनिकासीकाप्रबंधनहीहै।इसकारणलोगोंकेघरोंमेंपानीघुसजानेकेकारणउनकोभारीमुसीबतकासामनाकरनापड़रहाहै।

गांवधरांगवालामेंकईढाणियोंमेंबारिशकापानीदो-दोफुटघरोंमेंघुसगया।किसानसुरजीतसिंहनेबतायाकीबारिशकेकारणउनकेनरमेकीफसलपूरीतरहबर्बादहोगईहैवहींबारिशकापानीउनकेघरोंमेंघुसगयाहै।एकमकानकीछतगिरगई।उसमकानकेअंदरमौकेपरकोईनहींथाजिससेबचतहोगई।उन्होंनेबतायाकिबारिशकापानीइतनामकानकेअंदरआगयाकिउन्हेंघरछोड़करकिसीनजदीकीरिश्तेदारकेघररहनेकोमजबूरहोनापड़रहाहै।किसानलखविदरसिंहनेबतायाकिबारिशकापानीइतनाआगयाकिउनकेमकानोंमेंदरारेंआगई।बारिशकेकारणउसकीएकगायकीभीमृत्युहोगई।किसानहरफूलसिंहनेबतायाकिबारिशकापानीकेकारणउनकेघरकेअंदरघुसगया।इसकेकारणउन्होंनेअपनेबचावकोदेखतेहुएउन्हेंरिश्तेदारकेघररहनेकोमजबूरहोनापड़रहाहै।गांववासियोंनेबतायाकिकईऐसीढाणियांहै।जिसमेंबारिशकापानीलोगोंकेघरोंमेंप्रवेशकरगयाहै।उनलोगोंकेपासकिसीतरहकाकोईप्रबंधनहींहैइसलिएवहअपनेहीघरोंमेंहीठहरेहुएहैं।गांववासियोंनेबतायाकिपानीकीनिकासीनाहोनेकेकारणयहआफतआईहै।

गांवकेसरपंचद्वाराअपनेतौरपरपानीकीनिकासीकेप्रयासकिएजारहेहैंलेकिनलेकिनसरकारकीतरफउन्हेंकोईसुविधानाहोनेकेकारणउन्हेंकाफीदिक्कतआरहीहै।किसानोंनेसरकारसेमकानबनवानेवहफसलहुईनष्टकामुआवजेकीमांगकीहै।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!