Corona Vaccination: वायरस के नए वेरिएंट के खतरे के बीच भारत ने 120.27 करोड़ डोज लगाए

दुनियाभरमें CoronaVirusकेएकनएवेरिएंटकोलेकरचिंताबढ़गईहै।इसबीचभारतमेंदुनियाकेसबसेबड़ेवैक्सीनेशनमेंराष्ट्रव्यापीटीकाकरणअभियान(nationwidevaccinationcampaign)केतहतअबतक120.27करोड़कोविडरोधीटीकेलगाएजाचुकेहैं।

भारतमेंदुनियाकेसबसेबड़ेवैक्सीनेशनमेंराष्ट्रव्यापीटीकाकरणअभियान(nationwidevaccinationcampaign)केतहतअबतक120.27करोड़कोविडरोधीटीकेलगाएजाचुकेहैं।पिछले24घंटोंमें83,88,824वैक्सीनखुराककेप्रशासनकेसाथभारतकाCOVID-19टीकाकरणकवरेज26नवंबरकीसुबह7बजेतक120.27करोड़(1,20,27,03,659)सेअधिकहोगयाहै।यह1,24,56,121सत्रोंकेमाध्यमसेहासिलकियागयाहै।

पिछले24घंटोंमें9,868रोगियोंकेठीकहोनेसेठीकहोनेवालेरोगियों(महामारीकीशुरुआतकेबादसे)कीसंख्याबढ़कर3,39,77,830होगईहै।नतीजतन,भारतकीरिकवरीदर98.33%हैजोमार्च2020केबादसेसबसेअधिकहै।पिछले24घंटेमें10,549नएमामलेसामनेआए।इससमयसक्रियमामले1,10,133हैं।वर्तमानमेंसक्रियमामलेदेशकेकुलसकारात्मकमामलोंका0.32%हैं,जोमार्च2020केबादसेसबसेकमहै।

देशभरमें कोरोनाटेस्टिंगकीक्षमताकाविस्तारजारीहै।पिछले24घंटोंमेंकुल11,81,246परीक्षणकिएगए।भारतनेअबतक63.71करोड़(63,71,06,009)परीक्षणकिएहैं।पूरेदेशमेंपरीक्षणक्षमताकोबढ़ायागयाहै,पिछले12दिनोंसेसाप्ताहिकसकारात्मकतादर0.89%​​1%सेकमहै।दैनिकसकारात्मकतादर0.89%बताईगई।पिछले53दिनोंसेदैनिकसकारात्मकतादर2%सेनीचेऔरलगातार88दिनोंसे3%सेनीचेबनीहुईहै।

भारतसरकार(मुफ्तचैनल)औरप्रत्यक्षराज्यखरीदश्रेणीकेमाध्यमसेअबतकराज्यों/संघराज्यक्षेत्रोंको133करोड़(1,33,44,55,000)सेअधिकवैक्सीनखुराकप्रदानकीजाचुकीहैं।22.70करोड़सेअधिक(22,70,43,626)शेषयानीबिनायूजकींCOVIDवैक्सीनखुराकअभीभीराज्यों/केंद्रशासितप्रदेशोंकेपासउपलब्धहैं।

दुनियाभरमेंइससमयकोरोनाकेनएवेरिएंटकोलेकरचिंताहै।यहसबसेअधिकम्यूटेशनवालावेरिएंटहै।इसलिएइससेवैज्ञानिकभीचिंतितहैं।यानीयहतेजीसेसंक्रमणफैलाताहै।इसवेरिएंटकोबी.1.1.529कहाजारहाहै।26नवंबरकोविश्वस्वास्थ्यसंगठन(WHO)नेएकबैठकबुलाईहै।इसवेरिएंटकोकोईनयानामदियासकताहै।जैसेएल्फ़ाऔरडेल्टावेरिएंटनामदिएगएथे।इसवेरिएंटकेअबतकके26मामलेसामनेआएहैं।यहतीनदेशोंबोत्सवाना,दक्षिणअफ्रीकाऔरहांगकांगमेंफैलचुकाहै।वैज्ञानिकोंकेअनुसारइसनएवैरिएंटमेंअबतक32म्यूटेशनदेखनेकोमिलेहैं।इसवेरिएंटकोदेखतेहुएकेंद्रसरकारनेभीसभीराज्योंकोअलर्टकियाहै।

"भारत'वसुधैवकुटुम्बकम'केदर्शनसेप्रेरितहैजिसनेहमेंअपनेसभीमित्रदेशोंकोकोविड-19टीके,एचसीक्यूऔरअन्यचिकित्सासामग्रीकोउपहारमेंदेनेकेलिएप्रेरितकियाहै।इसकेअलावा,भारतसभीउपस्थितदेशोंकोकोविशील्डऔरकोवैक्सिनकीआपूर्तिकरनेकोतैयारहै।”यहबातकेंद्रीयस्वास्थ्यएवंपरिवारकल्याणमंत्रीडॉ.मनसुखमांडवियाने25नवंबरकोलैटिनअमेरिकीऔरकैरेबियाईदेशों(ग्रुलैकसमूह)केराजदूतोंकेसाथअपनीबैठकमेंकही।उन्होंनेभारतमेंस्वीकृतछहटीकोंपरबातकी,जिनमेंसेदोस्वदेशीरूपसेविकसितहैं।82%भारतीयोंकोटीकेकीकमसेकमएकखुराकऔर44%भारतीयोंकोटीकेकीदोनोंखुराकदिएजानेकेसाथदेशमेंलगभग1.2अरबखुराकदीजाचुकीहैं।