चुनाव जीतने के लिए देशभक्ति गानों से लुभा रहे प्रत्याशी

संसू,सिकटी(अररिया):हरकरमअपनाकरेंगे,ऐमेरेवतनकेलोगों,येदेशहैवीरजवानोंकाजैसेदेशभक्तिगीतोंकेमाध्यमसेपूराचुनावीतापमानगर्महै।चुनावकोलेकरप्रचारवाहनकेद्वाराबजायाजानेवालादेशभक्तिगीतलोगोंकोजरूरआकर्षितकररहाहै।लेकिनमतदातायहसमझनहींपारहेहैंकि15अगस्त,26जनवरी,गांधीजयंतीआदिकेमौकेपरबजनेवालायहगीतआखिरचुनावकेसमयदेशभक्तिगीतोंकेबीचहीचुनावप्रचारक्योंकिएजातेहैं?खैर,बातचाहेजोभीहो,लेकिनदेशभक्तिगीतोंकेबीच-बीचमेंविकासकीगाथाऔरउम्मीदवारकीबड़ाईज्यादासुनाईदेरहीहै।प्रचारवाहनद्वाराइनदिनोंसीमावर्तीक्षेत्रकीभूमिपरहरआधुनिकसुविधादिलानेकावादा(झूठायासच्चा)जरूरपरोसाजारहाहै।इधरभारतीयमतदातामंद-मंदमुस्कुरारहेहैं।वेभलीभांतिसमझरहेहैंकिआखिरकिनकेवादोंमेंदमहै।तभीतोवेचुप्पीसाधेहरप्रत्याशियोंकेवादाऔरइरादाकोभांपरहेहैं।देशभक्तिगीतबजानेकेदौरानबीचमेंप्रत्याशियोंकीवोटअपीलभीसुनाईदेतीहै।इसकेअलावाभोजपुरीकेरीमेकगीतभीखूबबजरहेहैं।गलियोंमेंसुबहछहबजेसेरात10बजेतकगानोंकीगूंजसुनाईदेरहीहै।एकप्रत्याशीकाप्रचारवाहनजाताहैतोदूसरेकाआजाताहै।तमामसरकारीयोजनाओंकालाभदिलानेऔरवार्डकीसूरतबदलदेनेकादावागानोंकेमाध्यमसेकियाजारहाहै।प्रत्याशीअपनीशिक्षा,स्वच्छछविऔरविकासकेदावोंकेदमपरजीतकीराहखोजरहेहैं।----वोटरोंकीउलझन----इधरधुआंधारप्रचारतथाजात-जमात,विकासयातात्कालिकआमदनीकेद्वंद्वमेंवोटरउलझगएहैं।मुद्देवहीहैं।विकासकीबातभीदोहराईजारहीहै।प्रत्याशीवोटरोंकोइसतरहसेउलझारहेहैंकिवोटहमेंदेंनहीतोदूसराखाजाएगा।हालांकिवोटरमौनहैं,देखकरशायदलगरहाहैकिवेमनबनाचुकेहैंकिकिधरजानाहैयाकिसेवोटकरनाहै।पंचायतचुनावमेंकुछडमीकंडीडेटहैंतोकुछसच्चेतोकुछवोटकटवा।कुछसीटोंकोछोड़देंतोअधिकतरकीहैसियतवोटरोंनेआंकरखीहै।---येमुद्देहैंजीवंत---चुनावप्रचारकेदौरानहरउम्मीदवारपेयजल,सड़क,बिजलीएवंसफाईआदिदुरुस्तकरानेकाआश्वासनदेरहाहै।यानीयेमुद्देआजभीजीवंतरहगएहैं।किसीभीउम्मीदवारनेबाढ़सेमुक्तिकीदिशामेंजरूरीकदमउठाने,व्यवस्थितश्मशान,कचराप्रबंधन,सड़कोंकोअतिक्रमणमुक्तकरने,बच्चोंकेलिएपार्क,खेलकामैदान,सुरक्षा,सीसीटीवी,क्लीनपंचायतजैसेमुद्दोंकोनहींउठाया।येबातेंसार्वजनिकनहींहोसकीं,जोकिहरपंचायतवासीकीजरूरतहै।