देश की नागरिकता के बिना पहचान अधूरी

प्रतापगढ़:किसीभीनागरिककीपहचानदेशकीनागरिकताकेबिनाअधूरीहै।प्रत्येकव्यक्तिकीभूमिकादेशकीगरिमाकोबनाएरखनेकेलिएअत्यंतमहत्वपूर्णहै।जिम्मेदारनागरिककाराष्ट्रसेवामेंबहुतबड़ायोगदानहोताहै।हमारीपहचानहमारेदेशसेबनतीहै।हमसेहीहमारादेशहै।भारतहमारादेश,उसकेबादहम,हमारादेश,हमारेदेशकीबातप्रारंभहोतीहै।आदिअनादिकालसेस्थापितभारतीयसंस्कार,भारतीयमान,भारतीयसम्मान,भारतीयशिष्टाचारऔरभारतीयसांस्कृतिकविरासतदेशमेंहीनहीपूरीदुनियाकेसाथअपनेकोदीपोंकीलड़ीजैसासमाहितकिएहुएहै।

आजभारतजिसमुहानेंपरस्थितहैउसकीकल्पनाभरसेविश्वमंडलदिग्भ्रमितहोउठताहै।वहकिचितभावोंसेपहलेहीउठकरसोचनेपरविवशहोनेलगताहै।जिसदेशमेंहजारोंस्थानीयबोलियॉबोलीजातीहैं,गीतसंगीतएकदूसरेकोसमझभीनहींपातेहैंफिरभीभारतीयसांस्कृतिकविरासतकेसाथपरिलक्षितहोनेलगताहैकिहमभारतीयहैं।यहविचारणीयतोहैकिहमसभीदेशवासियोंकोअलगअलगहोकरभीएकताकेसूत्रमेंपिरोएहुएदेखकरअलगाववादीसोचरहेहुएलोगबारबारमुहंकीखाएहुएहैं।मनमेंसदैवहीयहसोचरखनीचाहिएकिहमपहलेभारतीयहैंबादमेंहम।अपनेकर्तव्योंकापालनईमानदारीसेकरनाप्रत्येकनागरिककीजिम्मेदारीहोनेकेसाथहीएकविकसितदेशकीआवश्यकमांगभीहै।केवलसरकारद्वारानियमकानूनबनानायाकार्यक्रमचलानापर्याप्तनहींहै।यदिहमअपनेदेशकोऊंचाइयोंकेशिखरपरदेखनाचाहतेहैंतोदेशकेप्रत्येकनागरिककोअधिकारोंकेसाथकर्तव्योंकाभीपालनकरनाहोगा।कोईभीदेशराज्यकीसीमाओंसेबंधेहुएभूखंडकानामनहींहोता,बल्किदेशवहांकेनागरिकों,सभ्यता,संस्कृतिसेमिलकरबनताहै।प्रत्येकनागरिककेअधिकारउसकेउत्तरदायित्वएवंदायित्वएकसाथचलतेहैं।उदाहरणकेलिएसड़कपरचलतेसमययदिहमयातायातकेनियमोंकापालनकरअपनाकर्तव्यनिभातेहैंतोयहहमारीव्यक्तिगतसुरक्षाकेसाथदूसरोंकोभीसुरक्षाकाअधिकारप्रदानकरताहै।एकस्वार्थरहितऔरदेशकेप्रतिकर्तव्यपालनकाउदाहरणसैनिकोंद्वारादेशकीसीमाओंकीसुरक्षाकेलिएदिन-रातडटेरहनाहै।वेहमेंऔरहमारेदेशकोविरोधियोंसेबचानेकेलिएचौबीसघंटेसरहदपरदेशकीरक्षाकेलिएतत्पररहतेहैं।शिक्षककेवलछात्रकाभविष्यहीनहीं,बल्किपूरेराष्ट्रकेभविष्यकानिर्माताहोताहै।शिक्षकोंकाकर्तव्यबच्चेकोसभीविषयोंकीसर्वोत्तमशिक्षादेकरउन्हेंएकअच्छाडाक्टर,इंजीनियरयाअधिकारीबनानेकेसाथ-साथउसेएकअच्छाइंसानबनानाभीहै।राष्ट्रकेप्रतिहमाराक्याउत्तरदायित्वहोनाचाहिए,इसकीझलकव्यक्तिविशेषकेकार्योंसेहीहोजातीहै।हमअपनेकर्तव्योंकोसमझउनकानिर्वाहकरराष्ट्रकेनिर्माणमेंयोगदानदेसकतेहैं।

-डॉ.सालिकरामप्रजापति,प्रभारीप्रधानाचार्य

राजकीयइंटरकालेज,चंदीगोविदपुर,प्रतापगढ़