डिपो में खड़ी हो गई रोडवेज बसें, हर दिन लाखों का फटका

जेएनएन,मुजफ्फरनगर।कोरोनाकीदूसरीलहरकेकारणलाकडाउनमेंआवाजाहीपूरीतरहसेबंदनहींहै।इसबारआने-जानेकेलिएनिजीवाहनोंकोपासकीभीअनिवार्यतानहींहै।इसकेचलतेकोरोनामहामारीसेबचावकोअधिकतरलोगपब्लिकबसोंसेदूरीबनाचुकेहैं।लाकडाउनसेअबतकमुजफ्फरनगरडिपोकीकरीब100बसेंडिपोमेंहीखड़ीरहकरमहामारीखत्महोनेकाइंतजारकररहीहैं,जिसकेचलतेअबतकअकेलेमुजफ्फरनगरडिपोकोकरोड़ोंकीआयकाफटकालगचुकाहै।

मुजफ्फरनगरपरिवहनडिपोसेप्रतिदिनबसोंकासंचालनहोरहाहै,लेकिनयहबसेंअन्यराज्योंमेंप्रवेशनहींकररहीहैं।इसकारणमुजफ्फरनगरडिपोसेमोहननगर,पुरकाजी,शामली,कैराना,लखनऊरूटपरहीबसेंसंचालितकीजारहीहैं।चालकऔरपरिचालकोंकीमानेंतोलंबेऔरछोटेरूटदोनोंपरहीलोडफैक्टरनिकालनापरेशानीसेकमनहींहै।यात्रियोंकीसुविधाओंकोदेखतेहुएनिगमअधिकारियोंनेकुछबसेंतोचलारखीहैं,लेकिनरूटपरयात्रियोंकीसंख्याबहुतकमहै।डिपोकेअलावारास्तेसेयात्रियोंकोबैठायाजारहाहै।कोविडनियमोंकापालनकरतेहुएयात्रियोंऔरकर्मचारियोंकीसुरक्षाकाध्यानरखागयाहै।इसकेबादभीयात्रीपब्लिकयातायातकोलेकरडरेहुएहैं।यहीकारणहैकियात्रियोंकीसंख्यासंचालितबसोंमेंबहुतकमहै।परिवारकेसाथतोयात्रीबसोंसेसफरकरहीनहींरहेहैं।मुजफ्फरनगरडिपोमेंनिगमऔरअनुबंधितबसोंकीसंख्या194है,जिसमेसेकेवल100हीबसोंकोरूटपरचलायाजारहाहै।

डिपोकोप्रतिदिन14लाखरुपयेतककीहानि

मुजफ्फरनगरडिपोकेवरिष्ठकेंद्रप्रभारीराजकुमारतोमरबतातेहैंकिआमदिनोंमेंउनकेडिपोकीबसोंकेसंचालनसेप्रतिदिन22लाखतककीआयहोतीथी,जोबसेंखड़ीहोनेऔरयात्रियोंकीसंख्यारूटपरघटनेसेनीचेआगईहै।इनदिनोंबहुतकोशिशकरनेकेबादभीजोबसेंरूटपरचलरहीहैं,उनसेकेवलसातसेआठलाखरुपयेतकहीआयअर्जितहोपारहीहै,जबकिखर्चज्योंकेत्योंखड़ेहुएहैं।

सभीसीटोंपरयात्रीबैठानेकेनिर्देश

निगमअधिकारियोंकेअनुसाररोडवेजकीआयपरअधिकअसरपड़नेकेचलतेशासनसेइसबारबसोंकीसभीसीटोंपरयात्रीबैठाकरसंचालनकरनेकेनिर्देशहैं।हालांकियात्रीकमहोनेसेयात्रियोंकेबैठनेमेंदूरीकायमहोरहीहै,लेकिनजबबसफुलहोतीहैतोसभीसीटोंपरयात्रियोंकोकोविडनियमोंकापालनकरातेहुएसेवाएंदीजारहीहैं।इसकारणभीयात्रीकईबारबसोंसेदूरीबनारहेहैं।