चुनौतीपूर्ण रहा समय, कोरोना योद्धाओं के नाम रहा यह वर्ष

समस्तीपुर।वर्ष2020केखत्महोनेमेंअबमहजकुछहीदिनबचेहुएहैं।यहसालकोविड-19संक्रमणकेचलतेइतिहासमेंअपनीपहचानबनानेजारहाहै।कईदशकोंबादऐसीमहामारीनेदुनियाकोचपेटमेंलिया।ऐसेमेंस्वास्थ्यविभागकीजिम्मेदारीअधिकबढ़गई।जोविभागकेलिएभीबेहदचुनौतीपूर्णरहालेकिन,स्वास्थ्यकर्मियोंकेजज्बेकोसभीनेसलामकिया।पूरावर्षस्वास्थ्यविभागकेकोरोनायोद्धाओंकेनामरहा।यहकोरोनाकालस्वास्थ्यविभागकोबड़ीसीखभीदेकरगयाहै।जिसकेबादकुछहदतकस्वास्थ्यसेवाओंकोसुधारागयाहै।फिरस्वास्थ्यसंस्थानोंमेंइलाजशुरूकरायागया।सदरअस्पतालमेंअल्ट्रासाउंड,डिजिटलएक्सरेयूनिटकीभीसौगातमिलगईहै।साफ-सफाईकेकारणडेंगूऔरचिकनगुनियाकानहींफैलाकहर

इसवर्षविभागमेंकईबदलावदेखनेकोजरूरमिलेलेकिन,अभीकईस्तरपरसुधारहोनेकीआवश्यकताहै।विशेषकर,ग्रामीणक्षेत्रोंमेंबेहतरचिकित्सादेनाइसमेंशामिलहोनाहै।हालांकि,इसवर्षकोरोनाकालमेंसाफ-सफाईकोलेकरलोगजागरूकहुए।यहीकारणरहाकिडेंगूऔरचिकनगुनियाजैसीगंभीरबीमारीकाअसरजिलेमेंअधिकदेखनेकोनहींमिलाहै।इसवर्षसंचारीरोगनियंत्रणअभियानकाफीहदतकसफलरहा।कोरोनाकालमेंइसअभियानकेअंतर्गतडेंगू,चिकनगुनियाऔरमलेरियाकेसाथ-साथकोरोनाकीरोकथामकरनेकेलिएभीलोगोंकोजागरूककियागया।

कोरोनापरनियंत्रणपानेकेदौरानसीएसकीगईजान

कोरोनाकीरोकथामकेलिएक्विकएक्शनटीमकागठनकियागया।इसटीमकोजहांकोरोनाकेसंदिग्धमरीजकीसूचनामिलती,वहतत्कालवहांपहुंचकरमरीजकीजांचकरतीरही।डोर-टू-डोरअभियानचलाकरकोरोनाकासर्वेकरायागया।जिसमेंचिकित्सकोंकीटीमोंनेलोगोंकेघर-घरजाकरलोगोंकेस्वास्थ्यकीजांचसमेतउनकाडाटाएकत्रकिया।कोरोनापरनियंत्रणपानेकेलिएतत्कालीनसिविलसर्जनडॉ.रतिरमणझानेशुरूसेहीकड़ीनिगाहबनाएरखी।इसीबीचवहखुदभीसंक्रमितहोगएथे।जिसकेबादइलाजकेक्रममेंउनकीमौतहोगई।फिरवहींइसवर्षभीविशेषज्ञचिकित्सकोंकीकिल्लतरही।

कोरोनावैक्सीनकीउम्मीद

कोरोनावैक्सीनआनेकीभीआसलगाईजारहीहै।इसलिएसरकारकेआदेशकेबादजिलेकीसभीकोल्डचेनकोदुरुस्तकरादियागयाहै।प्रशासनिकस्तरसेस्वास्थ्यकर्मियोंकोकोरोनाकीवैक्सीनलगानेकाप्रशिक्षणभीदियाजाचुकाहै।

आइसीयू,सीटीस्कैनकीनहींमिलरहीसुविधा

आमआदमीकीचिकित्साकेलिएजिलाअस्पतालहै।यहांबेहतरस्वास्थ्यसेवाएंमिलनेकीउम्मीदरहती।इसेध्यानमेंरखकरसदरअस्पतालमेंमरीजोंकोकईतरहकीसुविधाएंमिलनीशुरूहोगईहैं।हालांकि,मरीजोंकोआइसीयू,सीटीस्कैनकीसुविधानहींमिलरही।इसवजहसेगंभीरमरीजोंकोमजबूरीमेंप्राइवेटसेंटरकीओररुखकरनापड़रहा।वहीं,आइसीयूकीसेवाशुरूनहींहोनेकीवजहसेगंभीरमरीजोंकोप्राथमिकउपचारकेउपरांतरेफरकरदियाजाता।अतिरिक्तप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रोंमेंचिकित्सकोंकीपदस्थापनाकेसाथहीआइसीयूकेसमुचितसंचालनकीआसपूरीनहींहोपारही।जबकि,विभिन्नप्रखंडोंमेंनिर्मितसीएचसीमेंभीसुविधाओंकासमुचितविस्तारनहींहोपायाहै।जननीबालसुरक्षायोजना,सुरक्षितप्रसव,टीकाकरणसहितअन्यकार्यक्रमोंकेविस्तारकेसाथइसकीसफलताकोलेकरविभागअग्रसरतोहुआहै,लेकिनअपनेक्षेत्रमेंसमुचितस्वास्थ्यसुविधानहींमिलपानेकामलालहै।

सदरअस्पतालमेंआगसेबचावकोपुख्ताइंतजाम

सदरअस्पतालकेइंडोरवार्डमेंप्रवेशकोलेकरव्यवस्थामेंबदलावकियागयाहै।लक्ष्ययोजनाकेतहतसौंदर्यीकरणकेकामसेअस्पतालकीतस्वीरबदलगईहै।सदरअस्पतालमेंमरीजोंकोमहानगरोंकेनिजीअस्पतालकीतरहसुविधामिलनीशुरूहोगईहै।आगसेबचाववपरिसरसेआसानीसेनिकलनेकोलेकरफर्शपरमार्किंगकीगईहै।ऐसेमेंबोर्डपरअंकितरंगकेअनुसारसंबंधितवार्डमेंपहुंचनेकेलिएफर्शपरलाइनिगकीगई।इसमेंआगलगनेकेदौरानपरिसरसेनिकलनेवालोंरास्तोंकोचिह्नितकरदियागयाहै।

मरीजोंकीशिकायतवसुझावकोलगीपोटली

सदरअस्पतालमेंआनेवालेमरीजोंकीशिकायतऔरसुझावकोजाननेकेलिएशिकायतपेटीलगाईगईहै।शिकायतपेटीमेंसदरअस्पतालमेंमिलनेवालीसुविधासेसंबंधितसमस्याओंकोडालाजासकता।फिलहाल,सदरअस्पतालकेइमरजेंसीवार्ड,ओपीडी,इंडोरवार्डमेंयहव्यवस्थालागूकीगईहै।मरीजोंकोहरसंभवबेहतरचिकित्सासुविधादेनेकीकवायदतेजकरदीगईहै।जिलेकेसरकारीस्वास्थ्यसंस्थानोंमेंमरीजोंकोपहलेसेअधिकसुविधामिलरहीहै।आनेवालेसमयमेंवरिष्ठनागरिकोंकोजेरियाट्रिकवार्ड,मातृ-शिशुअस्पताल,पाइपलाइनसेऑक्सीजन,सिटीस्कैनकीभीसुविधामिलनीशुरूहोजाएगी।जिलेमेंअवैधरूपसेसंचालितअल्ट्रासाउंडकेंद्र,नर्सिंगहोमऔरपैथोलॉजीजांचकेंद्रोंपरभीशिकंजाकसाजारहा।गैरमानकस्तरपरसंचालितकेंद्रोंकोहरहालमेंबंदकरादियाजाएगा।

डॉ.सत्येंद्रकुमारगुप्ता

सिविलसर्जन,समस्तीपुर।